मांगें न मानने से खफा मुलाजिमाें का प्रदर्शन

Patiala News - पंजाब सबाॅर्डिनेट सर्विसिज फेडरेशन और द क्लास फोर्थ गवर्नमेंट इंप्लाइज यूनियन ने अलग-अलग विभागों के अफसरों के...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:40 AM IST
Patiala News - demonstrate not to accept demands
पंजाब सबाॅर्डिनेट सर्विसिज फेडरेशन और द क्लास फोर्थ गवर्नमेंट इंप्लाइज यूनियन ने अलग-अलग विभागों के अफसरों के खिलाफ प्रदर्शन किया। सरकारी, अर्ध सरकारी विभाग के तीसरे अाैर चौथा दर्जा मुलाजिम, काॅन्ट्रैक्ट अाैर आउटसोर्स मुलाजिम मिनी सेक्रिटेरिएट में पीडब्ल्यूडी के मुख्य इंजीनियर आॅफिस के आगे जुटे। सभी ने नारेबाजी की। मांग की कि पीडब्ल्यूडी के लिफ्ट आॅपरेटर बिजली विंग द्वारा निकाले जा रहे हेल्पर्स, जो आउटसोर्स पर काम कर रहे हैं, को वापस अडजस्ट कर रेगुलर किया जाए। राज्य प्रधान दर्शन सिंह लुबाना ने कहा कि मुलाजिमों की मांगों का हल न किए के बारे में 4 जून को पीडब्ल्यूडी के पूर्व मंत्री विजय इंदर सिंगला को लिखित जानकारी दी थी। उनके भरोसे के बाद संगरूर का रोष मार्च मुल्तवी किया था।

बिजली दरों में बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन

पटियाला | न्यू पटियाला वेलफेयर क्लब ने बिजली दरों में की गई बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन किया। क्लब प्रधान अरविंदर कुमार काका ने बताया कि कांग्रेस सरकार ने विधानसभा चुनाव से पहले सस्ती बिजली देने का वादा किया था। सरकार ने वादा पूरा करने की बजाय बार-बार बिजली दरों में बढ़ोतरी कर लोगों पर आर्थिक बोझ डाला। यहां केवल कृष्ण, भगवान सिंह, सुरिंदर कुमार, प्रेम चंद मौजूद रहे।

फतेहगढ़ साहिब में कर्मचारी दल ने की सरकार की नीतियों की अलोचना

भास्कर संवाददाता|फतेहगढ़ साहिब

पंजाब स्टेट कर्मचारी दल की बैठक में प्रदेश अध्यक्ष हरी सिंह टोहरा शामिल हुए। टोहरा ने कहा कि सरकार मुलाजिमों की मांगों को अनदेखा कर रही है। महंगाई भत्ते की चार किश्तों का भुगतान किया जाए, 6वें पंजाब वेतन आयोग की रोकी गई रिपोर्ट लागू की जाए, पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने के साथ अस्थाई कर्मियों को रेगुलर कर पूरा स्केल दिए जाए। पंजाब सरकार के बिजली के बढ़ाए रेटों की निंदा की गई। पंजाब में घरेलू व इंडस्ट्री को सप्लाई हो रही बिजली का रेट पहले ही दूसरे राज्यों की अपेक्षा काफी अधिक था, जिसमें सरकार ने और बढ़ोत्तरी कर दी। बिजली के लगातार बढ़ रहे रेटों से पंजाब की 20 हजार से अधिक इकाईयां दूसरे राज्यों में शिफ्ट हो गईं। पंजाब में बिजली के रेट दूसरे राज्यों के बराबर किए जाएं। यहां सुच्चा सिंह रैलो, इंद्र सिंह रायपुर, गरीब सिंह, अशोक टुलानी, मोहिन्द्र सिंह, जोगा सिंह, गुरप्रीत सिंह, राजेन्द्र सिंह, मोहन सिंह मौजूद रहे।

कहा- महंगाई भत्ते की चार किस्ताें का भुगतान किया जाए

मिनी सेक्रेटेरिएट के पास रैली निकालते मुलाजिम।

जो रिटायर हो चुके उनके नाम भी लिस्ट में

पीडब्ल्यूडी के आगे रैली निकालते हुए सभी मुलाजिम जंगलात विभाग के वन मंडल और वनपाल (साउथ) सर्कल आॅफिस के बाहर पहुंचे। सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। लुबाणा ने बताया कि प्रधान मुख्य वनपाल पंजाब से जारी सीनियाॅरिटी लिस्ट में काफी गलतियां हैं। जो वर्कर 2011 अाैर 2015 में रेगुलर हो चुके हैं, उनके नाम भी लिस्ट में हैं। लिस्ट में उनके नाम नहीं है, जाे मौजूदा समय में काम कर रहे हैं। एेलान किया कि सीनियाॅरिटी लिस्ट में गलतियों का संज्ञान लेते हुए यूनियन की ओर से जुलाई में वनमंत्री के हल्के में रैली निकाली जाएगी। यहां जगमोहन नौलखा, बलजिंदर सिंह, दीप चंद हंस, जगजीत सिंह, ओंकार सिंह, कुलविंदर सिंह, लाभ सिंह, सूरजपाल यादव, केसर सिंह सैणी, जगतार सिंह, करनैल चंद, दर्शन सिंह, तरलोचन मंडोली मौजूद रहे।

कामगार मजदूराें की मांगाें के समर्थन में धरना

राजपुरा | एसडीएम दफ्तर के बाहर सीपीएम वर्कराें ने कामगार मजदूराें की मांगाें के समर्थन में धरना िदया। उन्हाेंने सरकार के िखलाफ नारेबाजी की। धरना नायब िसंह लाेचमा, मलकीत िसंह लाैहसिंबली, कर्मजीत िसंह खानपुर, हरी राम की अगुवाई में लगाा गया। लेबर कमिश्नर के नाम एक मांगपत्र एसडीएम राजपुरा रजनीश अराेड़ा काे साैंपा गया। यहां गुरनाम िसंह घनाैर, जसवीर काैर, सुखविंदर अकबरपुर ने विचार रखे।

भास्कर संवाददाता|फतेहगढ़ साहिब

पंजाब स्टेट कर्मचारी दल की बैठक में प्रदेश अध्यक्ष हरी सिंह टोहरा शामिल हुए। टोहरा ने कहा कि सरकार मुलाजिमों की मांगों को अनदेखा कर रही है। महंगाई भत्ते की चार किश्तों का भुगतान किया जाए, 6वें पंजाब वेतन आयोग की रोकी गई रिपोर्ट लागू की जाए, पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने के साथ अस्थाई कर्मियों को रेगुलर कर पूरा स्केल दिए जाए। पंजाब सरकार के बिजली के बढ़ाए रेटों की निंदा की गई। पंजाब में घरेलू व इंडस्ट्री को सप्लाई हो रही बिजली का रेट पहले ही दूसरे राज्यों की अपेक्षा काफी अधिक था, जिसमें सरकार ने और बढ़ोत्तरी कर दी। बिजली के लगातार बढ़ रहे रेटों से पंजाब की 20 हजार से अधिक इकाईयां दूसरे राज्यों में शिफ्ट हो गईं। पंजाब में बिजली के रेट दूसरे राज्यों के बराबर किए जाएं। यहां सुच्चा सिंह रैलो, इंद्र सिंह रायपुर, गरीब सिंह, अशोक टुलानी, मोहिन्द्र सिंह, जोगा सिंह, गुरप्रीत सिंह, राजेन्द्र सिंह, मोहन सिंह मौजूद रहे।

भामस का डीएफसी आॅफिस के आगे विरोध

कहा, जंगलात कर्मचारी यूनियन के मेंबरों की अनदेखी की जा रही

डीएफसी पटियाला आॅफिस के आगे प्रदर्शन करते यूनियन के मेंबर।

भास्कर संवाददाता|पटियाला

जंगलात कर्मचारी यूनियन समाना ने डीएफसी के आगे मांगों को लेकर रोष प्रदर्शन किया। भारतीय मजदूर संघ के जिला प्रधान पवित्र सिंह ने बताया कि जंगलात विभाग के अधिकारी मानी गई मांगों को लागू करने में टालमटोल कर रहे हैं। यूनियन मेंबर्स को झूठे केस में फंसाने की कोशिश की जा रही हैं। पवित्र सिंह ने बताया कि कर्मचारियों की नाजायज तनख्वाह कटौती की जा रही है, कर्मचारियों की सीनियारिटी लिस्ट में घपला किया गया। जिला संगठन मंत्री पुष्पिंदर कुमार ने कहा कि अगर घपलेबाजी को बंद न किया गया तो मामला मंत्री के ध्यान में लाएंगे। यहां मेजर सिंह, बलकार सिंह, हरप्रीत सिंह, अजायब सिंह, मुनीश पुरी, राजिंदर सनौर, अमरीक सिंह, राम सिंह, हरि सिंह, साधू सिंह, नीता सिंह मौजूद रहे।

भास्कर संवाददाता|पटियाला

जंगलात कर्मचारी यूनियन समाना ने डीएफसी के आगे मांगों को लेकर रोष प्रदर्शन किया। भारतीय मजदूर संघ के जिला प्रधान पवित्र सिंह ने बताया कि जंगलात विभाग के अधिकारी मानी गई मांगों को लागू करने में टालमटोल कर रहे हैं। यूनियन मेंबर्स को झूठे केस में फंसाने की कोशिश की जा रही हैं। पवित्र सिंह ने बताया कि कर्मचारियों की नाजायज तनख्वाह कटौती की जा रही है, कर्मचारियों की सीनियारिटी लिस्ट में घपला किया गया। जिला संगठन मंत्री पुष्पिंदर कुमार ने कहा कि अगर घपलेबाजी को बंद न किया गया तो मामला मंत्री के ध्यान में लाएंगे। यहां मेजर सिंह, बलकार सिंह, हरप्रीत सिंह, अजायब सिंह, मुनीश पुरी, राजिंदर सनौर, अमरीक सिंह, राम सिंह, हरि सिंह, साधू सिंह, नीता सिंह मौजूद रहे।

एसडीअाे के रवैएे के खिलाफ कामगारों का धरना

पातड़ां | जल स्पलाई और सेनिटेशन विभाग में ठेके पर काम करते डाटा अाॅपरेटराें को एसडीअाे ने हटा दिया था। जिसके विराेध में पंजाब सबार्डिनेट सर्विस फेडरेशन ने राेष धरना दिया। इस मौके पर यूनियन जिला प्रधान जसवीर खोखर, दर्शन सिंह राैंगला, बाबू सिंह रमेश कुमार, कश्मीर सिंह, राज खान, चमकौर सिंह, जगदेव सिंह प्रकाश चंद, गुरप्रीत सिंह, गीत सिंह, प्यारा सिंह ने संबोधित किया।

मंत्री के भरोसे के बाद रूरल हेल्थ फार्मासिस्ट की हड़ताल खत्म

पटियाला | लंबे समय से मांगों को लेकर धरने पर बैठे रूरल हेल्थ फार्मासिस्ट एसोसिएशन के मुलाजिमों को जूस पिलाकर भूख हड़ताल खत्म कराई गई। विश्वास दिलाया गया कि ठेके पर मुलाजिमों को रेगुलर करने के लिए जल्द पॉलिसी लागू की जाए। उनकी सेलेरी 9000 दी जा रही थी, उसमें 6000 की बढ़ोतरी कर 15000 कैबिनेट मीटिंग है, उसे पास करा देंगे। फार्मासिस्टाें ने कहा कि अगर मांगें पूरी न की गई ताे संघर्ष बाद में तेज हो सकता है। यहां सतपाल चीमा, बलजीत सिंह, बिक्रमजीत सिंह, मनदीप कौर मौजूद रहीं।

पंजाब जल स्राेत मुलाजिम यूनियन का डेलीगेट्स में समस्या पर की चर्चा

भास्कर संवाददाता। पटियाला

पंजाब जल स्राेत मुलाजिम यूनियन का 33वां राज्य डेलिगेट्स इजलास सैनी भवन खरड़ में मनाया गया। मलाजिमाें की समस्याअाें पर विचार किया गया। मांगाें काे सरकार तक पहुंचाने के लिए मीटिंग के अलाव जरूरत पड़ने पर संघर्ष का एेलान किया गया। पुरानी कमेटी काे भंग करके नई टीम का गठन किया गया। राज्य प्रधान सुखमंदर सिंह, गुरचरण सिंह व गुरदीप िसंह काे सीनियर मीत प्रधान, प्रेम नाथ व गुरप्रीत सिंह मीत प्रधान, रामजीदास काे महासचिव, बुधराम काे सहायक सेक्रेटरी, परमजीत सिंह काे वित्त सेक्रेटरी नियुक्त किया गया।

दलित भाईचारे ने कहा, बाेली करने वालाें पर दर्ज हाे केस

गांव नूरखेड़ियां में डीडीपीअाे ने कराई डमी बाेली

भास्कर संवाददाता|पटियाला

जमीन प्राप्ति संघर्ष कमेटी के वफद ने नूरखेड़ियां में डमी बोली के संबंध में डीडीपीओ से मुलाकात की। उन्होंने डीडीपीओ को दलितों की जमीन पर बोली रखने और झूठ बोलने पर चेतावनी देते कहा कि अगर यह डमी बोली रद्द न की गई तो कड़ा संघर्ष हाेगा। कमेटी जिला नेता गुरविंदर सिंह और धर्मपाल सिंह ने कहा कि जिले में पंचायती जमीनों के तीसरे हिस्से के चल रहे संघर्ष के दौरान गांव नूरखेड़ियां में प्रशासन ने डमी बोली कराई। जनरल जगह बोली रखे जाने पर डीडीपीओ ने कहा कि एससी धर्मशाला में ही बोली होगी।

दलित भाईचारा प्रशासन का एससी धर्मशाला में इंतजार करता रहा और प्रशासन जनरल जगह पर बोली करके चला गया। यह दलितों से धोखा है। दलितों ने मांग की कि जिनके साथ मिलकर डीडीपीओ ने डमी बोली की है उनके खिलाफ पर्चा दर्ज किया जाए। अगर एेसा न किया गया तो जत्थेबंदी संघर्ष करेगी। इस मौके पर लखवीर कौर, हरबंस कौर, बलजीत कौर सहित सोसायटी मेंबर मौजूद रहीं।

Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
X
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
Patiala News - demonstrate not to accept demands
COMMENT