मां दुर्गा की मूर्ति विसर्जन से नवरात्र महोत्सव संपन्न

Ropar News - स्थानीय श्री सीताराम मंदिर में श्री दुर्गा महोत्सव मां दुर्गा की मूर्ति को दरिया सतलुज में विसर्जन के साथ ही...

Oct 10, 2019, 07:40 AM IST
स्थानीय श्री सीताराम मंदिर में श्री दुर्गा महोत्सव मां दुर्गा की मूर्ति को दरिया सतलुज में विसर्जन के साथ ही संपन्न हो गया। सुबह हवन डालने के बाद भव्य शोभायात्रा निकाली गई, जिसमें सबसे आगे बैंड बाजे, उनके पीछे-पीछे रथ में माता की सुंदर झांकी, डीजे पर शंकर महादेव रोपड़ वालों द्वारा राधा कृष्ण जी, शिवजी-पार्वती नाचते झूमते चल रहे थे। इसके पीछे माता की मूर्तियों के साथ-साथ दुर्गा महोत्सव कमेटी के सदस्य और बड़ी संख्या में श्रद्धालु चल रहे थे। श्रद्धालु ट्रैक्टर-ट्राली में भी बैठे हुए थे।

शोभायात्रा का जगह-जगह शहरवासियों ने भव्य स्वागत किया। शोभायात्रा गहूंण रोड से होते हुए मेन चौक, चंडीगढ़ रोड से गुजर कर सतलुज दरिया पर संपन्न हुई, जहां दुर्गा माता जी की मूर्ति विसर्जन कर दिया गया। इस मौके पर दुर्गा महोत्सव कमेटी के राजीव नागपाल, नीतीश चेतन, सन्नी चेतन, सोनू वर्मा, विकास कुमार, अमन, बिट्टू, डॉ. राकेश, सन्नी नागपाल, मोनी हांडा आदि मौजूद रहे।

बलाचौर में श्री सीताराम मंदिर की प्रबंधक कमेटी के सदस्य मां दुर्गा की मूर्ति को विसर्जन के लिए दरिया सतलुज पर ले जाते हुए। (दाएं) शोभायात्रा में सजाई गई श्री कृष्ण जी की झांकी।

श्रीराम के राजतिलक के साथ संपन्न हुई रामलीला

नवांशहर | दशहरा उत्सव कमेटी द्वारा घास मंडी के शिवाला पंडित जय दयाल ट्रस्ट मंदिर के अयोध्या भवन में भगवान राम के राजतिलक के साथ रामलीला का समापन किया गया। दशहरा मैदान में मेघनाद, कुंभकरण और रावण के पुतलों के दहन के बाद रामलीला शुरू हुई। भगवान राम लंका का राजा विभीषण को बना देते हैं। सुग्रीव को राजगद्दी पर बैठा कर सेना का धन्यवाद कर वापस अयोध्या लौट आते हैं। इसके बाद भगवान राम का राज तिलक होता है। सभी उनको तिलक लगा कर गद्दी पर बिठा देते हैं।

इस दौरान भजन गायकों ने बहारों फूल बरसाओ प्रभु राम आए हैं.., प्रभु राम समुर ले बोलो राम राम.. भजन सुनाए। इसके बाद आरती हुई तथा रामलीला संपन्न हो गई। पंडित भगवान दास ने बताया कि श्री रामायण को पढ़ने से मनुष्य की हर प्रकार की समस्या संपन्न होती है। मर्यादा पुरुषोत्तम राम व सीता माता का चरित्र से हम सीख लेकर आज भी अपने जीवन को उच्च स्तरीय बना सकते हैं। इस मौके पर मुकंद जुलका, राजेश भारद्वाज, महेश दत्ता, सुरिंदर खोसला, बहादुर चंद अरोडा, मोद प्रकाश पाठक, प्रो. अजीत सरीन, पंडित भगवान दास, अशोक वर्मा, दिनेश गौतम सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

नवांशहर के शिवाला पंडित जय दयाल ट्रस्ट मंदिर में रामलीला मंचन में भगवान राम के राजतिलक के उपरांत प्रबंधक कमेटी के सदस्य।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना