Hindi News »Punjab »Pathankot» किसी भी देश, धर्म का खजाना उसकी युवा पीढ़ी होती है : भाई अमरीक सिंह

किसी भी देश, धर्म का खजाना उसकी युवा पीढ़ी होती है : भाई अमरीक सिंह

सरबत खालसा की ओर से मुख्य प्रबंधक गुरदीप सिंह गुलाटी की देखरेख में गुरुद्वारा सिंह सभा ढाकी में गुरमत समागम का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:50 AM IST

किसी भी देश, धर्म का खजाना उसकी युवा पीढ़ी होती है : भाई अमरीक सिंह
सरबत खालसा की ओर से मुख्य प्रबंधक गुरदीप सिंह गुलाटी की देखरेख में गुरुद्वारा सिंह सभा ढाकी में गुरमत समागम का आयोजन किया गया। भाई अमरीक सिंह चिट्टी प्रचारक एसजीपीसी अमृतसर वालों ने गुरबाणी की मनमोहक तरीके से व्याख्या की। उन्होंने कहा कि सिख धर्म को बचाने के लिए युवा पीढ़ी को सिख धर्म से जोड़ने की जरूरत है। किसी भी देश, धर्म का खजाना उसकी युवा पीढ़ी होती है। भाई मोहन सिंह के रागी जत्थे ने कीर्तन कर संगत को निहाल किया। कार्यक्रम के अंत में गुरु घर का लंगर भी वितरित किया। इस अवसर पर गुरशरण सिंह, गुलजार सिंह, प्रिंसिपल रिटायर्ड मस्सा सिंह, फतेहपरीत सिंह, भजन लाल बलविंदर सिंह, ब्रिगेडियर एचएस बादरा, हरजिंदर सिंह खालसा, रजविंदर कौर, तेजविंदर सिंह, डीएस पीहजूरा सिंह चंडीगढ़ वाले, निरवैर सिंह, बलबीर सिंह, निर्मल कौर आदि मौजूद रहे

गुरबाणी करते भाई अमरीक सिंह

गुरुद्वारा ढाकी में गुरमति समागम में उपस्थित संगत। -भास्कर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pathankot

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×