• Hindi News
  • Punjab
  • Pathankot
  • Pathankot News people of old shastri nagar reached the corporation with a supply bottle filled with dirty water show them by drinking and drinking

सप्लाई के गंदे पानी से भरी बोतल लेकर निगम पहुंचे ओल्ड शास्त्री नगर के लोग, बोले-पीकर दिखाओ साब

Pathankot News - भदरोआ रोड स्थित ओल्ड शास्त्री नगर की गली नंबर 2 में एक महीने से गंदा पानी की सप्लाई हो रही है। बुधवार को गली के लोग...

Jan 16, 2020, 08:11 AM IST
Pathankot News - people of old shastri nagar reached the corporation with a supply bottle filled with dirty water show them by drinking and drinking
भदरोआ रोड स्थित ओल्ड शास्त्री नगर की गली नंबर 2 में एक महीने से गंदा पानी की सप्लाई हो रही है। बुधवार को गली के लोग गंदे पानी की बोतल लेकर नगर निगम के दफ्तर पहुंच गए और वाटर सप्लाई व सीवरेज ब्रांच के इंचार्ज अश्वनी शर्मा को बोतल थमाकर गंदा पानी पीने के लिए कहने लगे। निगम अधिकारियों ने दो दिन के भीतर पाइप लाइन को ठीक करवा कर साफ पानी मुहैया कराने का आश्वासन देकर लोगों का गुस्सा शांत किया।

मोहल्ला के संजीव कुमार, बिशन दास, अनुज गुप्ता, विजय कुमार, दिलबाग सिंह, भजन कुमार, लविंदर कुमार, बिल्ला, बिट्टू, निर्मल और सुशीला ने बताया कि पिछले एक हफ्ते से पीने के पानी की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। पानी में सीवरेज का पानी मिक्स हो कर आ रहा है। सुरजीत कुमार ने बताया कि उनकी 14 साल की बेटी गंदा पानी पीने से बीमार है। डाक्टरों ने उसके लीवर में पीलिया की शिकायत बताई है। एक महीने से घर पर ही बैठी है। उन्हें घरेलू कामकाज के लिए ओल्ड कोर्ट कांप्लेक्स के पीछे ट्यूबवेल से बाल्टियां भरकर पानी लाना पड़ रहा है। लोगों ने बताया कि पीने के पानी की पाइपें 28 साल पुरानी हैं और पूरी तरह से खराब हो चुकी हैं।

नगर निगम दफ्तर में वाटर सप्लाई इंचार्ज अश्वनी शर्मा को पीने के गंदे पानी की बोतल देते ओल्ड शास्त्री नगर के लोग।

वाटर सप्लाई में मिक्स हो रहा सीवरेज का पानी

लोगों ने बताया कि सीवरेज का पानी वाटर सप्लाई की पाइपों में मिल जाता है। पानी में सीवरेज के कण साफ तौर पर देखे जा सकते हैं और बदबू से पीना दूर की बात है, उसे नहाने में इस्तेमाल भी नहीं लाया जा सकता है। गंदे पानी की वजह से लोग टायफायड और उल्टी-दस्त के शिकार हो रहे हैं, इनमें बच्चों की संख्या ज्यादा है। उन्होंने कहा कि पार्षद से शिकायत की जाती है तो वह पाइपें बदलने में 4 से 5 महीने का समय लगने का कहकर पल्ला झाड़ लेते हैं। वाटर सप्लाई विभाग के इंचार्ज अश्वनी शर्मा ने कहा कि लोगों की शिकायत जेई को बता दी गई है। पहले सीवरेज लीकेज को ढूंढा जाएगा। फिर पाइपों को भी बदला जाएगा।

X
Pathankot News - people of old shastri nagar reached the corporation with a supply bottle filled with dirty water show them by drinking and drinking

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना