Hindi News »Rajasthan »Aahor» दो दिन से लापता व्यक्ति का शव खेत की बाड़ के पास मिला, सिर पर चोटों से हत्या का अंदेशा

दो दिन से लापता व्यक्ति का शव खेत की बाड़ के पास मिला, सिर पर चोटों से हत्या का अंदेशा

नोसरा थाना क्षेत्र के ग्राम खेड़ा व अजीतपुरा गांव के बीच दो दिन से लापता एक व्यक्ति का शव गुरुवार शाम को मिला है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 26, 2018, 02:10 AM IST

दो दिन से लापता व्यक्ति का शव खेत की बाड़ के पास मिला, सिर पर चोटों से हत्या का अंदेशा
नोसरा थाना क्षेत्र के ग्राम खेड़ा व अजीतपुरा गांव के बीच दो दिन से लापता एक व्यक्ति का शव गुरुवार शाम को मिला है। व्यक्ति के सिर पर चोटों के निशान होने पर परिजनों व ग्रामीणों ने हत्या की आशंका जताई तथा देर शाम तक शव नहीं उठाया। जानकारी के अनुसार खेड़ा निवासी मंगलसिंह (45) पुत्र नगसिंह रावणा राजपूत गांव से दो दिन पहले बुधवार को दो बजे अपने घर से मोटरसाइकिल लेकर पेट्रोल भरवाने का कहकर आहोर की की ओर चला गया था, लेकिन देर रात तक वापस अपने घर नहीं लौटा तो परिजनों ने आस-पास जाकर पूछताछ की, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली। गुरुवार शाम के समय ग्रामीण खेड़ा और अजीतपुरा ग्राम के खेतों की तरफ गुजर रहे थे। तब वहां पर दुर्गन्ध फैली हुई थी। लोगों ने इधर-उधर देखा तो वहां पर एक मोटरसाइकिल खड़ी थी और कुछ दूरी पर जूते पड़े हुए थे। पास जाकर ग्रामीणों ने देखा तो वहा पर शव पड़ा हुआ था। जानकारी मिलते ही अजीतपुरा और खेड़ा दोनों ग्राम के लोग वहां पर इकट्ठा हुए और इसकी जानकारी नोसरा पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर आकर शव को कब्जे लेकर पोस्टमार्टम के लिए आहोर भेज दिया। पुलिस ने बताया कि शव को 24 घंटे से ज्यादा का समय होने से सड़ने लग गया था और बदबू फैलने लग गई थी।

देर शाम तक शव नहीं उठाया, अज्ञात के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज, विधायक राजपुरोहित भी पहुंचे

आहोर. घटना की जानकारी मिलते ही एसडीएम कार्यालय परिसर में जमा हुए लोग।

परिजनों व ग्रामीणों ने जताई हत्या की आशंका

परिजनों व ग्रामीणों ने हत्या का अंदेशा जताते हुए शव लेने से इनकार कर दिया। ग्रामीणों को हत्या का अंदेशा होने पर शुक्रवार को आहोर चिकित्सालय में सुबह कई लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई। ग्रामीणों की मेडिकल टीम बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाने की मांग पर तीन चिकित्सकों की टीम से पोस्टमार्टम करवा दिया, लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए देर शाम तक शव नहीं उठाया।

समझाइश में जुटे विधायक व पुलिस, नहीं माने

देर शाम तक मृतक के परिजन शव उठाने को राजी नहीं हुए। परिजनों ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल किए। उनके मुताबिक पुलिस ने पहले तो मौका निरीक्षण भी ठीक से नहीं किया। साथ ही तफ्तीश में देरी कर रही है। कॉल डिटेल समेत आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर परिजन एसडीएम कार्यालय परिसर के बाहर धरने पर बैठ गए। देर शाम को विधायक शंकरसिंह राजपुरोहित व पुलिस उपाधिक्षक समझाइश के लिए पहुंचे। समाचार लिखे जाने तक समझाइश चल रही थी।

सिर में चोट होने से पैदा हुआ शक

मंगलसिंह घर से सही सलामत निकला था, लेकिन दो दिन बाद उसका शव मिला। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उसके सिर में चोट के निशान मिले हैं। जिस कारण परिजनों को हत्या का अंदेशा है। परिजनों की मांग पर पुलिस ने अज्ञात के विरुद्ध हत्या का मामला भी दर्ज कर लिया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Aahor

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×