• Hindi News
  • Punjab
  • Nawashahar
  • डीसी की ‘गुड़ती’ के बाद एमआर टीकाकरण ने पकड़ी रफ्तार
--Advertisement--

डीसी की ‘गुड़ती’ के बाद एमआर टीकाकरण ने पकड़ी रफ्तार

अफवाहों के बीच मीजल्स-रुबेला वैक्सीनेशन (एमआर) को लेकर लोगों के मन में नकारात्मक विचार थे लेकिन जब सिविल सर्जन और...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 03:40 AM IST
डीसी की ‘गुड़ती’ के बाद एमआर टीकाकरण ने पकड़ी रफ्तार
अफवाहों के बीच मीजल्स-रुबेला वैक्सीनेशन (एमआर) को लेकर लोगों के मन में नकारात्मक विचार थे लेकिन जब सिविल सर्जन और डिप्टी कमिश्नर अमित कुमार ने मीडिया के जरिए लोगों को पॉजीटिव संदेश (गुड़ती) दिया तो अभिभावक घरों से निकलकर बच्चों को एमआर वैक्सीनेशन लगवाना शुरू हो गए।

प्रशासन और सिविल सर्जन के प्रयास से वैक्सीनेशन लगाने में नवांशहर पंजाब में तीसरा स्थान पर आ गया है। पहले स्थान पर रूपनगर और पठानकोट दूसरा स्थान पर है। पंजाब हेल्थ विभाग की जारी लिस्ट के अनुसार रूपनगर को कुल 151056 मीजल्स-रुबेला (एमआर) का टारगेट मिला था और वहां पर अब तक 101757 बच्चों को वैक्सीनेशन लगाया जा चुका है। पठानकोट को एमआर वैक्सीनेशन लगाने का टारगेट 156102 मिला था, जिसमें से 95631 बच्चों को अब तक टीके लगाए जा चुके हैं। इसी तरह नवांशहर को 139688 मीजल्स-रुबेला टीकाकरण का टारगेट मिला था, उसमें अब तक 70 हजार 744 बच्चों को वैक्सीनेशन लगाया जा चुका है।

एमआर टीकाकरण के लिए जिले में 177 टीमें है। जिले को 5 ब्लाकों में बांटा गया है, जिनमें सुपरवाइजर-59, एएनएम-164, आशा-529 हैं। हर टीम में 1 एएनएम, 1 आशा वर्कर, 1 आंगनबाड़ी वर्कर, 1 टीचर या फिर वालंटियर को लगाया गया है।

अफवाहों को दरकिनार करके एमआर वैक्सीनेशन लगाने में नवांशहर को राज्य में तीसरा स्थान, अब तक 70 हजार 744 बच्चों ने लगवाए टीके

बच्चों को एमआर टीका लगातीं स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी।

इन प्राइवेट स्कूलों में लगी एमआर वैक्सीन

अब तक प्राइवेट स्कूलों में शिवालिक पब्लिक स्कूल, जाडला के स्कॉलर पब्लिक स्कूल, नवांशहर के कैंब्रिज स्कूल, बंगा के डैरिक इंटरनेशनल स्कूल, बलाचौर का कैंब्रिज स्कूल, ढाहां कलेरां के गुरु नानक मिशन सीनियर सेकेंडरी स्कूल, नवांशहर के आदर्श पब्लिक स्कूल और प्रकाश माडल स्कूल के बच्चों ने एमआर के टीके लगाए गए है।

इन स्कूलों में पेरेंट्स ने टीका लगवाने से किया मना

जिला एमआर टीकाकरण अधिकारी डॉ. दविंद्र ढांडा ने बताया कि औड़ के खालसा पब्लिक स्कूल, खानपुर के श्री गुरु राम राय पब्लिक स्कूल, भरोमजारा के सतगुरु रविदास पब्लिक स्कूल, मुकंदपुर के श्री गुरु हरिराय पब्लिक स्कूल, सुज्जों के सरकारी मिडल और प्राइमरी स्कूल के छात्रों के अभिभावकों ने टीका लगवाने से इंकार किया है। इसके अलावा बलाचौर के एमआर सिटी स्कूल व सर मैम एनएक्सटी जैन पब्लिक स्कूल, मुकंदपुर की साधु सिंह मेमोरियल शेरगिल अकादमी को पेंडिंग लिस्ट में डाला गया है क्योंकि इन स्कूलों ने विभाग से छात्रों को टीके लगवाने के लिए उनके अभिभावकों से बातचीत करने का समय मांगा है।

X
डीसी की ‘गुड़ती’ के बाद एमआर टीकाकरण ने पकड़ी रफ्तार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..