--Advertisement--

सेहतमंत्री के भरोसे के बाद अब 21 की हड़ताल नहीं

सरकारी मेडिकल काॅलेज, डेंटल काॅलेज, आयुर्वेदिक काॅलेज, रजिंदरा अस्पताल और टीबी अस्पताल के राजिंदरा और टेक्निकल,...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:50 AM IST
सरकारी मेडिकल काॅलेज, डेंटल काॅलेज, आयुर्वेदिक काॅलेज, रजिंदरा अस्पताल और टीबी अस्पताल के राजिंदरा और टेक्निकल, नर्सिंग के साथ संबंधित इंप्लाइज ज्वॉइंड एक्शन कमेटी और पंजाब सबार्डिनेट सर्विसेज फेडरेशन ने एमएस ऑफिस के आगे 24 घंटों के लिए भूख हड़ताल की। 21 मेंबरों को प्रदर्शन करना था। सेहतमंत्री से 21 को मीटिंग का भराेसा मिलने के बाद भूख हड़ताल को टाल दिया गया।

साझी रैली में मुलाज़िम नेता दर्शन सिंह लुबाना, राम किशन और स्वर्ण सिंह बंगा, मनजीत कौर, कमल गिल ने बताया कि कर्मचारियों की मांगों काे लेकर दो मीटिंगें सचिव और ब्रह्म माेहिंदरा के साथ की थीं। 6 महीने बाद भी कुछ भी नहीं हुआ। आज तक इसकी प्रोसीडिंग जारी है। यहां मोहन सिंह नेगी, जगमोहन नौलखा, र| सिंह, नारंग सिंह, राम लाल रामा, अमरजीत धालीवाल, परमजीत कौर संधू, सत्या जैन, जसपाल सिंह कामीकलां, बलबीर सिंह, अमरनाथ सैनी, नरिंदर कुमार, रजिंदर कुमार, अमरनाथ टीबीएच, सुरिंदरपाल दुग्गल, सुखदेव सिंह झंडी, परमिंदर सिंह कंबोज, राकेश कुमार कल्याण, र| कुमार, बालक राम, मुकेश कुमार, राजेश कुमार गोलू, अजय कुमार सिप्पा, अमरीक सिंह, जसवंत सिंह और तरसेम बावा मौजूद रहे।