--Advertisement--

मतदान के बाद प्रत्याशियों को मिली फुर्सत, अब समर्थकों से ले रहे फीडबैक

Abu Road News - निर्दलीय प्रत्याशी संयम लोढ़ा के निवास पर सुबह से देर शाम तक कार्यकर्ताओं व समर्थकों का आवागमन जारी रहा। शाम ्4...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:55 AM IST
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
निर्दलीय प्रत्याशी संयम लोढ़ा के निवास पर सुबह से देर शाम तक कार्यकर्ताओं व समर्थकों का आवागमन जारी रहा। शाम ्4 बजे लोढ़ा जब कार्यकर्ताओं से वार्ता कर रहे थे, उन्होंने बताया कि उन्हें कोई थकान नहीं है, दिनभर कार्यकर्ताओं से मिल रहा हूं।



भास्कर न्यूज | सिरोही/शिवगंज

चुनावी मैदान प्रत्याशियों के प्रचार के बाद मतदाताओं ने भी अपनी जिम्मेदारी पूरी कर दी। अब सबकी निगाहें 11 दिसंबर को होने वाली मतगणना पर है, जब सवेरे आठ बजे मतगणना शुरु होगी और दोपहर होते-होते सारे परिणाम सामने आ जाएंगे। इधर, पिछले एक माह से चल रही राजनीतिक गतिविधियां शनिवार को पूरी तरह से थम गई। हालांकि, प्रशासनिक स्तर पर चुनावी कार्य को निपटाया गया, लेकिन राजनीतिक लोग आराम पर ही रहे। खासकर प्रत्याशियों और उनके साथ प्रचार पर लगे समर्थकों ने शनिवार को आराम ही किया। लगभग सभी प्रत्याशियों के दफ्तर बंद हो गए, जो पखवाड़े भर पहले ही खोले गए थे, लेकिन इन सभी के साथ ही अब राजनीतिक चर्चाएं शुरु हो गई। चौराहे से लेकर दुकानों और विभिन्न सरकारी दफ्तरों में भी सिर्र्फ एक ही सवाल था कि कौन जीतेगा। विधानसभा चुनाव को लेकर पखवाड़े भर से अपने क्षेत्र में शहर से लेकर गांव-गांव और मतदाताओं के घर-घर पहुंचे प्रत्याशियों ने शुक्रवार को हुए मतदान के बाद फुर्सत की सांस ली। साथ ही शनिवार को प्रत्याशियों ने समर्थकों से क्षेत्र का फीडबैक लिया। सिरोही विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी ओटाराम देवासी, कांग्रेस प्रत्याशी जीवाराम आर्य व निर्दलीय उम्मीदवार संयम लोढ़ा के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है, जिसमें किस प्रत्याशी की जीत होती है, इसका फैसला तो आने वाली ११ दिसंबर को मतगणना के बाद ही होगा, लेकिन फिलहाल हुए मतदान पर मंथन करते हुए कई लोग अपने-अपने कयास लगाने लगे है। वहीं मतदान होने के बाद प्रत्याशी भी अपने कार्यकर्ताओं के साथ बैठकर हुए मतदान पर आत्म मंथन कर रहे है। निर्दलीय प्रत्याशी संयम लोढ़ा और कांग्रेस प्रत्याशी जीवाराम आर्य दिनभर कार्यकर्ताओं ने समर्थकों से मिले। भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष प्रकाश भाटी ने बताया कि ओटाराम देवासी शनिवार को मुंडारा आशापुरा माताजी मंदिर में रहे।

पिछले एक माह से चुनाव को लेकर शहर, गांवों से लेकर मतदाताओं के घर-घर प्रचार में लगे प्रत्याशियों ने समर्थकों के साथ बैठकर की चर्चा

दिनभर कार्यकर्ताओं से मिले संयम लोढ़ा

सुने हुए दफ्तर

सिरोही. राजमाता धर्मशाला पर सूना पड़ा भाजपा का चुनाव कार्यालय।

निर्दलीय प्रत्याशी के जीत की भविष्य वाणी का वीडियो वायरल

शहर में स्थित प्रमुख प्रत्याशियों के दफ्तरों से शनिवार को रौनक गायब हो गई। अंबेडकर सर्किल रोड स्थित कांग्रेस प्रत्याशी जीवाराम आर्य का दफ्तर बंद हो गया। राजमाता धर्मशाला रोड स्थित ओटाराम देवासी के कार्यालय पर सन्नाटा पसरा था। निर्दलीय प्रत्याशी संयम लोढ़ा का कार्यालय जरूर खुला था, लेकिन यहां कार्यकर्ताओं की भीड़ नहीं थीं। वहीं, पिंडवाड़ा, रेवदर, आबूरोड, शिवगंज में भी खोले गए कार्यालयों की स्थिति ऐसी ही थी। कल तक इन दफ्तरों में ही सारी योजनाएं बनती थीं।

शनिवार को जिले के एक व्यक्ति ने सोशल साइट पर वीडियो वायरल कर निर्दलीय प्रत्याशी की जीत का दावा किया है। वीडियो वायरल होने के बाद लोगों में चर्चा का विषय बन गया। व्यक्ति वीडियो में बोल रहा है कि हैलो सब संयम जी के कार्यकर्ता व हमारे भाई, सब ११ तारीख को तैयार हो जाओ, संयम जी अपने जीत गए है। आप टेंशन छोड़ दो, रात को मेरे को गोगाजी ने सपने में आकर बोला कि संयमजी तेरा जीत गया है, अब कोई टेंशन लेने की नहीं है, आप अपनी तैयारी करों और डीजे वगैरा मंगवाओ और सब ११ तारीख के दिन अपने गोगाजी मंदिर में आ जाना, संयमजी को यहां माला पहनानी है, और यहां से चाबी देंगे और जयपुर चले जाएंगे और फिर जयपुर से वहां चाबी ताला खोलकर वापस इधर आएंगे। सिरोही-शिवगंज में संयमजी विकास करवाएंगे। यह अपनी गारंटी है। स्टॉम पर लिखे दो, कि संयम लोढ़ा जीत गया और सब आ जाओ। ११ तारीख को गोगाजी मंदिर में मेरी ओर से खाना है, सब आ जाना।

सिरोही. निर्दलीय प्रत्याशी संयम लोढ़ा का चुनाव कार्यालय खुला हुआ जरूर था, लेकिन आज रोजाना की तरह यहां रौनक नहीं थीं।

घर पर रहे जीवाराम आर्य

कांग्रेस प्रत्याशी जीवाराम आर्य भी शनिवार को अपने घर पर रहे और कार्यकर्ताओं से मिले। कार्यकर्ताओं के साथ बैठकर चुनाव पर हुए मतदान का आंकलन भी किया।

सिरोही. अंबेडकर सर्किल रोड पर खोला गया कांग्रेस का चुनाव कार्यालय नतीजों से पहले ही बंद हो गया।

मतदान के बाद प्रशासन ने ली राहत की सांस

लगभग एक माह की कवायद के बाद शुक्रवार को मतदान शांतिपूर्ण संपन्न होने पर प्रशासन ने राहत की सांस ली। जिले के सभी 741 बूथों पर शांतिपूर्ण मतदान हुआ। निष्पक्ष व शांतिपूर्ण मतदान कराना प्रशासन के लिए चुनौतीपूर्ण काम था, जिसे बखूबी पूरा किया। अब प्रशासन 11 दिसंबर को मतगणना की तैयारियों में जुट गया है। चुनाव के लिए अवकाश के दिनों में भी अधिकारियों-कर्मचारियों से आबाद रहने वाले कलेक्ट्रेट परिसर शनिवार को सूना नजर आया।

Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
X
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Revdar News - after the voting the candidates got a furts now the feedback from the supporters
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..