Hindi News »Punjab »Patiala» कार पेड़ से टकराई, छत तक उखड़ी, बैक सीट पर बैठे चारों दोस्त उछलकर 10 फीट दूर गिरे, 3 के सिर पोल से टकराए

कार पेड़ से टकराई, छत तक उखड़ी, बैक सीट पर बैठे चारों दोस्त उछलकर 10 फीट दूर गिरे, 3 के सिर पोल से टकराए

दोस्त की बहन की डोली विदा कर बठिंडा से पटियाला आ रहे 6 युवकों की कार समाना-संगरूर राेड एविएशन क्लब के पास रविवार...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:20 AM IST

दोस्त की बहन की डोली विदा कर बठिंडा से पटियाला आ रहे 6 युवकों की कार समाना-संगरूर राेड एविएशन क्लब के पास रविवार सुबह 5.30 बजे जानवर आगे आने से (जैसा जख्मी चन्नप्रीत ने बताया) असंतुलित हो दो पेड़ों को चीरते हुए चकनाचूर हो गई। अंदर बैठे 6 युवकों में से चार उछलकर 10 फीट सामने लगे सीमेंटेड पोल से टकराए आैर मौके पर ही दम तोड़ दिया। कार के एयरबैग खुलने से आगे बैठे दो युवकों की जान बच गई। सभी महिंदरा कॉलेज के स्टूडेंट्स थे। कार इतनी जोर से टकराई थी कि 4 नाैजवान निकलकर 10 फीट की दूरी पर जा गिरे आैर सामने लगे पोल से सिर से बल टकराए, सिर में चोट के चलते तीनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। एक युवक तो 10 फीट ऊंची कंटीली तार चीरकर एविएशन क्लब की बाउंड्री में गिरा। गाड़ी पुर्जे-पुर्जे में बिखर गई। 6 स्टूडेंट्स में से 4 नाैजवान गाड़ी में पीछे बैठे थे। चन्नप्रीत ड्राइविंग कर रहा था आैर जश्नदीप सिंह उसके साथ बैठा था। पीछे बैठे नवकिरण, जगजीवन, लवप्रीत, रमन की माैत हाे गई।

हादसे की भयावहता केवल तस्वीर से देखिए| कार का इंजन तक बॉडी से अलग हो गया

यह 6 लोग थे गाड़ी में...ड्राइविंगकर रहा चन्नप्रीत बखतगढ़ बरनाला का, जशनदीप सिंह फेज 2 मोहाली, नवकिरण सिंह दोदेवाल जिला अबोहर, जगजीवन बरेटा जिला मानसा, लवप्रीत सिंह लहरा मोहब्बत बठिंडा का, रमन गांव फाजिल्का का है।

नवकिरण को रोका था...नवकिरणके पिता सारस सिंह ने बताया कि बेटे को शादी में जाने से रोका था। पहले पता चला कि हादसे से पहले नवकिरण दूसरी गाड़ी में था। लेकिन संगरुर रोड बाईपास के पास स्विफ्ट गाड़ी में बैठ गया। इसके बाद हादसे की खबर मिली।

घर में बड़ा था जगजीवन...बरेटाका रहने वाला जगजीवन घर में बड़ा था। यह महिंदरा कॉलेज में एग्रीकल्चर का स्टूडेंट्स था। घर में एक छोटा भाई है।

इकलौता बेटा था लवप्रीत......लवप्रीतसिंह (बठिंडा) घर में इकलौता था। अब मां आैर बहन बचे हैं। पिता की मौत हो चुकी है।

पिता रह गया अकेला...रमन कंबोज फाजिल्का के ताया के बेटे ने बताया कि रमन इकलौता था। चाची का कुछ महीने पहले ही देहांत हुआ है। अब चाचा अकेले रह गए हैं

कार की रफ्तार इतनी थी कि एक युवक छत फाड़ कर कंटीली तार के पार गिरा

महिंदरा काॅलेज स्टाफ ने दुख जताया...हादसे की सूचना मिलते ही महिंदरा काॅलेज स्टाफ अस्पताल पहुंचा आैर परिजनाें के साथ दुख साझा किया। सोमवार सुबह काॅलेज स्टूडेंट़्स साथियों को श्रद्धांजलि देंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patiala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×