--Advertisement--

जाखड़ ने सीएम को लिखा लेटर

पंजाब कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ ने हफ्ता पहले सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को लेटर लिखकर प्राइवेट थर्मल प्लांटों...

Dainik Bhaskar

Feb 05, 2018, 03:10 AM IST
जाखड़ ने सीएम को लिखा लेटर
पंजाब कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ ने हफ्ता पहले सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को लेटर लिखकर प्राइवेट थर्मल प्लांटों से पिछली सरकार द्वारा किए गए बिजली खरीद के एग्रीमेंटों की जांच की मांग की है। जाखड़ ने विधानसभा चुनाव से पहले अकाली-भाजपा सरकार पर 7500 करोड़ की रियायतें प्राइवेट प्लांटों को देने के आरोप लगाए थे। ये भी कहा था कि इनसे महंगे बिजली खरीद समझौते किए गए हैं।

कैश फ्लो स्टरलाइट का, प्रोजेक्ट सहयोगी कंपनी के नाम : सर्किट हाउस में सुनील जाखड़ ने कहा, स्टरलाइट कंपनी को तलवंडी साबो में थर्मल प्लांट प्रोजेक्ट दिया गया। प्रोजेक्ट के लिए स्टरलाइट ने अपने मुख्य उपक्रम का कैश फ्लो दिखाया जबकि बिड उसी की सहयोगी कंपनी को दी गई। ये अगस्ता हेलिकाप्टर खरीद मामले जैसा ही है। यहां सिर्फ निर्माता ही बिड ले सकता था लेकिन उसकी ट्रेडिंग कंपनी को ये काम सौंप दिया गया। दूसरी बात ये है कि थर्मल प्लांट ने देरी से काम स्टार्ट किया लेकिन इसके 800 करोड़ रुपये तब अकाली-भाजपा सरकार ने उससे नहीं लिए। गोईंदवाल के प्लांट से भी देरी के लिए 250 करोड़ रुपये नहीं लिए गए। जाखड़ ने कहा, अब प्लांट तो उखाड़े नहीं जा सकते। इस मकसद के साथ मैंने सीएम से जांच मांगी है ताकि कम से कम बिजली खरीद की कीमतों में तो कमी आए।

अकाली-भाजपा सरकार में किए गए बिजली खरीद समझौतों की जांच हो

प्रैस कान्फ्रेंस करते सुनील जाखड़। साथ में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू व अन्य।

राणा जांच के लिए इनकार कर चुके | जब राणा गुरजीत सिंह बिजली मंत्री थे तो उन्होंने सर्किट हाउस में ही 31 दिसंबर को प्राइवेट बिजली खरीद समझौतों की जांच कराने को लेकर इनकार किया था। उन्होंने कहा था कि ऐसा करने से इनवेस्टरों के बीच सरकार की क्रेडिबिल्टी को लेकर छवि खराब होती है।

X
जाखड़ ने सीएम को लिखा लेटर

Recommended

Click to listen..