संगत

  • Hindi News
  • Punjab News
  • Sangat News
  • सभी सिख अकाल तख्त के आदेश और संदेश का पालन करें : जत्थेदार
--Advertisement--

सभी सिख अकाल तख्त के आदेश और संदेश का पालन करें : जत्थेदार

अमृतसर | सिखों के सर्वोच्च स्थान श्री अकाल तख्त साहिब के 412वें स्थापना दिवस पर जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने...

Dainik Bhaskar

Jul 03, 2018, 04:20 AM IST
सभी सिख अकाल तख्त के आदेश और संदेश का पालन करें : जत्थेदार
अमृतसर | सिखों के सर्वोच्च स्थान श्री अकाल तख्त साहिब के 412वें स्थापना दिवस पर जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने सोमवार जगत के नाम संदेश दिया। उन्होंने कहा कि सिखों के छठवें गुरु श्री हरगोबिंद साहिब ने अकाल तख्त का निर्माण कराते हुए दुनिया के सामने सिख कौम की अलग पहचान को रखा। अकाल तख्त मीरी-पीरी के विलक्षण सिद्धांत का प्रतीक है। सभी सिखों को अकाल तख्त को समर्पित हाेने के साथ-साथ यहां से जारी होने वाले हर आदेश व संदेश का पालन करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि आज सिख कौम को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है जिनसे निपटने के लिए सबके एक होने की जरूरत है। उन्होंने सिख नौजवानों से अमृतपान करने की अपील करते हुए कहा कि ऐसा करके ही वह दूसरी बुराइयों से बच सकते हैं।

इस मौके पर अखंड पाठ के भोग के बाद दरबार साहिब के हजूरी रागी कुलदीप सिंह के जत्थे ने कीर्तन से संगत को निहाल किया। अकाल तख्त के हैड ग्रंथी ज्ञानी मलकीत सिंह ने अरदास की और हुक्मनामा तख्त केसगढ़ साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह ने लिया। इस मौके पर एसजीपीसी के चीफ सेक्रेटरी डाॅ. रूप सिंह, डिप्टी सेक्रेटरी गुरबचन सिंह लेहल, दरबार साहिब के मैनेजर जसविंदर सिंह दीनपुर, मुख्तार सिंह, एडिशनल मैनेजर रजिंदर सिंह अटारी, सतनाम सिंह, परमजीत सिंह, लखबीर सिंह व जगतार सिंह मौजूद थे।

जत्थेदार ने कहा, चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए एकता की जरूरत है।

X
सभी सिख अकाल तख्त के आदेश और संदेश का पालन करें : जत्थेदार
Click to listen..