Hindi News »Punjab »Pathankot» पत्नी ने युवकों को बुलाकर करवाई पति की पिटाई, तीन दिन बाद पीजीआई ले जाते मौत, परिवार ने हाईवे किया जाम

पत्नी ने युवकों को बुलाकर करवाई पति की पिटाई, तीन दिन बाद पीजीआई ले जाते मौत, परिवार ने हाईवे किया जाम

भास्कर संवाददाता | पठानकोट/सरना गत रविवार को घर में घुस कर युवकों द्वारा किए गए हमले में जख्मी गांव पंडिता दी...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 03:45 AM IST

पत्नी ने युवकों को बुलाकर करवाई पति की पिटाई, तीन दिन बाद पीजीआई ले जाते मौत, परिवार ने हाईवे किया जाम
भास्कर संवाददाता | पठानकोट/सरना

गत रविवार को घर में घुस कर युवकों द्वारा किए गए हमले में जख्मी गांव पंडिता दी कोठी के 44 वर्षीय महिंद्रपाल की बुधवार को पीजीआई ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई। महिंद्रपाल के परिवार ने आरोप लगाया कि उसकी प|ी ने ही घर में कुछ युवकों को बुलाकर हमला करवाया था। गुस्साए परिजनों ने वीरवार को अमृतसर-जम्मू हाईवे पर मलिकपुर चौक में धरना देकर जाम लगा दिया। पिता राम अवतार, मां शकुंतला देवी, भाई विजय, भाभी सुनीता का आरोप है कि महिंद्रपाल की प|ी समेत तीन लोगों ने किसी साजिश के तहत मारपीट की। पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन देकर दो घंटे बाद धरना उठवाया। इसके बाद देर शाम महिंद्रपाल की प|ी सुमन निवासी यमुनानगर, राहुल निवासी सुजानपुर और दो अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 302 और 506 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया। हाईवे पर जाम लगने से चालकों को गर्मी में परेशान होना पड़ा।

वीरवार सुबह अमृतसर-जम्मू हाईवे पर धरना लगाकर बैठे कोठी पंडिता निवासी। -भास्कर

दिन में धरना, देर शाम कार्रवाई | पुलिस ने दिन में कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम खुलवाया। थाना प्रभारी इकबाल सिंह ने कहा कि देर शाम महिंद्रपाल की प|ी सुमन निवासी यमुनानगर, राहुल निवासी सुजानपुर और दो अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 302 और 506 के तहत मामला दर्ज किया है।

महिंद्रपाल और सुमन में 3 साल से चल रहा तलाक का केस, कोर्ट ने दिया था कुछ समय इकट्‌ठे रहने का आदेश

विजय ने बताया कि भाई महिंद्रपाल की 15 वर्ष पहले हरियाना के यमुनानगर की सुमन से शादी हुई थी। उनका 10 साल का बेटा है, लेकिन दोनों में घरेलू विवाद के चलते 3 वर्षों से अदालत में तलाक का केस चल रहा था। अदालत के आदेशानुसार महिंद्रपाल प|ी को मासिक खर्चा देता था। कोर्ट ने दोनों को सहमति बनाने को कुछ समय इकट्ठे रहने को कहा था। 25 दिन से महिंद्रपाल और सुमन सुजानपुर के खड्ड मोहल्ला में किराए के मकान में रहते थे। विजय का आरोप है कि रविवार को पति-प|ी में झगड़ा हो गया। सुमन ने दो युवकों को बुलाकर भाई से जमकर मारपीट की और जख्मी हालत में ऑटो में गांव पंडिता दी कोठी स्थित घर में भेज दिया। उन्होंने महिंद्र को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां से उसे अमृतसर रेफर कर दिया। अमृतसर में भी भाई का हालत गंभीर होने पर जालंधर भर्ती करवाया। जालंधर से पीजीआई भेज दिया। घायल महिंद्रपाल को पीजीआई लेकर जाते वक्त रास्ते में मौत हो गई। परिवार वालों का आरोप है कि महिंद्र को उसकी प|ी समेत तीन लोगों ने पीट-पीट कर मारा है। जबकि उन्हें पुलिस उन्हें कह रही है कि महिंद्र पाल ट्रेन की चपेट में आने से जख्मी हुआ था, जो कि गलत है। उनका आरोप है कि महिंद्रपाल को साजिश के तहत मारा गया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pathankot

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×