• Hindi News
  • Punjab News
  • Sangat News
  • गोंदपुर में ‘गुंदी’ गई थी सतनाम मर्डर की साजिश चंडीगढ़ पुलिस बोली-वहां तो सिर्फ डिस्कस हुआ था
--Advertisement--

गोंदपुर में ‘गुंदी’ गई थी सतनाम मर्डर की साजिश चंडीगढ़ पुलिस बोली-वहां तो सिर्फ डिस्कस हुआ था

परमिंदर बरियाणा | होशियारपुर गांव खुरदां के सतनाम सिंह मर्डर केस में नया खुलासा हुआ है। 7 अप्रैल 2017 को गैंगस्टर...

Dainik Bhaskar

Jul 24, 2018, 02:55 AM IST
गोंदपुर में ‘गुंदी’ गई थी सतनाम मर्डर की साजिश चंडीगढ़ पुलिस बोली-वहां तो सिर्फ डिस्कस हुआ था
परमिंदर बरियाणा | होशियारपुर

गांव खुरदां के सतनाम सिंह मर्डर केस में नया खुलासा हुआ है। 7 अप्रैल 2017 को गैंगस्टर दिलप्रीत सिंह, रिंदा और साथी रोपड़ के गांव ब्रह्ममाजरे के देसराज मल्ल का मर्डर करने के बाद सीधे गढ़दीवाला के पास गांव गोंदपुर के चरणजीत सिंह चन्नी के घर पर ठहरे थे। यहीं सतनाम को मर्डर करने की साजिश रची गई थी। 8 अप्रैल को ये सतनाम का मर्डर करने चंडीगढ़ निकल गए थे और 9 अप्रैल की सुबह 11 बजे सेक्टर 38 के गुरुद्वारा के सामने सतनाम को गोलियां मारीं। 10 अप्रैल को अस्पताल में सतनाम की मौत हो गई। बता दें, उस दिन सतनाम िसंह गांव खुरदा से संगत लेकर चंडीगढ़ गए थे। यह खुलासा दिलप्रीत ने चंडीगढ़ पुलिस की पूछताछ में किया है। हैरानी ये है कि इस खुलासे के बावजूद चंडीगढ़ पुलिस ने अभी तक मामले में कोई कार्रवाई नहीं की है। जब चंडीगढ़ पुलिस से बात की तो जवाब मिला कि चन्नी के घर पर सतनाम को मारने के लिए सिर्फ डिस्कस हुआ था। ये साजिश नहीं थी।

सतनाम सिंह की चन्नी के साथ ट्रक यूनियन के टैंडरों को लेकर विवाद था। सतनाम के मर्डर का एक लाइव वीडियो भी वायरल हुआ था। जिसमें चन्नी का पोता बोबी और दिलप्रीत साफ दिख रहे थे। सतनाम के परिवार ने हत्या की साजिश का आरोप गढ़दीवाला के ही प्रदीप सहोता, तीर्थ सिंह और अर्षदीप पर लगाए थे लेकिन चंडीगढ़ पुलिस ने इन तीनों को क्लीन चिट दे दी और बाद में बोबी और दिलप्रीत को ही आरोपी मानने लगी, लेकिन अब जब दिलप्रीत गिरफ्तार हो गया तो सतनाम सिंह मर्डर केस की परते भी खुलनी शुरू हो गई।

पुलिस पर सवाल : आरोपी चन्नी को अभी पूछताछ के लिए नहीं बुलाया, ऊपर से सुरक्षा भी दे रखी है

यही नहीं... वायरल हुए मर्डर के लाइव वीडियो को भी केस में सबूत के तौर पर नहीं लगाया

इससे पहले सतनाम के परिवार ने आरोप लगाए थे कि चंडीगढ़ पुलिस ने इस मामले में बड़ी गलतियां की हैं और हाईकोर्ट की सुनवाई दौरान ही खुलासा हुआ था कि पुलिस ने मर्डर के लाइव वीडियो को सबूत के तौर पर इस्तेमाल ही नहीं किया। अब एक बार फिर चंडीगढ़ पुलिस सवालों के घेरे में है कि दिलप्रीत को इतने दिन गिरफ्तार हुए हो गए हैं लेकिन अभी तक इन्हें पनाह देने वाले पर केस दर्ज नहीं किया। यहां तक कि चन्नी को भी जांच के लिए नहीं बुलाया गया। इस संबंध में आईजी से बात की तो ने सारी बात एसएसपी पर छोड़ दी। एसएसपी ने कोई जवाब नहीं दिया। जब थाना सेक्टर 36 के एसएचओ बलदेव कुमार से पूछा गया तो बोले-चन्नी ने दिलप्रीत के साथ सतनाम मर्डर की साजिश नहीं रची थी बल्कि उसके साथ डिस्कस किया था और वह उनके खिलाफ अभी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे। उन्हें सिर्फ अभी जांच में शामिल किया जाएगा। हैरानी ये है कि चन्नी को पुलिस ने सुरक्षा दी हुई है। इस सुरक्षा को लेकर सतनाम का परिवार भी एतराज उठा चुका है।

पुलिस जांच पूरी तरह से बोगस : एडवोकेट महेंद्र

उधर सतनाम के भाई परमिंदर सिंह प्रिंस ने मामले को लेकर हाईकोर्ट में याचिका डाली हुई है। इसमें चंडीगढ़ पुलिस पर गंभीर आरोप हैं। प्रिंस के एडवोकेट महेंद्र कुमार ने बताया कि हाईकोर्ट ने चंडीगढ़ पुलिस से यह पूछा है कि आखिरकार केस में वीडियो फोटेज को क्यों नहीं सबूत के तौर पर लगाया गया। इस पर उन्होंने कहा कि दिलप्रीत के साथ तो सतनाम सिंह की कोई दुश्मनी नहीं थी तो इस संबंधी जो चालान अदालत में पेश किया गया है उसमें चंडीगढ़ पुलिस ने बोबी की सतनाम सिंह के साथ रंजिश के मामले को दबा दिया है। उन्होंने कहा, अब तक जो जांच हुई है वो सारी बोगस है।

दिलप्रीत को मोहाली अस्पताल से कोर्ट में पेशी के लिए ले जाती पुलिस।

गैंगस्टर रिंदा के पास एके-47, उसी के कहने पर दिलप्रीत धमकाता था पंजाबी सिंगरों को

मोहाली | दिलप्रीत ने कहा, गैंगस्टर रिंदा के कहने पर ही उसने पंजाबी सिंगर परमीश वर्मा पर जानलेवा हमला किया और अन्य सिंगरों को भी धमकाया। रिमांड पर चल रहे दिलप्रीत को मोहाली पुलिस ने सोमवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे 7 दिन के और रिमांड पर भेज दिया। पुलिस ने कोर्ट में कहा, दिलप्रीत ने पूछताछ में बताया है कि रिंदा के पास अन्य हथियारों के साथ एके-47 भी है। एसएसपी कुलदीप सिंह चाहल ने बताया, पूछताछ के दौरान दिलप्रीत का ना तो किस आतंकी के साथ संबंध सामने आया है और न ही किसी सिंगर की उसके साथ सांठगांठ सामने आई है। एसएसपी ने कहा कि परमीश वर्मा जानलेवा केस में जरूर 20 लाख रुपए की फिरौती ली गई है। यह रकम रिकवर करने की तैयारी शुरु कर दी है। रिंदा ही मास्टर माइंड है। दिलप्रीत ने रिंदा के कई साथियों के बारे में बताया है। उन सब की लिस्ट तैयार की गई है और उनको पकड़ने के लिए काम भी किया जा रहा है।

खन्ना के गांधी मर्डर केस में भी दिलप्रीत का हाथ, वारदात में इस्तेमाल किया पिस्तौल बरामद

खन्ना | गैंगस्टर दिलप्रीत के तार गैंगस्टर रूपिंदर सिंह गांधी के बड़े भाई एवं पूर्व सरपंच मनविंदर सिंह मिंदी गांधी निवासी रसूलड़ा के मर्डर केस से भी जुड़े हैं। इसका खुलासा दिलप्रीत से पूछताछ में हुआ है। मोहाली पुलिस ने बाबा से वह पिस्तौल भी बरामद कर लिया है, जिसका इस्तेमाल गांधी मर्डर केस में किया गया। इस खुलासे के बाद अब खन्ना पुलिस दिलप्रीत को प्रोडक्शन वारंट पर लाने की तैयारी कर रही है। खन्ना पुलिस को गांधी मर्डर केस में बहुत सारे सबूतों की जरूरत है और साथ ही इस केस में रिंदा संधू, गुरजोत गरचा और जगजीत के भाई की गिरफ्तारी भी बाकी है। एसएसपी ध्रुव दहिया ने कहा, वे दिलप्रीत बाबा को प्रोडक्शन वारंट पर लाकर गांधी केस से संबंधित पूछताछ करेंगे। कई अन्य केसों को लेकर भी उन्हें दिलप्रीत व उसके साथियों पर शक है। बता दें, 20 अगस्त 2017 को मिंदी गांधी को रसूलड़ा गांव में उसके घर के पीछे खेतों में उस समय दो लोगों ने गोलियां मार दी थीं, जब मिंदी गांधी फसल को स्प्रे कर रहा था। गोलियां मारने के बाद कातिल मिंदी गांधी का बुलेट लेकर फरार हो गए थे। मिंदी के भतीजे नोना गांधी ने स्कार्पियो से पीछा करके उन्हें हिट करके गिरा दिया था। लेकिन कातिल रास्ते में गन प्वाइंट पर गाड़ी लेकर फरार हो गए थे और फिर इस गाड़ी को छोड़ किसी का मोटरसाइकिल लेकर गांवों में फरार हो गए थे। गुरजोत गरचा ने फेसबुक पर पोस्ट डालकर इस मर्डर केस का जिम्मा लेते हुए रिंदा संधू को मुख्यारोपी करार दिया था।

मिंदी गांधी।

गैंगस्टर दिलप्रीत ने किए खुलासे

कत्ल से 2 दिन पहले गोंदपुर के चरणजीत चन्नी के घर ठहरे थे

गोंदपुर में ‘गुंदी’ गई थी सतनाम मर्डर की साजिश चंडीगढ़ पुलिस बोली-वहां तो सिर्फ डिस्कस हुआ था
X
गोंदपुर में ‘गुंदी’ गई थी सतनाम मर्डर की साजिश चंडीगढ़ पुलिस बोली-वहां तो सिर्फ डिस्कस हुआ था
गोंदपुर में ‘गुंदी’ गई थी सतनाम मर्डर की साजिश चंडीगढ़ पुलिस बोली-वहां तो सिर्फ डिस्कस हुआ था
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..