• Hindi News
  • Punjab News
  • Sangat News
  • महाराजा रणजीत सिंह की बरसी मनाने जत्था पाकिस्तान रवाना
--Advertisement--

महाराजा रणजीत सिंह की बरसी मनाने जत्था पाकिस्तान रवाना

किरन बाला मामले के बाद शेर-ए-पंजाब महाराजा रणजीत सिंह की बरसी के मौके एसजीपीसी ने पहली बार वीरवार जत्था पाक भेजा।...

Dainik Bhaskar

Jun 22, 2018, 03:00 AM IST
महाराजा रणजीत सिंह की बरसी मनाने जत्था पाकिस्तान रवाना
किरन बाला मामले के बाद शेर-ए-पंजाब महाराजा रणजीत सिंह की बरसी के मौके एसजीपीसी ने पहली बार वीरवार जत्था पाक भेजा। एसजीपीसी के एडिशनल सेक्रेटरी बलविंदर सिंह जौड़ा सिंघा की अगुवाई में 2 महिलाओं समेत 86 सिख श्रद्धालु गए हैं।

बलविंदर सिंह ने कहा, सभी श्रद्धालुओं की एसजीपीसी ने छानबीन करके ही वीजे के लिए पासपोर्ट भेजे थे। जत्थे के हर मेंबर की डिटेल आैर संपर्क नंबराें की सूची बनाई गई है। उन्होंने बताया कि 2019 में श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर होने वाले समागमों संबंधी पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी व सरकार के नुमाइंदों से बात करेंगे। एसजीपीसी की एग्जीक्यूटिव कमेटी के मेंबर लखबीर सिंह अराईयांवाला ने बताया कि जितने नाम भेजे थे सभी के वीजे लगे हैं। बैसाखी मनाने गए जत्थे में शामिल गढ़शंकर इलाके की किरन बाला वहां पहुंचकर जत्थे से गायब हो गई थी और उसने पाक नागरिक से शादी कर ली थी। जत्थे के साथ श्री हरिमंदिर साहिब के हजूरी रागी व धर्म प्रचार कमेटी के प्रचारक भी गए हैं। एसजीपीसी ने पाक सिख संगत की मांग को ध्यान में रखते हुए गुरुद्वारा श्री ननकाना साहिब के लिए तीन हरमोनियम भेजे हैं। जत्थे के मेंबर पाक स्थित गुरुद्वारा साहिबान के लिए निशान साहिब के चोले भी लेकर गए हैं।

बस में बॉर्डर की ओर रवाना होते श्रद्धालु। ये 30 जून को लौटेंगे।

भास्कर न्यूज | अमृतसर

किरन बाला मामले के बाद शेर-ए-पंजाब महाराजा रणजीत सिंह की बरसी के मौके एसजीपीसी ने पहली बार वीरवार जत्था पाक भेजा। एसजीपीसी के एडिशनल सेक्रेटरी बलविंदर सिंह जौड़ा सिंघा की अगुवाई में 2 महिलाओं समेत 86 सिख श्रद्धालु गए हैं।

बलविंदर सिंह ने कहा, सभी श्रद्धालुओं की एसजीपीसी ने छानबीन करके ही वीजे के लिए पासपोर्ट भेजे थे। जत्थे के हर मेंबर की डिटेल आैर संपर्क नंबराें की सूची बनाई गई है। उन्होंने बताया कि 2019 में श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर होने वाले समागमों संबंधी पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी व सरकार के नुमाइंदों से बात करेंगे। एसजीपीसी की एग्जीक्यूटिव कमेटी के मेंबर लखबीर सिंह अराईयांवाला ने बताया कि जितने नाम भेजे थे सभी के वीजे लगे हैं। बैसाखी मनाने गए जत्थे में शामिल गढ़शंकर इलाके की किरन बाला वहां पहुंचकर जत्थे से गायब हो गई थी और उसने पाक नागरिक से शादी कर ली थी। जत्थे के साथ श्री हरिमंदिर साहिब के हजूरी रागी व धर्म प्रचार कमेटी के प्रचारक भी गए हैं। एसजीपीसी ने पाक सिख संगत की मांग को ध्यान में रखते हुए गुरुद्वारा श्री ननकाना साहिब के लिए तीन हरमोनियम भेजे हैं। जत्थे के मेंबर पाक स्थित गुरुद्वारा साहिबान के लिए निशान साहिब के चोले भी लेकर गए हैं।

X
महाराजा रणजीत सिंह की बरसी मनाने जत्था पाकिस्तान रवाना
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..