इमरान खान ने एक बार फिर भारत को परमाणु युद्ध की धमकी दी

Patiala News - कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान दुनिया के मुसलमानों को उकसाने की चालें चल रहा है। प्रधानमंत्री...

Sep 16, 2019, 08:30 AM IST
कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान दुनिया के मुसलमानों को उकसाने की चालें चल रहा है। प्रधानमंत्री इमरान खान लगातार इंटरव्यू दे रहे हैं। शनिवार को इमरान अल-जजीरा को दिए एक इंटरव्यू में खुद ही बेनकाब हो गए। भारत-पाक संबंधों पर जब इमरान से पूछा गया कि उन्हें कश्मीर के मुसलमानों के मानवाधिकार की तो चिंता है, पर चीन में उइगर मुसलमानों के मुद्दे पर क्या उन्होंने चीनी राष्ट्रपति से बात की? इस पर इमरान बोले- ‘नहीं-मैं कश्मीर और पाक की आंतरिक समस्याओं को लेकर इतना व्यस्त हूं कि उइगर मुसलमानों के साथ चीन क्या कर रहा है, इस बारे में उन्हें कुछ भी नहीं पता। वे चीन में हैं, उन्हें सामना करने दीजिए। एक अन्य सवाल के जवाब में कहा- ‘मान लें, खुदा न करे, दाेनाें देशाें में पारंपरिक युद्ध हाे अाैर हम हार रहे हाें ताे हमारे सामने दाे विकल्प हाेंगे- या हम सरेंडर कर दें या अाजादी के लिए अाखिरी सांस तक लड़ें।’ इमरान के इंटरव्यू की प्रमुख बातें...

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान एक इंटरव्यू में बेनकाब हुए

इमरान बोले- मैं चीनी उइगराें के बारे में कुछ नहीं जानता

पाक हारने की स्थिित में परमाणु बम इस्तेमाल करेगा


जम्मू-कश्मीर के लोग 6 हफ्ते से घरों में कैद हैं। हम उनकी स्थिति दुनिया को दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। इससे तनाव है। पाकिस्तान कभी भी परमाणु युद्ध शुरू नहीं करेगा। पर जो हालात बन रहे हैं, उससे संघर्ष भी छिड़ सकता है। मैं जानता हूं, जब दाे परमाणु संपन्न देशाें में युद्ध हाेता है। पूरी अाशंका है कि इसका अंत परमाणु युद्ध के साथ हाेगा। तब हम समर्पण करने के बजाय आखिरी विकल्प (परमाणु हमला) इस्तेमाल करने से पीछे नहीं हटेंगे।


भारत ने अनुच्छेद-370 हटाकर अवैध रूप से कश्मीर को हड़प लिया है। उन्होंने एकतरफा अंतरराष्ट्रीय कानूनों को तोड़ दिया।


नहीं, भारत से बातचीत की कोई संभावना नहीं है। यदि कश्मीर मुद्दे का समाधान अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा नहीं किया जाता तो यह वैश्विक व्यापार प्रभावित कर सकता है। इसलिए हमने संयुक्त राष्ट्र से संपर्क किया है।


हम हर अंतरराष्ट्रीय मंच से संपर्क कर रहे हैं कि उन्हें इस मामले में दखल देना चाहिए।


हम एफएटीएफ के अधिकारियों से बात कर रहे हैं। अगर ब्लैकलिस्ट की कार्रवाई होती है, तो यह हमारी अर्थव्यवस्था पर कार्रवाई होगी।


अगर लोग मुझे यू-टर्न पीएम कहते हैं, तो बुरा नहीं लगता। यू-टर्न सिर्फ बेवकूफ लोग ही नहीं ले सकते। हमारे यू-टर्न सकारात्मकता के लिए हैं। आज हम चीन के ज्यादा नजदीक आ चुके हैं।


ऐसी बातें बकवास हैं। मीडिया को पाक में सबसे ज्यादा आाजादी है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना