तलवंडी साबो

  • Hindi News
  • Punjab News
  • Talwandi Saboo News
  • सिरसा से प्लान हुआ मौड़ बम ब्लास्ट, कबाड़ी से खरीदकर डेरे की वर्कशॉप में असेम्बल की गई थी इस्तेमाल म
--Advertisement--

सिरसा से प्लान हुआ मौड़ बम ब्लास्ट, कबाड़ी से खरीदकर डेरे की वर्कशॉप में असेम्बल की गई थी इस्तेमाल मारुति

नरिंद्र शर्मा | चंडीगढ़/जालंधर विधानसभा चुनाव से 3 दिन पहले 31 जनवरी 2017 को कांग्रेस प्रत्याशी व डेरा सिरसा मुखी...

Dainik Bhaskar

Feb 09, 2018, 02:55 AM IST
सिरसा से प्लान हुआ मौड़ बम ब्लास्ट, कबाड़ी से खरीदकर डेरे की वर्कशॉप में असेम्बल की गई थी इस्तेमाल म
नरिंद्र शर्मा | चंडीगढ़/जालंधर

विधानसभा चुनाव से 3 दिन पहले 31 जनवरी 2017 को कांग्रेस प्रत्याशी व डेरा सिरसा मुखी गुरमीत राम रहीम के समधी हरमंदर सिंह जस्सी की मौड़ मंडी में हो रही चुनावी जनसभा में हुए बम ब्लास्ट में इस्तेमाल कार सिरसा में डेरे की वर्कशॉप के बी हिस्से में असेंबल की गई थी। ये कार बाबा के लिए गाड़ियां मोडिफाई करने वाले मैकेनिक गुरतेज काला के कहने पर वर्कशॉप के 4 लोगों ने तैयार की थी, मगर उन्हें नहीं पता था कि इस कार का इस्तेमाल ब्लास्ट में होगा। यह खुलासा वर्कशॉप में काम करने वाले 4 कर्मचारियों ने किया है। उन्होंने मौड़ पुलिस थाने में पहुंच ब्लास्ट में इस्तेमाल हुई कार की शिनाख्त की। इसके बाद पुलिस के समक्ष 161 सीआरपीसी और तलवंडी साबो कोर्ट में ज्यूडीशियल मजिस्ट्रेट फ़र्स्ट क्लास गुरदर्शन सिंह के समक्ष 164 सीआरपीसी के तहत बयान दर्ज करवाए। इस दौरान एसआईटी के सदस्य डीआईजी रणबीर खटड़ा, एआईजी इंटेलीजेंस स्वपन शर्मा, केस के जांच अफसर इंस्पेक्टर दलबीर सिंह भी कोर्ट पहुंचे। काला ने ये कार किसके कहने पर तैयार करवाई थी और ब्लास्ट में उसकी क्या भूमिका थी, अभी यह पता नहीं चला है। एसआईटी अब काला की तलाश कर रही है। उधर, पुलिस सूत्रों के अनुसार कार में सिरसा में ही आईईडी (इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) फिट किया गया था इसके बाद उसे 90 किमी. चालकर मौड़ मंडी लाया गया और जनसभा के पास छोड़ दिया गया।

डेरे की वर्कशॉप के मैकेनिक गुरतेज ने असेंबल कराई कार, सिरसा में ही लगी आईईडी

वर्कशॉप कर्मियों के बयान के अनुसार मारुति 800 को सिरसा के एक कबाड़ी सुनील कुमार से खरीदा गया था। इसके बाद इस कार को सिरसा में डेरे के गेट के पास पेट्रोल पंप के साथ बनी वर्कशॉप में ले जाया गया। यहां वर्कशॉप दो पार्ट में है। ए पार्ट में डेरे और प्राइवेट गाड़ियों की रिपेयरिंग होती है। जबकि बी में सिर्फ डेरा मुखी की। यहां सुपरवाइजर डबवाली के गांव आलीके का गुरतेज काला है। मारुति के पार्ट्स मानसा के सरदूलगढ़ के डेंटर नारायण सिंह ने बदले थे। जबकि कार में इंजन बांधने का काम चोरमार गांव के हरप्रीत सिंह और राजस्थान के हरमेल सिंह ने किया। करनाल के पेंटर कृष्ण कुमार ने मारुति को सफेद पेंट किया था। ये सभी डेरे की वर्कशॉप में काम करते थे। कार की बैटरी भी सिरसा से खरीदी गई, जिसे काला खरीदकर लाया था। कूकर सुनाम की एक प्राइवेट फैक्ट्री में बना था।

31 जनवरी 2017 को रात 8:23 पर ब्लास्ट किया गया

इसी पेट्रोल पंप के पास वर्कशाॅप में कार असेंबल की गई थी।

हरमंदर जस्सी की सभा में हुआ था ब्लास्ट

पूर्व मंत्री व 2017 के चुनाव में कांग्रेस के मौड़ से प्रत्याशी रहे हरमंदर जस्सी की चुनावी सभा में ब्लास्ट हुआ वह राम रहीम के समधी हैं।

X
सिरसा से प्लान हुआ मौड़ बम ब्लास्ट, कबाड़ी से खरीदकर डेरे की वर्कशॉप में असेम्बल की गई थी इस्तेमाल म
Click to listen..