• Hindi News
  • Punjab
  • Pathankot
  • Pathankot News asking herself to be sub inspector 8 lacs of havildar and 26 lakh for sub inspector recruitment dabocha

खुद काे सब-इंस्पेक्टर बताकर हवलदार लगाने के 8 लाख और सब-इंस्पेक्टर भर्ती करवाने के लिए मांगता था 26 लाख, दबोचा

Pathankot News - भास्कर संवाददाता | पठानकोट/सुजानपुर खुद काे सब-इंस्पेक्टर बताकर पंजाब पुलिस में हवलदार भर्ती करवाने के नाम पर 8...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:40 AM IST
Pathankot News - asking herself to be sub inspector 8 lacs of havildar and 26 lakh for sub inspector recruitment dabocha
भास्कर संवाददाता | पठानकोट/सुजानपुर

खुद काे सब-इंस्पेक्टर बताकर पंजाब पुलिस में हवलदार भर्ती करवाने के नाम पर 8 लाख व सब-इंस्पेक्टर भर्ती करवाने के लिए 26 लाख रुपए मांगने वाले एक युवक को पुलिस ने काबू किया है। पकड़ा गया रोहित शर्मा गांव मंगियाल का रहने वाला है। सुजानपुर थाने में पकड़े युवक के खिलाफ धोखाधड़ी समेत कई धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

वीरवार को डीएसपी अशवंत सिंह व थाना प्रभारी दलविंदर ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि पकड़े गए जाली सब-इंस्पेक्टर रोहित शर्मा से पूछताछ में सामने आया है कि वह 2015 में दसवीं में फेल हो गया था। रोहित को पुलिस में भर्ती होने का शौक था। रोहित ने 20 दिन पहले पुलिस की वर्दी सरना से बनवाई तथा बेल्ट-टोपी पठानकोट से खरीदी तथा फिर शूज बनवाएं। रोहित ने अपने दोस्तों को फोटो भी शेयर किए तथा अपने परिवार को भी विश्वास में लेकर बताया कि वह सब-इंस्पेक्टर भर्ती हो गया है। इसी दौरान उसने लाेगाें काे नौकरी लगवाने का झांसा देना शुरू कर दिया।

पुलिस में भर्ती होने का है शौक
खुद काे सब-इंस्पेक्टर बताने वाले युवक के बारे में जानकारी देती पुलिस।


आरोपी के एक दोस्त ने अपने परिचित को बताया था कि उसका दोस्त पंजाब पुलिस में नौकरी लगवा सकता है, जिस पर रोहित ने सुजानपुर में रहने वाले लड़के के परिवार से संपर्क किया तथा उनसे उनके बेटे के सर्टिफिकेट लिए तथा कहा कि हवलदार के लिए 8 लाख तथा सब-इंस्पेक्टर बनाने के लिए 26 लाख रुपए लगेंगे। इस पर परिवार ने उसे कहा कि वे इतने पैसे नहीं दे सकते। इस पर खुद काे सब-इंस्पेक्टर बताने वाले रोहित ने कहा कि उनके बेटे को पंजाब पुलिस में हवलदार लगवा देगा तथा उनसे 50 हजार की राशि भी 3 दिन पहले ले ली। इस दौरान राशि देने वालों ने जब इस संबंधी अपने परिचितों से बात की तो उन्हें शक हुआ कि उनसे ठगी हो रही है। जब एक दिन बाद रोहित दाेबारा 50 हजार रुपए की राशि की दूसरी किश्त लेने के लिए उनके घर आया तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दे दी, जिस पर सुजानपुर पुलिस के सब इंस्पेक्टर अश्विनी कुमार के नेतृत्व में पहुंची पुलिस ने रोहित को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान पकड़े युवक से उसकी वर्दी, दो मोबाइल तथा ट्रंक में रखे उक्त लड़के के सर्टिफिकेट बरामद कर लिए हैं। उन्होंने बताया कि पकड़े युवक रोहित के खिलाफ मामला दर्ज कर पूछताछ की जा रही है।

X
Pathankot News - asking herself to be sub inspector 8 lacs of havildar and 26 lakh for sub inspector recruitment dabocha
COMMENT