आढ़तियाें ने किसानाें काे चेक से अदायगी बंद करने का किया विरोध

Sangrur News - पंजाब सरकार ने खेताबाड़ी कानून में बदलाव किए जाने के रोषस्वरूप आढ़ती एसोसिएशन की बैठक प्रांतीय प्रधान रविंदर...

Feb 15, 2020, 08:30 AM IST

पंजाब सरकार ने खेताबाड़ी कानून में बदलाव किए जाने के रोषस्वरूप आढ़ती एसोसिएशन की बैठक प्रांतीय प्रधान रविंदर चीमा की अगुअाई में हुई। बैठक को संबोधित करते हुए रविंदर चीमा ने कहा कि पंजाब सरकार ने आढ़तियों को बर्बाद करने के लिए किसानों को चेक से अदायगी खत्म कर दी। इस सरकार ने कैबिनेट की मंजूरी लिए बिना पूर्व अकाली दल-भाजपा गठबंधन सरकार के फैसलों को रातोंरात बदल दिया। प्रदेश में 90 प्रतिशत किसान आढ़तियों से चेक के जरिये अदायगी लेते थे, परंतु नए कानून के तहत अब चेक से अदायगी खत्म कर दी गई है। किसानों को अपनी सुविधा के अनुसार आढ़तियों या खरीदार से अदायगी लेने के विकल्प को भी खत्म कर दिया गया है, जबकि पूर्व में सरकार ने लाखों रुपए की दुकानें आढ़तियों को बेची थीं, जो अब खंडहर बन जाएंगी। उन्हाेंने कहा कि कांग्रेस सरकार पिछले पांच महीने से तड़प रहे किसानों व आढ़तियों का कोई हालचाल नहीं पूछ रही है, जिसके रोषस्वरूप आढ़ती एसोसिएशन 15 फरवरी को फिल्लौर की नई अनाज मंडी में पंजाबभर के आढ़तियों का इकट्ठा कर रही है। प्रदेशभर की मंडियाें से बड़ी संख्या में आढ़ती शिरकत करेंगे। इस माैके पर संघर्ष के लिए अगली रणनीति बनाई जाएगी। इस अवसर पर संगठन के प्रांतीय उपप्रधान तरसेम कुलार, शंकर बांसल, हरबंस धालीवाल, कुलदीप भैणी, रजिंदर कुमार, कृष्ण चंद, शिवजी राम, बृज लाल, अमित गोयल, रमेश कुमार, दलजीत सिंह, महरोक राम, संधे राम, प्रताप जखेपल, मंगत राम, रजिंदर गोल्डी, बलदेव धर्मगढ़, आशु गांधी, बिल्लू खडियाल मौजूद रहे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना