अध्यापक खरीदेंगे खिलौने, गुड़िया का घर

Nawashahar News - शिक्षा विभाग द्वारा जिले के प्री प्राइमरी क्लासिस के लिए 29 लाख 61 हजार रुपए की ग्रांट जारी की गई है। इसमें प्रति...

Nov 10, 2019, 08:30 AM IST
शिक्षा विभाग द्वारा जिले के प्री प्राइमरी क्लासिस के लिए 29 लाख 61 हजार रुपए की ग्रांट जारी की गई है। इसमें प्रति स्कूल सात हजार रुपए जारी किए जाएंगे। विभाग ने सख्त हिदायत दी गई है कि इस ग्रांट को सामान खरीदने के लिए ही इस्तेमाल किया जाए, अन्य किसी काम के लिए इन पैसों को न खर्च करें। सभी डीईओ को निर्देश है कि वे जल्द से जल्द स्कूलों को ग्रांट जारी करें। दरअसल पंजाब सरकार की ओर से राज्य के सभी प्राइमरी स्कूलों में 14 नवंबर 2017 को प्री प्राइमरी क्लासिस की शुरूआत की गई थी। मकसद था कि तीन से 6 साल के बच्चों को प्राइमरी एजुकेशन के लिए तैयार किया जाए। बता दें कि नवांशहर जिले में कुल 423 प्राइमरी स्कूल हैं।

हर स्कूल को मिलेंगे 7 हजार, 1500 की स्टेशनरी, 2000 से कराना होगा पेंट

नोटिफिकेशन अनुसार बच्चों को साइको मोटर स्किल्प, सामाजिक विकास और वैदिक विकास के लिए गतिविधियां करवाई जाएंगी। इस मटीरियल के लिए 1500 रुपए खर्च करने हैं। साइको मोटर स्किल्स के अधीन ब्लाक, बिल्डिंग ब्लाक, इंटरलाकिंग ब्लाक, पहिए, सीढ़ियां, टायर, विभिन्न आकार की गेंद आदि खरीदनी होगी। सामाजिक विकास के लिए डाकखाना, अस्पताल, घर में रखने का सामान, खिलौना, टेलीफोन बर्तन के खिलौने, कठपुतली, नकली करंसी नोट, गुड़िया, गुड़िया घर व शीशा खरीदेंगे। बौद्धिक विकास के लिए थैला, पजल्स, टच कार्ड, टैक्सचर बुक्स व विभिन्न आकार व रंग के कार्ड खरीदे जाएंगे। इसके अलावा 1500 रुपए से स्टेशनरी खरीदनी होगी, जिसमें पेंट, चार्ट पेपर, क्ले, काटन आदि शामिल हैं। 2000 रुपए से छत, पिल्लर व दीवारों को पेंट करना होगा। इसमें सब्जियां, फल, आकार आदि की अकृति पेंट करवानी होगी। 2000 रुपए से टीचर्स आकार, जावर आदि के कटआउट, कठपुतली, बच्चों की अटेंडेंस शीट आदि तैयार करेंगे। स्कूल प्रबंधन केवल वही चीजें खरीदे जो उनके स्कूल में नहीं है। इस सामान को खरीद कर प्रबंधन को 30 नवंबर तक इस्तेमाल सर्टिफिकेट देना होगा। डीईओ प्राइमरी सतिंदर वीर सिंह ने बताया कि स्कूलों को इस संबंध में निर्देश दे दिए गए हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना