346 मामले निपटा 6.53 करोड़ के अवार्ड किए पास

Sangrur News - जिला कानूनी सेवाएं अथॉरिटी बरनाला की तरफ से नेशनल लीगल सर्विस अथॉरिटी नई दिल्ली और पंजाब स्टेट लीगल सर्विस...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:30 AM IST
Barnala News - nearly rs 653 crore awarded for 346 cases
जिला कानूनी सेवाएं अथॉरिटी बरनाला की तरफ से नेशनल लीगल सर्विस अथॉरिटी नई दिल्ली और पंजाब स्टेट लीगल सर्विस अथॉरिटी मोहाली की हिदायतों के अनुसार जिला एवं सेशन जज वरिंदर अग्रवाल की अगुवाई में जिला कोर्ट कांप्लेक्स बरनाला में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया।

सीजेएम रुपिन्दर सिंह ने बताया कि इस लोक अदालत में हर तरह के लंबित मामलों की सुनवाई करने के लिए और आपसी सहमति के साथ निपटाने के लिए ललित कुमार सिंगला (जिला जज फैमिली कोर्ट), बरजिंदरपाल सिंह (एडीशनल जिला और सेशन जज), अमरिंदरपाल सिंह (एसीजेएम), वनीत कुमार नारंग (सीजेएम), गुरबीर सिंह (एसीजेएम), राजिन्दर सिंह नागपाल (जेऐमआईसी) और कुलविंदर कौर (जेऐमआईसी) कुल 7 बेंचों का गठन किया गया। इस लोक अदालत में 1390 मामलों की सुनवाई की गई और 346 मामलों का आपसी सहमति से निपटारा किया गया और 6 करोड़ 53 लाख 45 हजार 012 रुपए के अवार्ड पास किए गए। उन्होंने बताया कि लोक अदालतों में सस्ता और जल्दी न्याय मिलता है। इसके अलावा आपसी सहमति से झगड़े का निपटारा हो जाता है। लोक अदालत में फैसला होने के साथ केस में लगी कोर्ट फीस वापस मिल जाती है और इसके फैसले के खिलाफ कोई अपील भी नहीं होती। रुपिन्दर सिंह ने अपील की कि 14 सितंबर और 14 दिसंबर को लगने वाली नेशनल लोक अदालतों में अधिक से अधिक केस लगवाए जाएं और फायदा लिया जाए। उन्होंने बताया कि लोक अदालत सबसे सस्ता व सही न्याय दिलाती है। इससे रुपए व समय की बचत होती है।

लोक अदालत में केसों की सुनवाई करते हुए जज।

संगरूर जिले में 1298 केसों का किया निपटारा

संगरूर | जिला कानूनी सेवाएं अथॉरिटी संगरूर के चेयरमैन और जिला व सेशन जज बीएस संधू की अगुआई में संगरूर और सब डिवीजनों में राष्ट्रीय लोक अदालत लगाई गई। लोक अदालत संगरूर, मालेरकोटला, सुनाम, धूरी और मूनक में लगाई गई, जिसमें अतिरिक्त जिला व सेशन जज जतिंदर वालिया, शाम लाल, डॉ. रजनीश, स्मृति धीर व पूनम बांसल, सिविल जज (सीनियर डिवीजन) प्रशांत वर्मा, सीजेएम अजीतपाल, अतिरिक्त सिविल जज (सीनियर डिवीजन) अजय मित्तल और अतिरिक्त सिविल जज (सीनियर सब डिवीजन) अमरीश जैन ने लोक अदालत बैंचों की प्रधानगी की। इसके अतिरिक्त स्थाई लोक अदालत (जन उपयोगी सेवाएं) संगरूर के चेयरमैन सुरिंदर मोहन ने लोक अदालत बैंच की प्रधानगी की। एसडीजेएम शिल्पा, मनप्रीत कौर, सिविल जज (जूनियर डिवीजन) मालेरकोटला जयवीर सिंह, गुरमहिताब सिंह ने लोक अदालत मालेरकोटला बैंच की प्रधानगी की। अतिरिक्त सिविल जज (सीनियर डिवीजन) धूरी पंकज वर्मा, सिविल जज( जूनियर डिवीजन) जगविंदर सिंह व अमनदीप सिंह घुम्मन ने लोक अदालत बैंच धूरी की प्रधानगी की। अतिरिक्त सिविल जज (सीनियर डिवीजन) मूनक पुष्पा रानी ने लोक अदालत बैंच मूनक की प्रधानगी की। जिला व सैशन जज -कम- जिला कानूनी सेवाएं अथार्टी के चेयरमैन बलविंदर सिंह संधू ने बताया कि लोक अदालत में केस की सुनवाई के लिए कोई कोर्ट फीस नहीं लगती है। यदि लोक अदालत के जरिए मामले का निपटारा होता है तो कोर्ट को अदा की गई फीस की वापसी को यकीनी बनाया जाता है। जिला कानूनी सेवाएं अथॉरिटी संगरूर की सचिव नीतिका वर्मा ने बताया कि इन लोक अदालतों में कुल 21 बैंचों का गठन किया गया और हर एक बैंच पर दो-दो सदस्यों की डयूटी लगाई गई। उन्होंने बताया कि लोक अदालत में कुल 3990 केस लगाए गए। जिनमें से 1248 केसों का निपटारा राजीनामे के तहत किया गया और 34 करोड़ 93 लाख 89 हजार 121 रुपए के अवार्ड पास किए गए।

Barnala News - nearly rs 653 crore awarded for 346 cases
X
Barnala News - nearly rs 653 crore awarded for 346 cases
Barnala News - nearly rs 653 crore awarded for 346 cases
COMMENT