Hindi News »Rajasthan »Abu Road» भाजपा मंडलों की बैठकों में आए गिनती के कार्यकर्ता उपेक्षित गुट ने पदाधिकारियों को ठहराया जिम्मेदार

भाजपा मंडलों की बैठकों में आए गिनती के कार्यकर्ता उपेक्षित गुट ने पदाधिकारियों को ठहराया जिम्मेदार

भाजपा के नगर व ग्रामीण मंडल की दो अलग अलग बैठकों से रविवार को कार्यकर्ता गायब नजर आए। जिसके बाद सोशल मीडिया पर भी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 11, 2018, 02:00 AM IST

  • भाजपा मंडलों की बैठकों में आए गिनती के कार्यकर्ता उपेक्षित गुट ने पदाधिकारियों को ठहराया जिम्मेदार
    +1और स्लाइड देखें
    भाजपा के नगर व ग्रामीण मंडल की दो अलग अलग बैठकों से रविवार को कार्यकर्ता गायब नजर आए। जिसके बाद सोशल मीडिया पर भी पार्टी के ही उपेक्षित कार्यकर्ताओं ने कई सवाल खड़े किए। दरअसल, रविवार को भाजपा के नगर मंडल की बैठक डाक बंगले में और ग्रामीण मंडल की बैठक मानपुर स्थित धनकुकड़ी मंदिर परिसर में थी, लेकिन इन दोनों ही बैठकों में गिनती के ही कार्यकर्ता शामिल हुए। इनमें वे पदाधिकारी भी शामिल हैं जो दोनों बैठकों में पहुंचे, लेकिन इसके बावजूद संख्या नहीं बढ़ी। हालाकि भाजपा नेताओं ने इसको लेकर कहा कि हमने केवल पदाधिकारियों को ही बुलाया था, लेकिन खुद पार्टी के ही कई उपेक्षित कार्यकर्ताओं का कहना था कि बैठक में गिनती के ही कार्यकर्ता आए थे। इसका सबसे बड़ा कारण बड़े नेताओं की ओर से कार्यकर्ताओं की उपेक्षा करना है। नगर मंडल की बैठक में एक कार्यकर्ता ने दबे स्वर में कहा कि बैठक की सूचना नहीं मिली, इस पर मंडल के वरिष्ठ पदाधिकारी का कहना था कि वॉटसअप पर सूचना दी गई थी। इतना कहना था कि कार्यकर्ता ने तपाक से कह दिया कि वोट भी वॉटसअप पर ही ले लेना। इसे सुनकर वहां मौजूद हरेक पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता सकते में आ गया। बैठक में भाजपा के वरिष्ठ नेता बाबूभाई पटेल का कहना था कि अब बहुत हो गया है पदाधिकारियों को आगे आकर कार्यकर्ताओं की सुननी चाहिए। हम जिस मुकाम पर आज खड़े है उसका श्रेय इन्ही कार्यकर्ताओं को जाता है ये ही वोट दिलाते हैं। भाजपा नगर मंडल के पूर्व अध्यक्ष भगवानदास कुमावत का कहना था कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की ओर से कई ऐसी जनकल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही है जिनके अप्रत्याशित परिणाम सामने आएं हैं। लेकिन, आज भी आमजन को इसकी जानकारी नहीं है और यह काम कार्यकर्ता ही कर सकता है। क्षेत्रीय विधायक जगसीराम कोली, जिला उपाध्यक्ष विजय गोठवाल, पूर्व नगरपालिका चेयरमैन विष्णु मारु एवं नगर मंडल महामंत्री रमेश वैष्णव ने भी कार्यकर्ताअेां को संबोधित किया। बैठक में पार्षद अमित साम्बरिया, दीपक राणा, अजय बाला व पूर्व नगरमंडल अध्यक्ष राजेन्द्र अग्रवाल आदि मौजूद थे। इसी प्रकार ग्रामीण मंडल की बैठक में अध्यक्ष नगाराम देवासी, एडवोकेट श्रवणसिंह देवड़ा व प्रवीण राठौड़ आदि दर्जनभर पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

    नहीं मिल रहा है योजना का लाभ : बैठक में जब वक्ता सरकार की योजनाओं का बखान कर रहे थे उस दौरान पार्षद रितेशसिंह ने कहा कि लोगों को हो रही परेशानियेां की जानकारी दी। उनका कहना था कि लोगों को कई प्रकार की मुश्किलें आ रही है। समय रहते ध्यान देकर इनका समाधान करवाना होगा।

    बैठक की सूचना भी नहीं देने के लगाए आरोप, आमजन की समस्याओं पर कहा, नहीं होती कोई सुनवाई

    आबूरोड. भाजपा की बैठक में पहुंचे गिनती के लोग।

    उपेक्षित कार्यकर्ताअेां ने बैठक का बहिष्कार किया, कई आरोप भी लगाए

    भाजपा सरकार के पूरे चार साल के कार्यकाल के दौरान सरकार एवं पदाधिकारियों की ओर से उपेक्षित भाजपा के वरिष्ठ एवं जनाधार वाले कार्यकर्ताओं ने इस बैठक का पूरी तरह से बहिष्कार किया। इन लोगों ने खुलकर आरोप लगाया कि पूरे समय पदाधिकारियों एवं नेताओं ने अपने चहेतों को फायदा पहुंचाने में कोई कमी नहीं छोड़ी तथा नियमों के विपरित कार्य किए। जबकि, उनकी जायज मांगों को भी नजरअंदाज किया गया है। अब समय आ गया है तो वे भी बैठकों को बहिष्कार करके इनका जवाब दे रहे हैं।

    केवल पदाधिकारियों को बैठकों में बुलाया था

    इन बैठकों में केवल पदाधिकारियेां को ही बुलवाया गया था, इसलिए संख्या कम थी। कार्यकर्ताओं में नाराजगी जैसी कोई बात नहीं है। सोशल मीडिया पर इस बारे में क्या चल रहा है उसकी जानकारी नहीं है। -जगसीराम कोली, क्षेत्रीय विधायक

    आबूरोड. भाजपा की बैठक में गिनती के लोग शामिल हुए।

    बाकी कार्यकर्ताओं ने भाजपा छोड़ दी क्या

    बैठक के बाद हर बार की तरह मौजूद कुछेक कार्यकर्ताओं ने इनके फोटो वॉटस ग्रुपों में शेयर कर दिए तथा बैठकों के आयोजन की जानकारी दी। इस दौरान लोगों का कहना था कि ग्रामीण और नगर मंडल की बैठकों में 10 से 15 कार्यकर्ता ही मौजूद रहे क्या बाकी भाजपा को छोड़कर भाग गए हैं। या फिर क्षेत्रीय विधायक एवं पदाधिकारियों से नाराज है। विधायक साहब ध्यान देवें। वहीं एक कार्यकर्ता का कहना था कि वाह भाई वाह स्थानीय से लेकर केन्द्र तक सत्ताधारी भाजपा की बहु प्रचारित बैठक जिस में उपस्थित पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को गिनने लग जाओ तो कार्यकर्ता कम पड़ जाएंगे और अंगुलियां ज्यादा हो जाएगी।

  • भाजपा मंडलों की बैठकों में आए गिनती के कार्यकर्ता उपेक्षित गुट ने पदाधिकारियों को ठहराया जिम्मेदार
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Abu Road

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×