• Hindi News
  • Rajya
  • Punjab
  • Patiala
  • Patiala News pu students have prepared such a medicine which will stop the bleeding in 10 minutes as soon as it is applied it will help for the army

पीयू स्टूडेंट्स ने तैयार की ऐसी दवा जिसके लगाते ही 10 मिनट में रुक जाएगा बहता खून, सेना के लिए होगी मदद

Patiala News - पंजाबी यूनिवर्सिटी के फार्मटिकुल साइंस एंड ड्रग रिसर्च विभाग में बी फार्मेसी स्टूडेंट्स हरमन धीमान ने प्रो. डॉ....

Bhaskar News Network

Nov 10, 2019, 08:31 AM IST
Patiala News - pu students have prepared such a medicine which will stop the bleeding in 10 minutes as soon as it is applied it will help for the army
पंजाबी यूनिवर्सिटी के फार्मटिकुल साइंस एंड ड्रग रिसर्च विभाग में बी फार्मेसी स्टूडेंट्स हरमन धीमान ने प्रो. डॉ. डिंपल सेठी चोपड़ा के निर्देश पर बीएलईजीईएल एक दवा बनाई है। यह दवा युद्ध या अन्य दुर्घटना में घायल हुए व्यक्ति के रक्त बहाव को रोकने के लिए बहुत कारगर है। वहीं, यह दवा खासकर भारतीय सेना के लिए कारगार होगी। लड़ाई के दौरान गोली लगने से रक्त बहने से रोकने में लाभदायक होगी। इस दवा को डीआरडीओ नई दिल्ली, पंजाब स्टार्टअप सेल ने सलेक्ट कर अवार्ड दिया है। प्रोजेक्ट पर डिपार्टमेंट हेड डॉ. निर्मल सिंह ने बधाई दी है। अभी हाल में ही चंडीगढ़ में हुआ मिशन इनोवेट पंजाब में हरमन ने अपना प्रोजेक्ट पेश किया, जिस पर बाबा फरीद यूनिवर्सिटी ने क्लीनिकल टेस्ट करने को कहा। खुद पंजाबी यूनिवर्सिटी ने इस प्रोजेक्ट को फंड करने के लिए कहा है। इससे पहले मार्च में चंडीगढ़ में स्टार्टअप बेस्ट स्टार्टअप चुना गया। जुलाई में डीआरडीओ ने इस प्रोजेक्ट को चुना।

ऐसे आया आइडिया... हादसे में खून बहने से परिचित की मौत हो गई थी

हरमन ने बताया कि गांव के पास एक्सिडेंट हुआ था। उसमें एक व्यक्ति बुरी तरह जख्मी हो गया था। जब तक उसे अस्पताल ले गए तब तक उसकी मौत हो गई थी। क्योंकि, उसका खून ज्यादा बह गया था। इसके बाद उन्होंने सोचा क्यों न ऐसी दवा बनाई जाए, जिससे दुर्घटना के दौरान खून न बहे और जान बचाई जाए। इसके बाद उन्होंने यह दवा बनाई।

दवा का 4 घंटे तक रहता है असर... अबलोेबाल के हरमन ने बताया कि यह बॉयो फर्मटिकुल प्रोडक्ट है। यह किसी भी फील्ड में काम कर सकता है। एक्सिडेंट हो या युद्ध के दौरान गोली लगी हो। यह दवा लगाने से 10 मिनट में रुकता है। इसका असर 4 घंटे तक रहता है।

घर में खुद के पैसे से तैयार की लैब...प्रो. डॉ. डिंपल सेठी चोपड़ा की देखरेख में हरमन ने घर में ही इस प्रोजेक्ट को शुरू किया। ट्यूशन पढ़ाकर एक लैब तैयार की और उस पर रिसर्च शुरू कर दी और यह दवा बनाई। हरमन के पिता निक्का सिंह टीचर और मदर परमजीत कौर है।

X
Patiala News - pu students have prepared such a medicine which will stop the bleeding in 10 minutes as soon as it is applied it will help for the army
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना