• Home
  • Punjab News
  • Sunam News
  • भगवान कृष्ण निराकार ब्रह्म है, जो अधर्म, पाप और अत्याचार मिटाने के लिए अवतरित होते हैं : साध्वी
--Advertisement--

भगवान कृष्ण निराकार ब्रह्म है, जो अधर्म, पाप और अत्याचार मिटाने के लिए अवतरित होते हैं : साध्वी

दिव्य ज्योति जागृति संस्थान की ओर से पांच दिवसीय श्री कृष्ण कथा ज्ञान यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। कथा के द्वितीय...

Danik Bhaskar | Apr 13, 2018, 02:55 AM IST
दिव्य ज्योति जागृति संस्थान की ओर से पांच दिवसीय श्री कृष्ण कथा ज्ञान यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। कथा के द्वितीय दिवस की शुरूआत स्वामी उमेशानंद, साध्वी ईश्वर प्रीता भारती, अमित गोयल, जनकराज बांसल, योगेश बांसल, प्रवीण गोयल, पंकज सिंगला, गोरा लाल गोयल, अजय गोयल, गगन गोयल, राज कुमार, मोहित गर्ग ने परिवार सहित पूजन करके की।

कथा में परम पूजनीय सर्व श्री आशुतोष महाराज की शिष्या साध्वी सुश्री रूपेश्वरी भारती ने भगवान श्री कृष्ण की महिमा का वर्णन किया। भगवान श्री कृष्ण निराकार ब्रह्म है, जो अधर्म, पाप व अत्याचार मिटाने के लिए अवतरित होते हैं। अवनारवाद की व्याख्या करते हुए कहा कि जब-जब इस धर्म की ग्लानि होती है तथा अधर्म का अभ्युत्थान होता है तब-तब भगवान अपने को इस विश्व में अवतरित करते हैं। अजन्मा जन्म को स्वीकार कर लेता है। निराकार परमात्मा साकार हो जाता है। समय-समय पर अनेक अवतारों ने भारत की भूमि पर जन्म लिया है। भारत जिसे विश्व का ह्रदय भी कहा गया है, योनि ईश्वर सर्वभूत प्राणियों का धाम है। ईश्वर सर्व प्राणियों केे ह्रदय में निवास करता है इसलिए भगवान भारत रूपी ह्रदय में अवतार धारण करते हैं। द्वापर युग में प्रभु ने इस धरा धाम को अपने चरण कमलों से पावन किया। प्रभु की कथा ने कितने ही जीवों के जीवन को निर्मल किया है। यदि मानव भगवान श्री कृष्ण के चरित्र से प्राप्त शिक्षा व संदेश को जीवन में धारण कर ले तो नि:संदेह एक आदर्श मानव का निर्माण होगा। जब एक आदर्श मानव का निर्माण होगा। तब एक आदर्श परिवार का गठन होगा। इस मौके पर ज्योति प्रजवलित करने केे लिए बगीरथ राय, विक्रम गोयल, गीता शर्मा, डाॅ.आरके गोयल, सोमनाथ वर्मा, रेनू गर्ग, कुलदीप गर्ग, ,शशि गर्ग, वीना रानी, गीतू, गौरव बांसल, गिरधारी लाल, पवन कुमार, प्रेम पाल, विजय कुमार, भूषण , मोहित गर्ग, सुभाष चंद मोदी, एडवोकेट रामेश कुमार शर्मा , गोपाल शर्मा पहुंचे।

सुनाम में पांच दिवसीय श्री कृष्ण कथा ज्ञान यज्ञ के दूसरे दिन की शुरूआत करवाते हुए गणमान्य।