• Hindi News
  • Punjab News
  • Tanda
  • जुल्म के निशां... सरां चौकी इंचार्ज ने बेटे से लिखवाया- पिता ठीक हैं, घर ले जा रहां हूं
--Advertisement--

जुल्म के निशां... सरां चौकी इंचार्ज ने बेटे से लिखवाया- पिता ठीक हैं, घर ले जा रहां हूं

पुलिस का पिटाई का शिकार हुआ पीड़ित रविनाथ अस्पताल में भर्ती। कमल अरोड़ा | टांडा थाना टांडा के सरां चौकी में...

Dainik Bhaskar

Jul 16, 2018, 02:55 AM IST
जुल्म के निशां... सरां चौकी इंचार्ज ने बेटे से लिखवाया- पिता ठीक हैं, घर ले जा रहां हूं
पुलिस का पिटाई का शिकार हुआ पीड़ित रविनाथ अस्पताल में भर्ती।

कमल अरोड़ा | टांडा

थाना टांडा के सरां चौकी में पुलिस की कार्रवाई पर एक बार फिर सवाल उठे हैं। दरअसल घरेलू झगड़े में बेटे द्वारा पिता के खिलाफ दी गई शिकायत पर पुलिस ने पिता को इतना मारा कि उसे सिविल अस्पताल में दाखिल करवाना पड़ा। पुलिस ने पीड़ित रविनाथ के बैक साइड पर पटे से इतना मारा कि उसकी चमड़ी उधड़ गई। यह सब तब हुआ जब पीड़ित का बेटा वहीं मौजूद था। इसके बाद पीड़ित को पुलिस उसके घर के सामने फेंक गई। उसकी दोनों बेटियों ने ही उसे घायल हालत में सिविल अस्पताल टांडा में दाखिल करवाया। पीड़ित रविनाथ निवासी बैंचा ने बताया कि उसके बेटे दीपक कुमार की शादी 10 साल पहले कमलजीत कौर के साथ हुई थी। उसकी प|ी का देहांत कुछ वर्ष पहले हो गया था। उसकी चार बेटियां हैं, जिनमें से तीन की शादी हो चुकी है और एक बेटी मनदीप कौर है, जो 11वीं में पढ़ रही है। बेटे की शादी के बाद ही घर में लड़ाई होने लगी। झगड़ा इतना बढ़ गया कि उन्होंने दीपक और उसकी प|ी कमलजीत कौर को घर से बेदखल कर दिया। रविनाथ की छोटी बेटी मनदीप कौर की पढ़ाई के कारण घर का काम चलाना मुश्किल था इसलिए चार महीने बाद उन्होंने बेटे दीपक और बहू कमलजीत कौर घर वापस बुला लिया। 10 दिन पहले दीपक कुमार का साला एक नाबालिग लड़की को भगाकर घर ले आया। उन्होंने जब इसका विरोध किया तो दीपक और उसकी प|ी उनके साथ झगड़ा करने लगे। दीपक के ससुराली भी उनके घर पहुंच गए और सभी ने रविनाथ की पिटाई की और अड्डा सरां चौकी में शिकायत दर्ज करवा दी। चौकी इंचार्ज जगदीप सिंह दो मुलाजिमों गुरदीप सिंह व गुरदियाल सिंह के साथ रात 9 बजे सरपंच तथा बिना किसी गणमान्य व्यक्ति को बताए ही उन्हें घर से उठा लिया और चौकी ले जाकर दीपक और ससुरालियों के सामने नग्न कर उनको पटे से खूब पीटा। इसके बाद वह बेहोश हो गए।

घर के सामने फेंक गई पुलिस : अमनदीप

रविनाथ की बेटी अमनदीप कौर ने बताया कि पुलिस पिता को बेहोशी की हालत में घर के बाहर फेंक गई। तीनोंं पुलिस मुलाजिमों ने शराब पी रखी थी और दोनों बहनों के साथ बदतमीजी की। उन्होंने 108 एंबुलेंस की सहायता से पिता को सिविल अस्पताल टांडा पहुंचाया।

थानेदार ने चौकी आने को कहा : मनदीप

रविनाथ की छोटी बेटी मनदीप कौर ने बताया कि उसने चौकी इंचार्ज को करीब 11 बजे फोन किया कि आप लोगों ने उनके पिता को पीट-पीट कर बेहोश क्यों किया तो उक्त थानेदार ने उसके साथ अश्लील बातें करते हुए कहा कि तुम अभी मेरे पास चौकी आ जाओ सब कुछ बता दूंगा।

शिकायत दी थी, लेकिन पता नहीं था पुलिस इतनी बुरी तरह पीटेगी : दीपक कुमार

उधर, रविनाथ के लड़के दीपक कुमार ने बताया कि उसने पिता के खिलाफ शिकायत दी थी, मगर पुलिस इतना पीटेगी उसे इसकी जानकारी नहीं थी। पीटने के बाद चौकी इंचार्ज जगदीप सिंह ने एक पेपर पर लिखवा लिया कि उसका पिता बिलकुल ठीक-ठाक है, जिसको वह घर ले जा रहा है।

जांच के बाद करेंगे सस्पेंड : एसएसपी

एसएसपी जे ईलचेजियन ने कहा कि यह मामला उनके ध्यान में है। डीएसपी को जांच सौंपी है। सोमवार सुबह रिपोर्ट आने के बाद संबंधित पुलिस अधिकारियों को सस्पेंड किया जाएगा। डीएसपी टांडा गुरप्रीत सिंह गिल ने बताया कि इस घटना की जांच वह खुद कर रहे हैं। जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके लिए दोषी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा।

X
जुल्म के निशां... सरां चौकी इंचार्ज ने बेटे से लिखवाया- पिता ठीक हैं, घर ले जा रहां हूं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..