नेपाल में बाढ़-भूस्खलन से 28 की मौत, 16 लापता; बिहार में कोसी समेत अन्य नदियां उफनी, 6 जिलों में बाढ़, 2 की मौत

Patiala News - भास्कर न्यूज | पटना/ काठमांडू नेपाल में लगागार हो रही भारी बारिश से आई बाढ़ और भूस्खलन से 28 लोगों की मौत हो गई है। 16...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:35 AM IST
Samana News - 28 dead 16 missing in flood landslide in nepal other rivers including kosi uphani floods in 6 districts 2 deaths
भास्कर न्यूज | पटना/ काठमांडू

नेपाल में लगागार हो रही भारी बारिश से आई बाढ़ और भूस्खलन से 28 लोगों की मौत हो गई है। 16 लोग लापता हैं। नेपाल पुलिस ने बताया कि करीब 10 लोग घायल हैं, जबकि 50 लोगों को बचा लिया गया है। बाढ़ से सबसे ज्यादा सिमरा जिला प्रभावित है, जहां 24 घंटे में 311 मिलीमीटर बारिश हुई। वहीं, जनकपुर में 245.2 मिमी। काठमांडू के कुछ हिस्सों में 5 फीट तक पानी भर गया है। नेपाल ने अगले 24 घंटे में हाई अलर्ट जारी किया है।

इधर, बिहार के उत्तर और नेपाल के तराई क्षेत्रों में हो रही लगातार बारिश के बाद कोशी, गंडक, बूढ़ी गंडक, गंगा और बागमती नदियां के उफान पर हैं। इससे सीमामढ़ी, श्योहर, पूर्वी चंपारण, अररिया, किशनगंज और मधुबनी जिलों में बाढ़ आ गइ है। बाढ़ से शनिवार को किशनगंज में दो बच्चों की मौत हो गई। सीतामढ़ी के सुप्पी प्रखंड में बागमती नदी पर बना बांध टूट गया है। इससे कई गांवों में पानी भर गया। उधर, सुपौल में कोसी महासेतु के बगल में बांध टूटने से 60 गांवों में पानी भर गया। पूर्वी चंपारण, अररिया, किशनगंज और सीतामढी के स्कूलों की 15 जुलाई तक छुट्‌टी कर दी गई है। यूपी के प्रयागराज में गंगा का पानी शहर में पहुंचने बाढ़ जैसे हालात हैं।

नेपाल

115.2 मिमी

बारिश काठमांडू में हुई। शहर में 5 फीट तक पानी।

बिहार

तस्वीर बिहार के पूर्वी चंपारण की है। यहां 3 दिन से बारिश हो रही है। 24 घंटे में 214 मिमी बारिश हुई। इससे गंडक नदी का जलस्तर बढ़ गया है। प्रशासन ने हाईअलर्ट घोषित कर धारा 144 लगा दी है।

पूर्वी चंपारण में तीन दिन से बारिश, हाईअलर्ट घोषित

असम

तस्वीर असम के मोरीगांव की है। वहां 90 गांव का संपर्क शहर से कट गया है। राज्य में 4 और मिलाकर अब 21 जिले बाढ़ का सामना कर रहे हैं। करीब 8.7 लाख लोग प्रभावित हुए हैं।

21 जिले बाढ़ की चपेट में, 8.7 लाख लोग प्रभावित

हिमाचल

सोलन में पहाड़ियों से गिरा मलबा, सड़क पर खड़ी गाड़ियां दबीं... इस मॉनसून की पहली भारी बारिश शनिवार को हुई। लैंडस्लाइडिंग से 50 से ज्यादा सड़कें बंद हो गईं। सबसे ज्यादा ग्रामीण सड़कें प्रभावित हुई हैं। कंडाघाट-चायल रोड भी मलबा आने की वजह से कई घंटे बंद रहा। साधुपुल में पहाड़ से आया मलबा एक होटल में घुस गया, जिससे वहां काफी नुकसान हुआ है। कई गाड़ियां भी इसमें दब गईं। चिंतपूर्णी में तेज बारिश की वजह से कई घरों में पानी घुस गया। नदियों व खड्‌डों का जलस्तर काफी बढ़ गया है। लोगों को इनके नजदीक न जाने की सलाह दी गई है। नाथपा-झाकड़ी पावर प्रोजेक्ट के डैम में भी जलस्तर बढ़ गया है।

Samana News - 28 dead 16 missing in flood landslide in nepal other rivers including kosi uphani floods in 6 districts 2 deaths
Samana News - 28 dead 16 missing in flood landslide in nepal other rivers including kosi uphani floods in 6 districts 2 deaths
Samana News - 28 dead 16 missing in flood landslide in nepal other rivers including kosi uphani floods in 6 districts 2 deaths
X
Samana News - 28 dead 16 missing in flood landslide in nepal other rivers including kosi uphani floods in 6 districts 2 deaths
Samana News - 28 dead 16 missing in flood landslide in nepal other rivers including kosi uphani floods in 6 districts 2 deaths
Samana News - 28 dead 16 missing in flood landslide in nepal other rivers including kosi uphani floods in 6 districts 2 deaths
Samana News - 28 dead 16 missing in flood landslide in nepal other rivers including kosi uphani floods in 6 districts 2 deaths
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना