30 साल से पड़े कूड़े के निपटारे को कौंसिल लेगी नई मशीन, 10 गुणा क्षमता ज्यादा होगी

Nawashahar News - मूसापुर रोड के डंप पर 30 साल से पड़े कूड़े के निपटारे के लिए पिछले साल लगाई गई बायो रेमीडियेटर मशीन फाॅर लेगसी बेस्ट...

Nov 10, 2019, 08:30 AM IST
मूसापुर रोड के डंप पर 30 साल से पड़े कूड़े के निपटारे के लिए पिछले साल लगाई गई बायो रेमीडियेटर मशीन फाॅर लेगसी बेस्ट के साथ कौंसिल ने नई व बड़ी मशीन लगाने की योजना बनाई है। डंप पर इस समय चल रही मशीन रोजाना तीन टन कचरे को ही साफ कर पा रही है। इस रफ्तार से काम चला तो डंप पर बना कूड़े का पहाड़ सालों तक खत्म नहीं हो पाएगा। इसीलिए कौंसिल ने अब बड़ी व तेजी से काम करने वाली मशीन बनवाने की योजना बनाई है जो रोजाना 30 टन कचरे को साफ करेगी। पुरानी मशीन से हलका गीला कूड़ा भी नहीं साफ किया जा सकता था जबकि नई मशीन ऐसी होगी जो बारिश के दो महीनों को छोड़ बाकी सभी दस महीने चल सकेगी। नगर कौंसिल प्रधान ललित मोहन पाठक और स्वच्छ भारत अभियान के ट्रेनर आशीष कुमार ने मशीन बनाने वाले कारीगरों से बातचीत कर ली है और उनके साथ डंप पर बने कूड़े के ढेर को खत्म करने की योजना पर विचार किया।

डंप पर 30 साल का कूड़ा है काम में तेजी जरूरी : पाठक

नगर कौंसिल के प्रधान ललित मोहन पाठक पाठक ने कहा कि मूसापुर रोड के डंप पर कूड़ा पिछले तीस साल से पड़ा है। कौंसिल ने खाद बनाने का काम एक साल पहले ही शुरू किया है। उन्होंने बताया कि इस समय तीस साल का कूड़ा हजारों टन कूड़ा पड़ा है, जिसमें प्लास्टिक बहुत मात्रा में है। पुरानी मशीन रोजाना करीब तीन टन कूड़ा ही साफ कर पाती है जबकि काम में तेजी जरूरी है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना