इमरान खान के निर्णय को भारतीयों पर अहसान बताने पर सिद्धू से भाजपा खफा

Patiala News - पंजाब से कांग्रेस विधायक अाैर पूर्व मंत्री नवजाेत िसंह सिद्धू फिर विवादाें में हैं। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री...

Nov 11, 2019, 08:36 AM IST
पंजाब से कांग्रेस विधायक अाैर पूर्व मंत्री नवजाेत िसंह सिद्धू फिर विवादाें में हैं। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की तारीफ करने पर भाजपा ने उनपर हमला बाेला है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने रविवार काे कहा, “सिद्धू का पाकिस्तान की सराहना करना तथा इमरान का गुणगान करना और भारत के बारे में खराब बोलना देश का अपमान है। सोनिया गांधी और राहुल गांधी को अपने करीबी नेता के व्यवहार के बारे में निर्णय लेना चाहिए।’ उन्होंने करतारपुर काॅरिडाेर खाेलने के इमरान खान के निर्णय को भारतीयों पर ‘अहसान’ बताने के लिए भी सिद्धू पर हमला बाेला। सिद्धू ने काॅरिडाेर के उद्धाटन कार्यक्रम में इमरान खान काे ‘बब्बर शेर’ और ‘शहंशाह’ बताया था। सिद्धू ने कहा था, “क्या मिलेगा किसी को मारकर जान से/मारना हो तो मार डालो एहसान से/दुश्मन मर नहीं सकता कभी नुकसान से/और सर उठाकर चल नहीं सकता मरा हुआ एहसान से।’ भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सिद्धू के बर्ताव के लिए कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष साेनिया गांधी काे माफी मांगनी चाहिए।

भाजपा प्रवक्ता संबित बोले, सोनिया गांधी माफी मांगें

करतारपुर साहिब जाते समय भी दोनों ने नहीं की बात

इधर, भारत-पाक के रिश्तों में आई थोड़ी मिठास

सिद्धू और कैप्टन के बीच कम नहीं हुई खटास

चंडीगढ़| 72 साल बाद करतारपुर कॉरिडोर का लांघा खुलने के बाद बेशक भारत-पाक के रिश्तों में थोड़ी मिठावट आई हो लेकिन सूबे में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह व नवजोत सिंह सिद्धू के बीच खटास अभी दूर नहीं हुई है। शनिवार को सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में कैप्टन और सिद्धू पहले जत्थे के साथ एक ही बस में सवार होकर करतारपुर साहिब गुरुद्वारे जा रहे थे। उनके साथ बस में पाक पीएम इमरान खान और पाक विदेश मंत्री भी साथ खड़े थे। सिद्धू और कैप्टन एक साथ ही खड़े थे लेकिन बात करना तो दूर नजरें भी नहीं मिला रहे थे। सिद्धू इमरान से बाते कर रहे थे जबकि कैप्टन इमरान और साथ खड़े कुरैशी से। दोनों को देख ऐसा लग रहा है कि वह एक-दूसरे को इग्नोर कर रहे हैं। यात्रा के दौरान कैप्टन ने कहा कि हर भारतीय और पाकिस्तानी के लिए क्रिकेट हमेशा आपसी सांझ और जोश का प्रतीक है। सफऱ के दौरान एक और सांझ बनी और कैप्टन ने इमरान की उनके परिवारों के दरमियान विशेष सांझ का पता लगाने में मदद की।

कैप्टन के पिता के साथ टीम में खेलते थे इमरान के रिश्तेदार

सफर के दौरान इमरान ने कैप्टन को बताया कि उनके रिश्तेदार जहांगीर ख़ान अंग्रेज़ों के दौर में पटियाला के लिए खेले थे। उनके साथ मुहम्मद निसार, अमरनाथ, अमर सिंह, वजीर अली व अमीर अली भी शामिल थे। यह 7 खिलाड़ी उस टीम के मेंबर थे जिस टीम की कप्तानी कैप्टन अमरिंदर के पिता महाराजा यादविंदर सिंह ने 1934 -35 में भारत और पटियाला के लिए की थी।

चंडीगढ़| 72 साल बाद करतारपुर कॉरिडोर का लांघा खुलने के बाद बेशक भारत-पाक के रिश्तों में थोड़ी मिठावट आई हो लेकिन सूबे में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह व नवजोत सिंह सिद्धू के बीच खटास अभी दूर नहीं हुई है। शनिवार को सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में कैप्टन और सिद्धू पहले जत्थे के साथ एक ही बस में सवार होकर करतारपुर साहिब गुरुद्वारे जा रहे थे। उनके साथ बस में पाक पीएम इमरान खान और पाक विदेश मंत्री भी साथ खड़े थे। सिद्धू और कैप्टन एक साथ ही खड़े थे लेकिन बात करना तो दूर नजरें भी नहीं मिला रहे थे। सिद्धू इमरान से बाते कर रहे थे जबकि कैप्टन इमरान और साथ खड़े कुरैशी से। दोनों को देख ऐसा लग रहा है कि वह एक-दूसरे को इग्नोर कर रहे हैं। यात्रा के दौरान कैप्टन ने कहा कि हर भारतीय और पाकिस्तानी के लिए क्रिकेट हमेशा आपसी सांझ और जोश का प्रतीक है। सफऱ के दौरान एक और सांझ बनी और कैप्टन ने इमरान की उनके परिवारों के दरमियान विशेष सांझ का पता लगाने में मदद की।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना