• Home
  • Rajasthan News
  • Aasind News
  • 50 साल बाद प्रेमदास के खाते में दर्ज हुआ कुआं, 90 साल की उम्र में नौला बना भोला सिंह तो छलकी खुशी
--Advertisement--

50 साल बाद प्रेमदास के खाते में दर्ज हुआ कुआं, 90 साल की उम्र में नौला बना भोला सिंह तो छलकी खुशी

राजस्व लोक अदालत अभियान न्याय आपके द्वार शिविर सोमवार को दांतड़ा में लगाया गया। शिविर में 50 वर्ष बाद कुआं खाते में...

Danik Bhaskar | May 08, 2018, 04:20 AM IST
राजस्व लोक अदालत अभियान न्याय आपके द्वार शिविर सोमवार को दांतड़ा में लगाया गया। शिविर में 50 वर्ष बाद कुआं खाते में दर्ज किया गया। ग्रामीण नौला का नाम राजस्व रिकॉर्ड में भोला सिंह दर्ज किया गया। 70 वर्षीय प्रेमदास बैरागी निवासी बड़ाखेड़ा के लिए शिविर खुशियां लेकर आया।

6 साल से कोर्ट के चक्कर लगा रहे प्रेमदास के पिता केशवदास व चाचा गोकलदास ने 50 वर्ष पूर्व कुआं खोदा। इसे रिकॉर्ड में दर्ज किया, लेकिन उस समय भू-प्रबंध विभाग की कार्रवाई के दौरान इसे बिलानाम दर्ज कर दिया गया। इस गलती से प्रेमदास काे बिजली कनेक्शन मिला न कुएं का वैधानिक अधिकार मिल पाया। प्रेमदास ने उपखंड अधिकारी दिनेश कुमार धाकड़ को बताया कि पिता का निधन हो गया। वह भी 60 का हो गया है। अब तो कुआं उसके नाम दर्ज करा दिया जाए। इस पर उपखंड अधिकारी ने कुआं उसके खाते में दर्ज कराकर नकल प्रेमदास को सौंपी। मानसिंहजी का खेड़ा निवासी 70 वर्षीय राम लाल बैरवा भाइयों के साथ शिविर में पहुंचा। उपखंड अधिकारी धाकड़ के समक्ष राम लाल ने कहा कि जमीन का बंटवारा करा दीजिए। तत्काल विभाजन का प्रस्ताव तैयार कर सहमति विभाजन किया गया। 90 वर्षीय भोला सिंह 40 साल से परेशान थे क्योंकि पटवारी ने खाते में उनका नाम नौला दर्ज कर दिया था। उपखंड अधिकारी धाकड़ ने नाम शुद्धि कराई। शिविर में विधायक रामलाल गुर्जर, अशोक कुमार पारीक आदि मौजूद थे।