• Hindi News
  • Punjab
  • Pathankot
  • Pathankot News bin baati diya martyr39s wife is repeatedly saying that she had to come in april don39t know why ranjeet is coming so soon

बिन बाती दीया...शहीद की पत्नी बार-बार कह रही है अप्रैल में आना था, पता नहीं इतनी जल्दी क्यों आ रहे हैं रणजीत

Pathankot News - भास्कर संवाददाता | दीनानगर/चौंता भारतीय सेना की 45 राष्ट्रीय राइफल्स में तैनात दीनानगर के गांव सिद्धपुर के 26...

Jan 16, 2020, 08:10 AM IST
Pathankot News - bin baati diya martyr39s wife is repeatedly saying that she had to come in april don39t know why ranjeet is coming so soon
भास्कर संवाददाता | दीनानगर/चौंता

भारतीय सेना की 45 राष्ट्रीय राइफल्स में तैनात दीनानगर के गांव सिद्धपुर के 26 वर्षीय सिपाही रणजीत सिंह सलारिया जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के माच्छिल सेक्टर में एलओसी पर ड्यूटी दौरान हिमस्खलन की चपेट में आने से अपने तीन अन्य साथियों सहित शहादत का जाम पी गए। वह अपने पीछे प|ी, तीन महीने की बेटी अाैर माता पिता को छोड़ गए हैं। शहादत की खबर मिलते ही पूरे गांव में मातम छा गया। उनका पार्थिव शरीर कश्मीर में मौसम में खराबी के चलते बुधवार को घर नहीं पहुंच पाया। अब वीरवार को इसे श्रीनगर से प्लेन के जरिए अमृतसर या जम्मू एयरपोर्ट पर पहुंचाया जाएगा। वहां से सैन्य वाहन से शहीद के गांव पहुंचाया जाएगा। इसके बाद सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।

जम्मू-कश्मीर के माच्छिल में हिमस्खलन की चपेट में आकर दीनानगर का जवान शहीद

शहीद रणजीत सलारिया की फाइल फोटो।

अप्रैल में नन्हीं परी से दोबारा मिलने का वादा करके गया था, आज पहुंच सकती है पार्थिव देह

शहीद की प|ी की गोद में उसकी बेटी परी

रणजीत की पठानकोट की दीया से 26 जनवरी को हुई थी शादी

शहीद की प|ी दीया जिसके हाथों के चूड़े का रंग अभी फीका भी नहीं हुआ कि पति की शहादत को सुन वह सुन्न होकर पत्थर की मूरत बन गई। शादी को अभी एक साल भी पूरा नहीं हुआ कि वह सुहागिन से विधवा बन गई। शहीद सैनिक परिवार सुरक्षा परिषद के महासचिव कुंवर रविंदर सिंह विक्की ने जब उसे दिलासा दिया तो वह कहने लगी कि मेरा रणजीत आ रहा है मिलकर जाना। उसने तो कहा था कि अप्रैल में आउंगा। पता नहीं इतनी जल्दी क्यों आ रहा है। अभी नवंबर में ही तो छुट्टी काटकर गया है। शायद अपनी परी काे मिलने का दिल कर रहा होगा। अभी शादी के अरमान भी पूरे नहीं हुए थे कि दीया का सुहाग वतन पर कुर्बान हो गया।

अधूरा रह गया नया मकान बनाने का सपना
शहीद रणजीत सिंह की 26 जनवरी 2019 को पठानकोट के गांव रानीपुर बासा की लक्की कुमारी के साथ शादी हुई थी। शादी के बाद उन्होंने प|ी का नाम दीया रखा। 11 अक्तूबर 2019 को उनके घर बेटी ने जन्म लिया तो रणजीत घर आया। परिवार ने बेटी का नाम सानवी रखा, लेकिन रणजीत ने उसे परी बुलाता था। 9 नवंबर को वह छुट्टी काटकर गया। लोहड़ी से एक दिन पहले घर पर फोन कर हालचाल पूछा और अप्रैल में आने को कहा। शहीद रणजीत सिंह के पिता हरबंस सिंह कंकरीट मिक्सर प्लांट में बतौर ड्राइवर काम करते हैं। रुंधे गले से पिता कहते हैं कि रणजीत अक्सर कहता था कि वह ड्राइवर का काम छोड़कर आराम करें। मां रीना देवी घर का काम संभालती है। बड़ी बहन जीवन ज्योति का विवाह हो चुका है। छोटा भाई सुरजीत सिंह अभी अविवाहित है। शहीद की मां रीना रानी व बहन जीवन ज्योति ने बताया कि 2012 में प्लस टू के बाद रणजीत 2015 में सेना की 221 आरटी यूनिट में भर्ती हुआ। पिछले वर्ष देहरादून से शादी के लिए छुट्टी लेकर घर आया तो साथ ही उसे लीव इन पोस्टिंग के आॅर्डर भी थमा दिए। छुट्टी खत्म होने के बाद कश्मीर में राष्ट्रीय राइफल्स में ड्यूटी देने को रवाना हुआ और वहां उसकी पोस्टिंग कश्मीर के आतंक प्रभावित क्षेत्र कुपवाड़ा में हो गई।

कठिन परिस्थितियों में ड्यूटी निभाते हैं हमारे जांबाज : कुंवर विक्की

शहीद सिपाही रणजीत सलारिया के परिवार को ढांढस देने विशेष तौर पर पहुंचे शहीद सैनिक परिवार सुरक्षा परिषद के महासचिव कुंवर रविंदर सिंह विक्की ने बताया कि हमारे सीमा प्रहरी जांबाज कठिन परिस्थितियों में ड्यूटी निभाते हुए देश की सुरक्षा करते हैं। पाक द्वारा प्रायोजित आतंकवाद के साथ-साथ उन्हें खराब मौसम के बर्फीले आतंक से भी जूझते हुए अपने प्राण न्योछावर करने पड़ते हैं। पिछले दो महीने में ही हमारे 15 जवान इस बर्फीले तूफान का शिकार होकर शहादत का जाम पी चुके हैं। उन्होंने बताया कि शहीद रणजीत की पार्थिव देह बुधवार गांव पहुंचनी थी। मगर कश्मीर में खराब मौसम के कारण नहीं लाया जा सका। अब वीरवार को पहुंचने की संभावना है।

Pathankot News - bin baati diya martyr39s wife is repeatedly saying that she had to come in april don39t know why ranjeet is coming so soon
Pathankot News - bin baati diya martyr39s wife is repeatedly saying that she had to come in april don39t know why ranjeet is coming so soon
X
Pathankot News - bin baati diya martyr39s wife is repeatedly saying that she had to come in april don39t know why ranjeet is coming so soon
Pathankot News - bin baati diya martyr39s wife is repeatedly saying that she had to come in april don39t know why ranjeet is coming so soon
Pathankot News - bin baati diya martyr39s wife is repeatedly saying that she had to come in april don39t know why ranjeet is coming so soon
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना