--Advertisement--

प्रेजीडेंट रामनाथ कोविंद ने प्रोटोकोल तोड़ जमीन पर बैठ खाया लंगर, बेटी भी थी साथ

ज्ञानी जैल सिंह के बाद कोविंद दूसरे राष्ट्रपति जिन्होंने प्रोटोकाल के विपरीत जमीन पर बैठ लंगर खाया।

Dainik Bhaskar

Nov 17, 2017, 04:34 AM IST
बेटी स्वाति के साथ राष्ट्रपति। बेटी स्वाति के साथ राष्ट्रपति।

अमृतसर. देश के 14वें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को स्वर्ण मंदिर में माथा टेकने के दौरान प्रोटोकाल तोड़कर जाकर श्री गुरु रामदास लंगर में लंगर खाकर गुरु साहिबान द्वारा चलाई गई ‘पंगत और संगत’ की परंपरा का पालन किया। बता दें कि इस मौके पर जमीन पर बैठ कर लंगर छकने वालों में राज्यपाल वीपी बदनौर, महामहिम का बेटा प्रशांत, बेटी स्वाति तथा बहू गौरी भी मौजूद थे। उनकी पत्नी सविता कोविंद ने घुटनों की समस्या होने के कारण स्टूल पर बैठ कर लंगर खाया। उन्होंने वही लंगर से प्रसाद खाया था जिससे कि आम पब्लिक खाती है।

‘सिख धर्म की महान परंपराओं, पंगत, संगत और लंगर में सारे भेदभावों को मिटाने की जो ताकत है, उसका अनुभव हुआ।’ यहां श्रद्धालुओं में सबके भले के लिए काम करने की भावना को देखकर अपने देश के मानवतावादी मूल्यों पर गर्व होता है।-रामनाथ कोविंद, विजिटर बुक में लिखा

लंगर खाते हुए प्रेसीडेंट कोविंद। लंगर खाते हुए प्रेसीडेंट कोविंद।
प्रेसीडेंट कोविंद प्रेसीडेंट कोविंद
X
बेटी स्वाति के साथ राष्ट्रपति।बेटी स्वाति के साथ राष्ट्रपति।
लंगर खाते हुए प्रेसीडेंट कोविंद।लंगर खाते हुए प्रेसीडेंट कोविंद।
प्रेसीडेंट कोविंदप्रेसीडेंट कोविंद
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..