--Advertisement--

पीयू के 560 मुलाजिमों का 19.38 लाख पीएफ पेंडिंग

पंजाबी यूनिवर्सिटी में ठेकेदारी सिस्टम के अंडर काम कर रहे मुलाजिमों को 2 साल से पीएफ नहीं मिला है। पीयू द्वारा...

Danik Bhaskar | Feb 01, 2018, 03:10 AM IST
पंजाबी यूनिवर्सिटी में ठेकेदारी सिस्टम के अंडर काम कर रहे मुलाजिमों को 2 साल से पीएफ नहीं मिला है। पीयू द्वारा इंडियन सिक्योरिटी सर्विस लुधियाना को 3 साल का सिक्योरिटी गार्ड्स, सफाई सेवकों व सेवादारों का ठेका दिया गया था। जोकि 1 अप्रैल 2014 से 31 मई 2017 तक चला। आउटसोर्सिंग इंप्लाइज यूनियन के वाइस प्रेसिडेंट अरविंदर सिंह ने बताया कि उस समय के ठेकेदार ने नवंबर 2015 से 560 मुलाजिमों का 19 लाख 38 हजार रुपए का पीएफ नहीं दिया। अरविंदर द्वारा सबूत पेश किए जाने के बाद ठेकेदार युगराज सिंह संधू ने यूनिवर्सिटी प्रशासन के सामने माना था कि उसने फंड ले लिया है लेकिन जमा नहीं करवाया। और 2 दिन में फंड जमा करवाने की बात कही थी। लेकिन 2 साल बाद भी मुलाजिमों को फंड नहीं दिया गया है। रजिस्ट्रार मनजीत सिंह निज्जर ने कहा कि मुलाजिमों को उनकी मेहनत के पैसे मिलने चाहिए और वह वीरवार फाइनांस अफसर से इस संबंधी बात करेंगे। उन्होंने कहा कि एजेंसी द्वारा जमा की गई सिक्योरिटी अभी यूनिवर्सिटी के पास ही है। अभी लुधियाना की सिक्योरिटी एजेंसी को एनओसी नहीं दिया गया है।