Home | Rajasthan | Aahor | प्रतिष्ठा का सवाल बनी सीट भाजपा नहीं जीत पाई, वार्ड संख्या 20 में कांग्रेस के रणछोड़ाराम जीते

प्रतिष्ठा का सवाल बनी सीट भाजपा नहीं जीत पाई, वार्ड संख्या 20 में कांग्रेस के रणछोड़ाराम जीते

आहोर पंचायत समिति के वार्ड संख्या 20 के उपचुनाव में कांग्रेस ने सीट बचा ली है। यहां सदस्य के त्याग पत्र देने के बाद...

Bhaskar News Network| Last Modified - Jun 15, 2018, 02:00 AM IST

प्रतिष्ठा का सवाल बनी सीट भाजपा नहीं जीत पाई, वार्ड संख्या 20 में कांग्रेस के रणछोड़ाराम जीते
प्रतिष्ठा का सवाल बनी सीट भाजपा नहीं जीत पाई, वार्ड संख्या 20 में कांग्रेस के रणछोड़ाराम जीते
आहोर पंचायत समिति के वार्ड संख्या 20 के उपचुनाव में कांग्रेस ने सीट बचा ली है। यहां सदस्य के त्याग पत्र देने के बाद हुए उपचुनाव में कांग्रेस के रणछोडऱाम मेघवाल ने भाजपा के राजाराम मेघवाल को 813 मतों से हराया। जिला निर्वाचन अधिकारी बीएल कोठारी ने बताया कि पंचायती राज संस्थाओं के उप चुनाव के तहत आहोर पंचायत समिति के सदस्य निर्वाचन क्षेत्र संख्या 20 (अनुसूचित जाति) के लिए 12 जून को मतदान हुआ, जिनकी गणना गुरुवार को आहोर में संपन्न हुई। उन्होंने बताया कि मतगणना में 2 हजार 135 कुल मतों में से कांग्रेस के रणछोड़ाराम को 1 हजार 445 मत प्राप्त हुए। वहीं भाजपा के राजाराम को 632 मत प्राप्त हुए तथा 58 मत नोटा को मिले। इस प्रकार कांग्रेस अभ्यर्थी रणछोड़ाराम 813 मतों के अंतर से निर्वाचित हुए। मेघवाल की जीत पर ब्लॉक अध्यक्ष लादूराम चौधरी, सवाराम पटेल समेत कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने खुशियां मनाई।

सीट गंवाने के बाद भी कोई फर्क नहीं : आहोर पंचायत समिति में कुल 23 सीट में से 17 सीटों पर भाजपा का कब्जा है। 6 सीट ही कांग्रेस के पास है। वार्ड संख्या 20 की सीट पर इससे पहले कांग्रेस के केवलराम मेघवाल थे। जिनका राजकीय सेवा में चयन होने पर उन्होंने त्यागपत्र दे दिया था।

आहोर. वार्ड संख्या 20 के विजेता प्रत्याशी के साथ खुशी मनाते कांग्रेसी।

दोनों पार्टियों के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बनी थी यह सीट

यह सीट दोनों प्रमुख राजनीतिक पार्टियों के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बनी हुई थी। वार्ड संख्या बीस में रामा, जूना रामा, बांकली, सेलड़ी, देवगढ़, पीपलिया, गोविंदला गांव शामिल है। आहोर में वर्तमान प्रधान राजेश्वरीकंवर का यह पीहर क्षेत्र भी है। साथ ही आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए मतदाताओं के रुझान भांपने के लिए दोनों पार्टियों ने पूरा जोर लगाया था। आहोर विधायक शंकरसिंह राजपुरोहित ने तो तीन दिन लगातार प्रचार करते हुए गांव में विकास कार्य करवाने की घोषणा की थी। वहीं कांग्रेस से भाद्राजून कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष लादूराम चौधरी ने भी पूरा जोर लगा दिया था। लादूराम चौधरी आहोर विधानसभा क्षेत्र कांग्रेस के मुख्य बूथ एजेंट रहे हुए हैं। जिस कारण क्षेत्र में पूरी पकड़ का यहां फायदा भी मिला। वैसे यह सीट पहले भी कांग्रेस के पास ही थी, लेकिन इस बार भारी अंतर से जीत ने भाजपा के लिए चिंता बढ़ाई है।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now