पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दोनों की है अलग-अलग जाति...

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लड़की को भगा ले गया था युवक, समाज ने दिया दोनों परिवारों में लड़कियों की शादी का फरमान, लड़की के भाइयों ने मामला टाल रहे पिता की हत्या की
दोनों की है अलग-अलग जाति...

भगाकर शादी करने वाले लड़के के पिता द्वारा उसी घर में अपनी लड़की देने के समाज के फैसले को नहीं मानने से नाराज लड़की के भाइयों ने लड़के के पिता की गला घोंटकर हत्या कर दी। 4 मार्च को लड़का-लड़की ने घर से भाग कर शादी कर ली थी और वह तभी से घर से फरार चल रहे थे। राजपुरा के खानपुर गंडिया इलाके के ईंट-भट्ठे में रह रहे यूपी के मुजफ्फरनगर इलाके के रहने वाले दो मजदूरों के परिवारों में पिछले 5 दिन से इस मुद्दे पर तनाव चल रहा था। समाज के लोगों ने दाेनाें परिवाराें में सुलह कराने के लिए दोनों परिवाराें में लड़कियाें की अदला-बदली फरमान दिया, जाेकि लड़की वालाें काे ताे मंजूर था लेकिन लड़के का पिता बेटी के नाबालिग होने की वजह से फैसले से सहमत नही था। उधर, थाना खेडी गंडिया पुलिस ने शनिवार की देर शाम बेटे मोनू के बयान पर हत्या की विभिन्न धाराअाें में लड़की के तीन भाईयाें अाैर एक रिश्तेदार सहित 4 लाेगाें के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया हालांकि देर रात खबर लिखे जाने तक काेई गिरफ्तारी नही हाे सकी। शुक्रवार की रात काे हुई इस हत्या पर मृतक की प|ी ने किसी को शव को हाथ नहीं लगाने दिया वह इस बात पर अड़ी रही कि बेटे के आने तक वह किसी का हाथ नही लगाने देगी।

बेटी नाबालिग होने का हवाला दे लड़के के पिता ने नहीं माना था फैसला


दाेनाें परिवाराें में 4 मार्च के बाद से ही चल रहे तनाव काे देखते हुए ईंट भट्ठे पर काम करने वाले अन्य मजदूराें ने सुलह करवाने की कोशिश की। फैसला हुअा कि रामू की बेटी की शादी सत काैर के भाई से करवा दी जाए। दाेनाें परिवाराें में लड़कियाें की अदला-बदली के समाज के फैसले से लड़की का पिता जल सिंह अाैर उसका परिवार ताे सहमत हाे गया लेकिन राेहित का पिता रामू काे यह फैसला मंजूर नही था। अपनी बेटी के नाबालिग हाेने का हवाला देते हुए फैसले काे सिरे से खारिज कर दिया। लड़की-लड़के के अाने की बात कह मामला टालने से लड़की के भाईयाें में बेहद गुस्सा था। शुक्रवार रात कोभाई सिंदर सिंह, गुड्डु, शिबू अाैर रिश्तेदार सागर ने रामू के घर उसका गला दबाकर हत्या कर दी अाैर फरार हाे गए।


मृतक के बेटे मोनू के बयानाें पर हुअा केस दर्ज


बड़े बेटा माेनू के पहुंचने पर शनिवार सुबह करीब साढ़े 12 बजे रामू के शव काे लेकर सिविल अस्पातल पहुंचे, जिसकी जानकारी डाॅक्टराें ने थाना खेडी गंडिया पुलिस काे दी। माेनू के बयानों के अाधार पर पुलिस ने डेड बाॅडी काे कब्जे में लेकर पाेस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाया अाैर चारों अाराेपियों के खिलाफ खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया।

मुजफरनगर का रहने वाला रामू (50) करीब 4 महीने पहलें खानपुर गंडिया में ईंट भट्ठे पर मजदूरी करने के लिए परिवार सहित अाया था। उसी के गांव का ही रहने वाला लड़की का पिता जल सिंह भी चार महीने पहलें इसी ईंट-भट्ठे पर काम करने को साथ अाया था। जल सिंह की बेटी सत काैर 25 साल अाैर रामू का बेटा राेहित कुमार 26 साल का प्रेम प्रसंग था, जिसकी भनक परिवार के किसी भी सदस्य काे नही थी। जातियां अलग-अलग हाेने की वजह से दोनों काे इस बात का डर था कि शादी के लिए उनके परिवार कभी राजी नही हाेंगे। इस दाेनाें फरार हो गए।

मृतक रामू
खबरें और भी हैं...