--Advertisement--

मां लेने गई थी मिठाई, दुलार के बहाने चुरा ले गई बच्चे को अज्ञात महिला

शहर के अस्पताल के महिला वार्ड में अनजान महिला सोमवार को एक दिन का बच्चा उठाकर फरार हो गई।

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 08:17 AM IST
mother was taken to the sweet, the stolen child had been stolen

पटियाला. शहर के अस्पताल के महिला वार्ड में अनजान महिला सोमवार को एक दिन का बच्चा उठाकर फरार हो गई। बच्चा चोरी होने का पता चलते ही अस्पताल प्रबंधन और पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगालनी शुरू कर दी आैर चश्मदीदों के बयान लिए लेकिन रात 11 बजे तक बच्चा उठाने वाली महिला की पहचान हो पाई और ही लापता बच्चे का कोई सुराग मिल सका।

- इधर चोरी हुए बच्चे के घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल है। बच्चे की मां संदीप कौर समेत वार्ड में दाखिल अन्य महिलाओं ने बताया कि चोरी करने वाली महिला ने घटना को अंजाम देने से पहले वार्ड में आकर पूछा कि मुंडे किन्नां दे होए।

- जिस वार्ड में संदीप एडमिट है, वहां रविवार को 6 डिलवरी हुई थी। इनमें 4 के लड़का और 2 के यहां लड़की पैदा हुई थी। चोरी करने वाली महिला ने रेकी करके के बाद दोपहर पौने 3 बजे महिला के पास गई आैर बोली कि आपको बच्चा सुलाना नहीं आता।

- उसने बच्चे को गोद में लेकर पुचकारना शुरू किया आैर धीरे से वहां से निकल गई। समाना के गांव मवीकलां की रहने वाली संदीप कौर को 7 जनवरी को लड़का हुआ।

- महिला के पति हरजिंदर फर्नीचर का काम करते हैं, जबकि परिवार जमींदार है। डिलीवरी के लिए संदीप अपने मायके गांव रखड़ा आई हुई थी। डिलीवरी के बाद उसके साथ पिता विक्की, भाई कर्णवीर और ननद कुलजीत कौर साथ थी।

हंगामे के बाद एमएस अंजु ने बुलाई पुलिस
- बच्चागुम होने पर अस्पताल में हंगामा शुरू हो गया। शोर मचने पर माता कौशल्या अस्पताल की एमएस डॉ. अंजु गुप्ता मौके पर पहुंची और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आते ही सीसीटीवी कैमरे चेक किए तो महिला दो बार सीटीवी कैमरे में नजर आई पर चेहरा साफ नहीं दिखा। चूंकि अस्पताल के पिछले गेट का रास्ता बंद है, इसलिए साफ है कि महिला मेन गेट से ही निकली थी।

- दैनिक भास्कर ने इसी वार्ड में चोरी करने वाली महिला को देखने वाले 2 चश्मदीद ढूंढ़े। इसी वार्ड में खुशपुरा निवासी ललिता ने बताया कि उक्त चोर महिला दो बार उसकी बेटी पूजा के नवजात बच्चे के पास आई।

- ठीक संदीप की तरह थक जाने का बहाना लेकर बच्चा मांगा, लेकिन उन्होंने अपना बच्चा उसे देने से इंकार कर दिया। वहीं इसी वार्ड में दाखिल अपने रिश्तेदार के पास आई हरियाणा से आई रूसी ने भी बताया कि पहले उक्त चोर महिला उनके रिश्तेदार के बच्चे को लेने आई। महिला लाल चुन्नी और काला शॉल डाले हुए थी। उन्होंने भी बच्चा देने से मना कर दिया।
पुलिस जांच में जुटी, रात 11 बजे तक नहीं मिला बच्चा
- पुलिसने सूचना पर तुरंत नाके लगाकर वाहनों की चैकिंग शुरू कर दी लेकिन रात 11 बजे तक बच्चा नहीं मिल पाया था। बच्चे को लेकर पुलिस ने अस्पातल के आस-पास के सीसीटीवी कैमरे भी खंगाल रही है।
-सौरभजिंदल, डीएसपी वन


सिक्योरिटी के बावजूद बच्चा ले गई महिला
- माताकौशल्या अस्पताल में मात्र सिक्योरिटी के 10 मुलाजिम है। जो सभी ब्लॉक के मेन गेट में रहते हैं। यह बच्चा सी ब्लॉक से चोरी हुआ। उस वक्त मेन गेट में 2 मुलाजिम तैनात थे। सभी ब्लाक और लिफ्ट में सिक्योरिटी रहती है, वार्डों में रात में गार्ड रहते हैं।
- मां संदीप कौर ने बताया मैं आराम कर रही थी, बाहर धूप खिली थी तो परिजनों को धूप सेंकने पार्क में भेज दिया। मां पास थी पर मिठाई लेने चली गई। मेरा बच्चा मेरी बाजू पर सिर रख सो रहा था।

- इतने में एक महिला आई,मैं उसे जानती नहीं थी। वह मेरे पास खड़ी हो गई। महिला ने मुझे कहा कि भैण तेरी बांह थक गई होणी, काका मैं चुक लैनी आं। पहले तो वह बच्चे गोद में उठाकर बेड के साथ खड़ी रही, फिर थोड़ा दूर जाकर बरामदे में घूमने लगी। मैने एक अटेंडेंट को बाहर जाकर बच्चा लाने को भेजा, लेकिन महिला नहीं मिली। मैने नर्स को बताया तो उसने मेरी मां को फोन किया।

X
mother was taken to the sweet, the stolen child had been stolen
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..