• Hindi News
  • Rajya
  • Punjab
  • Patiala
  • Patiala News the sewerage of the kali mata temple jammed for 5 days the electronic hour was bad the management did not know the devotees were doing well

काली माता मंदिर का सीवरेज 5 दिन से जाम, इलेक्ट्रॉनिक घंटा खराब, मैनेजमेंट को पता नहीं,श्रद्धालु करवा रहे ठीक

Patiala News - श्री काली देवी मंदिर के अकाउंट में डेढ़ करोड़ कैश अौर 36 करोड़ की एफडी होने के बावजूद 5 दिन सीवरेज जाम रहने अौर 4 दिन तक...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:36 AM IST
Patiala News - the sewerage of the kali mata temple jammed for 5 days the electronic hour was bad the management did not know the devotees were doing well
श्री काली देवी मंदिर के अकाउंट में डेढ़ करोड़ कैश अौर 36 करोड़ की एफडी होने के बावजूद 5 दिन सीवरेज जाम रहने अौर 4 दिन तक सुबह-शाम अारती में यूज होने वाला इलेक्ट्रॉनिक घंटा खराब रहने पर श्रद्धालु अपनी जेब से पैसे खर्च करके इन्हें ठीक करवा रहे हैं। जिन श्रद्धालुअों ने सीवरेज या इलेक्ट्रॉनिक घंटा ठीक करवाया, वो पहले 4 से 5 दिन तक इंतजार करते रहे कि शायद मंदिर प्रशासन खुद अपने स्तर पर इन्हें दुरस्त करवा दे, लेकिन जब किसी ने कोई सुध नहीं ली तो श्रद्धालुअों को अागे अाना पड़ा। अब सवाल यह है कि मंदिर में चढ़ रहे करोड़ों रुपए का खजाना अाखिर किस काम का है? मंगलवार को चैत्र के नवरात्रों के दौरान मंदिर में चढ़े चढ़ावे के खजाने को खोला गया। नवरात्र से पहले मैं जब भी मंदिर जाता था तो वॉशरूम के बाहर तक सीवरेज का गंदा पानी लोगों के पैरों तक अाता था। कई बार प्रबंधकों को कहा, लेकिन 5 दिन तक यही हाल रहा। नवरात्र से कुछ दिन पहले मैंने एक दिन नोट किया कि अारती में इलेक्ट्रॉनिक घंटा नहीं बज रहा है। मैंने पूछा तो पता चला कि घंटा खराब है। 4 दिनों तक सुबह, दोपहर शाम तीनों टाइम घंटा न बजने से मन को अच्छा नहीं लगा।

महीने के खर्च का लेखा जोखा | 15 लाख फुटकल, 14 लाख सैलरी और 5 लाख सिक्योरिटी पर खर्च

श्री काली माता मंदिर के अकाउंटैंट नवनीत टंडन ने बताया कि स्टेट बैंक आॅफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक आॅफ कामर्स में श्री काली माता के नाम पर खुले अकाउंट्स में कुल 1 करोड़ 56 लाख 72 हजार 665 रुपए हैं। वहीं 35 करोड़ 77 लाख 44 हजार 62 रुपए की एफडी पड़ी हैं। इसमें से मंदिर के 57 मुलाजिमों की हर महीने की 14 लाख रुपए की तनख्वाह दी जाती है। मंदिर की प्राइवेट सिक्योरिटी को टेंडर के मुताबिक हर महीने 5 लाख रुपए की अदायगी की जाती है। श्री काली माता मंदिर के सीवरेज ब्लाॅकेज की समस्या के बाद उसे ठीक करवाने और इंटरलाॅकिंग टाइलें लगाने पर 3 लाख रुपए खर्च किए गए और हर महीने मंदिर के फुटकल खर्चों के लिए करीब 15 रुपए खर्च किए जाते हैं। चैत्र के नवरात्र में मंदिर की लाइटिंग के लिए 55 हजार का टेंडर दिया गया था, जिसका बिल अभी पास होना है।

खुला खजाना...पहले दिन 2 ट्रंक में निकले 7 लाख

अभी 11 ट्रंकाें की गिनती बाकी | सुबह 9 बजे पैसों की गिनती शुरू हुई। कुल पैसों से भरे 13 ट्रंकों में से अाज 2 ट्रंकों के पैसों की गिनती ही हो पाई। इस काम में मंदिर के हाल में स्टाफ, पुजारियों, सेवादारों और बैंक के मुलाजिमों ने 7 घंटे तक लगातार चढ़ावे की गिनती की। स्टेट बैंक आॅफ इंडिया से आए बृज मोहन ने बताया कि अाज करीबन 7 लाख की गिने गए हैं जिन्हें माता के बैंक अकाउंट में जमा करवा दिया गया है।

नारियल, चुनरी, बकरे बेचकर प्रबंधन करता 70 लाख कमाई

श्रद्धालुओं द्वारा मंदिर में चढ़ाए जाने वाले बकरे, मुर्गे, नारियल और चुनरी आदि को बेचने के बाद करीब 70 लाख रुपए की आमदनी होती है।

सीवरेज जाम नहीं कमजोर पाइपों से समस्या


Patiala News - the sewerage of the kali mata temple jammed for 5 days the electronic hour was bad the management did not know the devotees were doing well
X
Patiala News - the sewerage of the kali mata temple jammed for 5 days the electronic hour was bad the management did not know the devotees were doing well
Patiala News - the sewerage of the kali mata temple jammed for 5 days the electronic hour was bad the management did not know the devotees were doing well
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना