‘इफ्तार व सेहरी में नमक-चीनी, नींबू पानी का घोल लें, प्यास कम लगेगी’

Patiala News - रमजान के महीने में गर्मी लगातार बढ़ रही है। तापमान बढ़ने व हवा में नमी के कारण पसीना ज्यादा निकलता है। एेसे में घर...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:21 AM IST
Patiala News - 39salt sugar take lemonade of water and thirst will look less39 in iftar and sehri
रमजान के महीने में गर्मी लगातार बढ़ रही है। तापमान बढ़ने व हवा में नमी के कारण पसीना ज्यादा निकलता है। एेसे में घर में रहने पर भी पसीना बहता रहता है अाैर शरीर में एलेक्ट्रोलाइट की कमी हाे जाती है। एेसी स्थिति में राेजा रखनेवालाें के लिए स्वास्थ्य की दृष्टि से भी कई परहेज जरूरी हैं।

हाेम्याेपैथ चिकित्सक डॉ. केअारएस थिंद बताते हैं कि इफ्तार व सेहरी में एेसी चीजें लें जाे शरीर में पानी का संतुलन बनाए रखे। शाकाहार लेना बेहतर रहेगा। मांसाहार व मसालेदार चीजाें से परहेज करना चाहिए। फल का अधिक से अधिक सेवन करें। डायरिया या चिकन पाॅक्स हाेने अथवा लू लगने पर राेजा छाेड़ दें। वाेमिटिंग हाे ताे सतर्क हाे जाएं। पुन: स्वस्थ हाेने पर अाप राेजा रख सकते हैं। डायबिटीज, ब्लड प्रेशर के मरीज राेजा रखें ताे पूरा परहेज करें। अन्यथा, परेशानी हाे सकती है।

राेजा रखने वालाें के लिए कुछ जरूरी सलाह | इफ्तार व सेहरी दाेनाें समय पानी पर्याप्त मात्रा में लें, पानी में ग्लूकोज या इलेक्टोरल पाउडर डालकर लें, नींबू-चीनी-नमक-पानी का घोल लें ताे बेहतर रहेगा, पानी वाले फल पपीता, तरबूज, खीरा फायदेमंद रहेंगे, इनसे शरीर काे पानी पूरा मिलेगा, प्यास कम लगेगी, शाकाहार लें अाैर मांसाहार व मसाले से परहेज करें।

रमजान का पहला अशरा पूरा, मगफिरत का अशरा शुरू | रमजान के पहले 10 दिन रहमत का अशरा पूरा हाे गया है। अब शुक्रवार से दूसरा अशरा मगफिरत का शुरू हाेगा। पुराना बिशन नगर स्थित मस्जिद के मौलवी के मुताबिक रमजान महीने के 30 दिन काे तीन अशरे में बांटा गया है। अखिर अशरा काे दाेजख की अाग से निजात का बताया गया है। रमजान का दूसरा अशरा शुरू हाेते ही मार्केट में ईद की खरीदारी की चहल पहल शुरू हाे गई है। वहीं सेहरी व इफ्तार के लिए भी लाेग खजूर व फल की दुकानाें पर जुट रहे हैं।

X
Patiala News - 39salt sugar take lemonade of water and thirst will look less39 in iftar and sehri
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना