नए डिवाइडर की बजाय जो हैं उन्हें चौड़ा कर रिफ्लेक्टर लगाएं, तो हादसे रुक जाएंगे

Pathankot News - सलारिया चौक के निकट बने डलहौजी रोड के अधूरे डिवाइडर पर आए दिन घटित हो रहे हादसों के कारण इसकी पहचान अब खूनी डिवाइडर...

Nov 10, 2019, 08:31 AM IST
सलारिया चौक के निकट बने डलहौजी रोड के अधूरे डिवाइडर पर आए दिन घटित हो रहे हादसों के कारण इसकी पहचान अब खूनी डिवाइडर के रूप में होने लगी है, जिसकी न तो नगर सुधार ट्रस्ट द्वारा रिपेयर करवाई जा रही है और न ही इस डिवाइडर के कारण हो रहे हादसों से बचाव के लिए कोई ठोस प्लानिंग कर कदम उठाया जा रहा है। लंबे समय से सलारिया चौक से डलहौजी रोड छोटे बिजली घर से भी पीछे तक पतला सा डिवाडर बना है। उसके आगे सिटी सेंटर माल तक का हिस्सा बिना डिवाइडर के खाली पड़ा है। चंद मीटर बने टूटे-फूटे डिवाइडर पर खासकर रात के समय कई वाहन चालक दुर्घटना का शिकार हो चुके हैं। गत दिनों रात के समय एक एक्सयूवी गाड़ी इस डिवाइडर पर जा चढ़ी थी, जिसमें दिल्ली का चालक बाल-बाल बच गया था। आखिर ट्रस्ट इतनी लापरवाही क्यों दिखा रहा है, यह बात लोगों को हजम नहीं हो रही। लोगों का कहना है कि ट्रस्ट को चाहिए कि वह इस डिवाडर की रिपेयर करवाकर इन्हें चौड़ा करें और इनपर रिफ्लेक्टर लगाए जाएं ताकि लोग हादसों का शिकार न हो। कुछेक दुकानदारों का यह भी कहना था कि यदि सलारिया चौक से सिटी सेंटर माल तक नया डिवाइडर बनता है तो दुकानदारों की दुकानदारी प्रभावित होगी क्योंकि ग्राहकों को गाड़ी लगाने के लिए पहले से ही सड़क पर जगह नहीं है।


नगर सुधार ट्रस्ट के ईओ मनोज शर्मा ने माना कि इस डिवाइडर पर दिन प्रतिदिन हादसे ज्यादा घटित होने लगे हैं। इनकी रिपेयर को लेकर वह चेयरमैन ट्रस्ट के साथ रिपेयर को लेकर वह जल्द ही विचार विमर्श कर हल निकालने का प्रयास करेंगे।

डलहौजी रोड पर बना डिवाइडर जो टूटकर हादसों का कारण बन रहा है।

नए िडवाइडर बनने से दुकानदारी पर पड़ेगा असर : दुकानदार




X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना