• Hindi News
  • Punjab
  • Samana
  • डरबन में 26 साल में एक भी मैच नहीं जीती है टीम इंडिया, अगर जीती तो बनेगी नंबर-1
--Advertisement--

डरबन में 26 साल में एक भी मैच नहीं जीती है टीम इंडिया, अगर जीती तो बनेगी नंबर-1

भारत और दक्षिण अफ्रीका की टीमें गुरुवार को पहले वनडे मैच में आमने-सामने होंगी। मैच डरबन के किंग्समीड मैदान पर...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:25 AM IST
डरबन में 26 साल में एक भी मैच नहीं जीती है टीम इंडिया, अगर जीती तो बनेगी नंबर-1
भारत और दक्षिण अफ्रीका की टीमें गुरुवार को पहले वनडे मैच में आमने-सामने होंगी। मैच डरबन के किंग्समीड मैदान पर होगा। भारत ने यहां 26 साल में दक्षिण अफ्रीका से सात वनडे मैच खेले हैं। इनमें से छह में उसे हार मिली और एक रद्द हो गया। ‘विराट ब्रिगेड’ के पास इस सिलसिले को तोड़ने का मौका है। अगर टीम इंडिया मैच जीत लेती है, तो वह एक साथ दो उपलब्धियां अपने नाम करेगी। पहली, वह यहां जीतने वाली पहली भारतीय टीम बन जाएगी और दूसरी, वह वनडे रैंकिंग में टॉप पर पहुंच जाएगी। आईसीसी वनडे रैंकिंग में फिलहाल दक्षिण अफ्रीका (120) पहले और भारत (119) दूसरे नंबर पर है।

भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका में कभी भी वनडे सीरीज नहीं जीती है। विराट के पास इस सिलसिले को तोड़ने का भी मौका है। अगर भारतीय टीम सीरीज जीतती है तो यह उसकी लगातार 9वीं सीरीज जीत होगी। इस सीरीज में रैंकिंग का उतार-चढ़ाव बार-बार देखने को मिल सकता है। जो भी टीम सीरीज में बढ़त लेगी, वह नंबर वन की पोजीशन पर पहुंच जाएगी। इसी तरह सीरीज जीतने वाली टीम ही आखिर में नंबर-1 बनेगी।

07

वनडे मैच खेले हैं भारत ने डरबन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ। उसे छह मैच में हार का सामना करना पड़ा। एक मैच रद्द हुआ।

04

वनडे सीरीज खेली है टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका में 1992 से अब तक। चारों हारी। दो सीरीज में एक भी मैच नहीं जीत सकी।

102 रन बनाते ही धोनी के वनडे में 10,000 रन पूरे हो जाएंगे। वे ऐसा करने वाले चौथे भारतीय और दुनिया के 12वें बल्लेबाज होंगे।

विराट पर डिपेंडेंसी कम करनी होगी

भारतीय टीम को बैटिंग में सबसे अधिक सुधार की जरूरत है। टेस्ट सीरीज में कप्तान विराट पर डिपेंडेंसी दिखाई दी थी। वनडे सीरीज में धोनी की मौजूदगी फर्क पैदा कर सकती है। ओपनर रोहित और धवन की जोड़ी पर भी टीम की कामयाबी काफी निर्भर होगी।

भारत: विराट कोहली (कप्तान), धवन, रोहित, रहाणे, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, धोनी, पंड्या, चहल, कुलदीप, अक्षर, भुवनेश्वर, बुमराह, शमी, शार्दुल।

दक्षिण अफ्रीका: फाफ डू प्लेसिस, (कप्तान), अमला, डि कॉक, डुमिनी, मार्करम, मिलर, खायेलिहले जोंडो, मॉरिस, एंगिडी, रबाडा, मोर्केल, ताहिर, फेहलुकवायो, तबरेज शम्सी।

पेस अटैक पर रहेगा दारोमदार

भुवनेश्वर, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह की अगुआई में भारतीय पेस अटैक बेहद दमदार है। भारतीय गेंदबाजों ने तीनों टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका को ऑलआउट किया था। वनडे में भी उनसे यही उम्मीद है। दूसरी ओर, डिविलियर्स के तीन वनडे मैचों से बाहर हो जाने के बाद दक्षिण अफ्रीकी बैटिंग लाइनअप पर दबाव बढ़ गया है।

टीमें

X
डरबन में 26 साल में एक भी मैच नहीं जीती है टीम इंडिया, अगर जीती तो बनेगी नंबर-1
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..