• Hindi News
  • Punjab
  • Nawashahar
  • Chamkaur sahib News government did not pay contractor work left in the middle construction of bella bridge in adhar for one year

सरकार ने ठेकेदार को नहीं की अदायगी, बीच में छोड़ गया काम, एक साल से अधर में बेला पुल का निर्माण

Nawashahar News - भास्कर संवाददाता| चमकौर साहिब पंजाब की कैप्टन सरकार का खजाना खाली हो गया है। इसका प्रमाण है बेला में 3 साल पहले...

Jan 10, 2020, 07:21 AM IST
Chamkaur sahib News - government did not pay contractor work left in the middle construction of bella bridge in adhar for one year
भास्कर संवाददाता| चमकौर साहिब

पंजाब की कैप्टन सरकार का खजाना खाली हो गया है। इसका प्रमाण है बेला में 3 साल पहले टूटा पुल जो कि आज भी अधर में है। इसके रिपेयर को बीच में ही छोड़ दिया गया। वजह, पुल का निर्माण कर रहे ठेकेदार की अदायगी न होने के कारण अाधे बने पुल के इर्द-गिर्द सरिया पक्की तरह वैल्डिंग करके पुल का काम आधे में छोड़ कर चले गए हैं। इसके चलते लोग कैप्टन सरकार तथा हलके के कैबिनेट मंत्री को कोस रहे हैं। बता दें कि 3 साल पहले टूटी पुली को नया बनाने के लिए चमकौर साहिब हलका विधायक व कैबिनेट मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने 3 करोड़ 40 लाख रुपए की लागत से 9 माह में तैयार होने वाले पुल का नींव पत्थर 15 जनवरी 2019 को रखा था। एक साल पूरा होने के बावजूद पुल का काम अधूरा है। पुल का निर्माण कार्य शुरू होने से अब तक पैसे की अदायगी न होने के कारण काम धीमी चाल से चल रहा है। जब पेमेंट ही नहीं मिली तो ठेकेदार ने काम बंद करना ही मुनासिब समझा अौर चला गया। कंपनी ने सूए से बनाए अस्थायी कच्चे रास्ते को कभी भी ठीक करना जरूरी नहीं समझा। क्षेत्र के लोगों ने जिला प्रशासन से मांग की कि जब तक पुल का काम अधूरा है, तब तक कच्चे रास्ते पर पत्थर डाल कर निकलने के लायक बनाया जाए। वहीं हिमाचल प्रदेश से आने वाले तथा मिट्टी, रेत से भरे टिप्परों के गुजरने पर सख्ती से पाबंदी लगाई जाए। क्षेत्र के समाजसेवी रास्ता ठीक करते थे। बरसात में कच्चे रास्ते में जब दोपहिया वाहन चालक फिसल कर गिरते थे या कार, ट्रक कीचड़ में फंस जाते थे तो पुल का निर्माण करने वाली कंपनी के मुलाजिम मूकदर्शक बनकर देखते रहते थे। बरसात के कारण सूए में बनाए आरजी कच्चे रास्ते पर मामूली टोल टैक्स बचाने के लिए हिमाचल प्रदेश से आने-जाने वाले बड़े वाहन, रेत, मिट्टी से भरे ओवरलोड टिप्परों के कारण गड्ढे पड़े हुए हैं जिसमें कारें, लोड ट्रक फंस जाते हैं। इससे दूसरों को भी परेशानी होती है।

9 महीने में होना था तैयार, साल बीतने के बावजूद पूरा नहीं हुआ

अस्थायी कच्चे रास्ते से गुजरते वाहन। (दाएं) बेला में निर्माणाधीन पुल जो पेमेंट न होने के चलते अधूरा है।

पेमेंट आने पर शुरू करवा दिए जाएगा काम : एसडीओ

इस संबंधी एसडीओ लखविंदर सिंह ने कहा कि 3 करोड़ 40 लाख रुपए के काम में से सवा करोड़ रुपए का काम ठेकेदार ने कर लिया है। तीन माह बरसात के कारण तथा सरकार द्वारा समय पर पैसे की अदायगी न होने के कारण पुल का काम अधूरा पड़ा है। रास्ते की खराबी से ज्यादा परेशानी बड़े वाहनों को आ रही है क्योंकि विभाग द्वारा जिला पुलिस मुखी को बड़े वाहनों के बेले की ओर से गुजरने पर पूर्ण तौर पर पाबंदी लगाने के लिए शिकायत की है लेकिन बड़े वाहन चालक कमालपुर टोल बैरियर से मामूली पैसे बचाने के लिए बेले की ओर से गुजरते हैं। इससे इस रास्ते की हालत ज्यादा खराब है। जब सरकार ठेकेदार की पेमेंट करेगी तो पुल का काम दोबारा से शुरू हो जाएगा।

Chamkaur sahib News - government did not pay contractor work left in the middle construction of bella bridge in adhar for one year
X
Chamkaur sahib News - government did not pay contractor work left in the middle construction of bella bridge in adhar for one year
Chamkaur sahib News - government did not pay contractor work left in the middle construction of bella bridge in adhar for one year
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना