• Hindi News
  • Punjab News
  • Sangat News
  • ‘बोले सो निहाल’ व ‘राज करेगा खालसा’ पर कोर्ट की कोई पाबंदी नहीं : जत्थेदार
--Advertisement--

‘बोले सो निहाल’ व ‘राज करेगा खालसा’ पर कोर्ट की कोई पाबंदी नहीं : जत्थेदार

अमृतसर | उत्तराखंड में हेमकुंट साहिब की यात्रा पर जा रहे श्रद्धालुओं के वाहनों पर लगे झंडे उतारने की पुलिस...

Dainik Bhaskar

Jun 20, 2018, 03:30 AM IST
अमृतसर | उत्तराखंड में हेमकुंट साहिब की यात्रा पर जा रहे श्रद्धालुओं के वाहनों पर लगे झंडे उतारने की पुलिस कार्रवाई को श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने गलत बताया है। इसके साथ ही संगत को भी कहा कि वह अपने वाहनों के मुताबिक ही झंडे लगा यात्रा करें।

जत्थेदार ने कहा कि देश की किसी भी अदालत ने बोले सो निहाल व राज करेगा खालसा पर कोई पाबंदी नहीं लगाई है। साेशल मीडिया पर वायरल हुए दावे की हकीकत जानने के लिए जत्थेदार ने दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी के प्रधान मनजीत सिंह जीके की ड्यूटी लगाई थी। जांच मे यह बात सामने आई कि यह जानकारी किसी ने जानबूझकर डाली है। किसी भी अदालत ने सिख धार्मिक जैकारों पर रोक नहीं लगाई है। उन्होंने सोशल मीडिया पर भड़काहट पैदा करने वाली वीडियो व अन्य प्रचार से संगत को सावधान रहने का संदेश दिया। जत्थेदार ने कहा कि जोधपुर जेल में बंद रहे सिख कैदियों और 1984 के दौरान पीड़ित हुए लोगों काे बसाने के लिए राज्य व केंद्र सरकार को काम करना चाहिए। जत्थेदार ने तख्त दमदमा साहिब पर अमृत संचार के दौरान भेदभाव किए जाने संबंधी सोशल मीडिया पर डाली गई वीडियो को गलत बताया। उन्होंने कहा कि तख्त साहिबान पर इस तरह की घटना संभव ही नहीं है। गुरु साहिबान ने सिखों को जात पात खत्म करने का संदेश दिया था। संगत को आपसी खानाजंगी की ओर धकेलने वाली वीडियो पर विश्वास न किया जाए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..