• Hindi News
  • Rajasthan
  • Abu Road
  • आबूरोड में एक ही जगह बनेंगे न्यायालय भवन, बारह हजार वर्ग फीट जमीन पर आठ करोड़ की लागत से होगा निर्म
--Advertisement--

आबूरोड में एक ही जगह बनेंगे न्यायालय भवन, बारह हजार वर्ग फीट जमीन पर आठ करोड़ की लागत से होगा निर्माण

सीआईटी कॉलेज एवं यूआईटी कार्यालय भवन के बीच स्थित नौ बीघा भूमि न्यायालय को आवंटित है भास्कर न्यूज | आबूरोड शहर...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:00 AM IST
आबूरोड में एक ही जगह बनेंगे न्यायालय भवन, बारह हजार वर्ग फीट जमीन पर आठ करोड़ की लागत से होगा निर्म
सीआईटी कॉलेज एवं यूआईटी कार्यालय भवन के बीच स्थित नौ बीघा भूमि न्यायालय को आवंटित है

भास्कर न्यूज | आबूरोड

शहर में अब सभी न्यायालय एक ही जगह होंगे। इसके लिए एक बड़ा भवन बनेगा। भवन निर्माण का यह काम जल्द ही शुरु होगा। जानकारी के अनुसार राज्य सरकार द्वारा बड़े-बड़े शहर की तरह से आबूरोड में भी व्यवस्थित न्यायालय भवन एवं कर्मचारियों के आवास बनाने के उददेश्य के साथ यहां नौ बीघा भूमि का आवंटन किया गया था। अब इस भूमि पर जल्दी ही न्यायालय भवन का निर्माण का काम शुरु हो जाएगा। इसके लिए सभी औपचारिकताएं एवं वर्कआर्डर आदि आवश्यक काम किए जा चुके है। सार्वजनिक निर्माण विभाग के माध्यम से जहां यह काम करवाया जाएगा वह प्रस्तावित बारह हजार स्कवायर फीट जगह चिंहित भी कर ली गई है। मुंसिफ न्यायालय, एडीजे कोर्ट-1, व एडीजे कोर्ट-2 तथा फास्टट्रेक कोर्ट व्यवस्थित रुप से बनेगी। नए न्यायालय भवन में लोगों को वाहन पार्किंग, प्रतीक्षालय, पीने के पानी एवं शौचालय-मूत्रालय जैसी मूलभूत सुविधाएं मिलेगी।


आबूरोड. न्यायालय भवन के शिलान्यास को लेकर जमीन पर कार्य शुरू किया गया।

अभी छोटे भवन से हो रही परेशानी

आबकारी क्षेत्र मार्ग पर तहसील कार्यालय के समीप इन न्यायालयों का संचालन हो रहा है। यह परिसर बहुत छोटा है। वाहन पार्किंग के लिए जगह भी काफी कम है। इससे अधिकांश अधिवक्ताओं को भी वाहन न्यायालय परिसर के बाहर मुख्य मार्ग पर खड़े करने पड़ते है। इसके बाद यहां आने वाले लोग पुलिस वाहन भी जहां जगह-मिलती है खड़े हो जाते हैं। कई बार तो यह स्थिति हो जाती है कि इधर से बड़े वाहन के आने की स्थिति में व्यवस्था बाधित हो जाती है। वाहनों को इधर से निकालने के लिए जिनके वाहन बीच राह खड़े होते हैं उन्हे ढूंढते रहते है। इसके साथ ही भले ही यह क्षेत्र शहर के बीचोंबीच है लेकिन, आसपास में खानपान तक की सुविधाओं का अभाव बना है। नए भवन में ऐसी कोई समस्याएं नही रहेगी।

जमीन की साफ-सफाई और समतलीकरण का कार्य शुरु

पूर्व में इस जमीन पर अंग्रेजी बबूल की बड़ी-बड़ी झाडिय़ां उगी थी। पिछले दो-तीन दिनों से जेसीबी की सहायता से इनको हटवा दिया गया है। अब निर्माण कार्य स्थल पर चट्टानों का लेबलीकरण कार्य करवाया जा रहा है। बुधवार दोपहर को सार्वजनिक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता रमेश बराड़ा अपने सहयोगियों के साथ यहां पहुंचे तथा कार्य का निरीक्षण किया। संबंधित ठेकेदार फर्म संचालक को आवश्यक दिशानिर्देश दिए। इस दौरान उन्होने समारोह स्थल को भी देखा तथा वहां भी सफाई करवाने व बीच में आ रहे लोहे के बोर्डों को हटवाने के लिए पाबंद किया।

दो चरणों में होगा काम


X
आबूरोड में एक ही जगह बनेंगे न्यायालय भवन, बारह हजार वर्ग फीट जमीन पर आठ करोड़ की लागत से होगा निर्म
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..