नवांशहर

--Advertisement--

बीमा की पेमेंट रुकी पर सिविल कर रहा है इलाज

कायाकल्प योजना के तहत राज्य में पहला स्थान पाने वाले नवांशहर का सिविल अस्पताल में भगत पूर्ण सिंह स्कीम के पैसे न...

Danik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:55 AM IST
कायाकल्प योजना के तहत राज्य में पहला स्थान पाने वाले नवांशहर का सिविल अस्पताल में भगत पूर्ण सिंह स्कीम के पैसे न आने के बावजूद मरीजों का इलाज किया जा रहा है। सीनियर मेडिकल अधिकारी हरविंदर सिंह ने बताया कि प्रदेश सरकार पर यूनाइटेड इंश्योरेंस कंपनी का छह लाख रुपए पेंडिंग है, बावजूद इसके सिविल अस्पताल में भगत पूर्ण स्कीम के तहत इलाज के लिए आने मरीजों का इलाज किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अस्पताल में इस स्कीम के तहत आने वाले मरीजों के लिए विशेष प्रबंध है। उनके लिए विशेष वार्ड बनाए गए है।

वहीं, सूत्रों के अनुसार सरकार का खजाना खाली होने की वजह से एक साल से बीमा कंपनी का तकरीबन छह लाख रुपए बकाया है लेकिन अस्पताल अपने स्तर पर मरीज का इलाज कर रहा है।

नवांशहर का सिविल अस्पताल।

स्कीम के तहत इलाज और दवाइयां निशुल्क है

भगत पूर्ण स्कीम पिछली अकाली-भाजपा सरकार ने साल 2006 में गरीब वर्ग के लोगों के लिए शुरू की थी। इसके तहत स्कीम के लाभपात्र सरकारी अस्पतालों में अपना इलाज मुफ्त करवा सकते हैं। मरीज का ऑपरेशन व दवाइयां जैसी हर सुविधा निशुल्क है, इन सबका खर्च सरकार वहन करती थी। सरकार बीमा कंपनी के साथ अनुबंध है लेकिन पिछले एक साल से सरकार द्वारा बीमा कंपनी को इस स्कीम की राशि जारी नहीं की है।

Click to listen..