• Hindi News
  • Rajasthan
  • Abu Road
  • सफाई कर्मचारियों के झाड़ू डाउन का नतीजा, दूसरे दिन भी नहीं उठा कचरा, मुख्य मार्गों पर लगे गंदगी के ढेर

सफाई कर्मचारियों के झाड़ू डाउन का नतीजा, दूसरे दिन भी नहीं उठा कचरा, मुख्य मार्गों पर लगे गंदगी के ढेर / सफाई कर्मचारियों के झाड़ू डाउन का नतीजा, दूसरे दिन भी नहीं उठा कचरा, मुख्य मार्गों पर लगे गंदगी के ढेर

Bhaskar News Network

Jun 07, 2018, 02:00 AM IST

Abu Road News - सिरोही. शहर में दो दिन से सफाई नहीं होने से जगह-जगह लगे कचरे के ढेर से गंदगी फैल रह है। कचरा संग्रहण केंद्रों से...

सफाई कर्मचारियों के झाड़ू डाउन का नतीजा, दूसरे दिन भी नहीं उठा कचरा, मुख्य मार्गों पर लगे गंदगी के ढेर
सिरोही. शहर में दो दिन से सफाई नहीं होने से जगह-जगह लगे कचरे के ढेर से गंदगी फैल रह है।

कचरा संग्रहण केंद्रों से ही नहीं उठाया कचरा

आंदोलन के कारण गली-मोहल्लों में सफाई नहीं होना लाजिमी है। लेकिन, बड़ा सवाल यह है कि शहर में निर्धारित कचरा संग्रहण केंद्रों से भी कचरा नहीं उठाया गया। शहर के अतिव्यस्ततम पैलेस रोड स्थित सरकेएम स्कूल के बाहर गंदगी के ढेर पड़े रहे। घनी आबादी वाले सुनारवाड़ा क्षेत्र में बग्गीखाना के पास कचरा संग्रहण केंद्र की स्थिति सबसे खराब रही। यहां कचरा संग्रहण पूरा भरने से गंदगी मार्ग में फैली हुई थी, जिससे लोगों का यहां से गुजरना भी मुश्किल हो गया।

नगरपरिषद ने नहीं की वैकल्पिक व्यवस्था

वाल्मीकि समाज ने मंगलवार को झाडू डाउन आंदोलन की चेतावनी पखवाड़ेभर पहले दी थी। आंदोलन से एक दिन पहले पुलिस व प्रशासन से भी रैली की अनुमति ली थी। बावजूद इसके प्रशासन ने शहर में सफाई के लिए कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की, जिसकी वजह से शहर की सफाई व्यवस्था बिगड़ गई। दूसरे दिन तक शहर में जगह-जगह कचरे के ढेर पड़े रहे। यदि वाल्मीकि समाज का आंदोलन आगे भी जारी रहा तो मुश्किलें बढ़ जाएगी।

जिले की पांचों निकायों में 185 पदों पर होनी है भर्ती

जिले में सिरोही नगर परिषद समेत पांचों नगर निकायों में कुल 185 सफाई कर्मचारी नियुक्त होंगे। इसमें सबसे ज्यादा माउंट आबू में 51 सफाई कर्मचारियों की भर्ती होगी। इसके अलावा सिरोही नगर परिषद में 49, आबूरोड में 26, पिंडवाड़ा 19 और शिवगंज में 40 सफाई कर्मचारी नियुक्त होंगे। नगर निकायों ने भर्ती प्रक्रिया के आवेदन जमा कर लिए है। आवेदन व दस्तावेजों की जांच के बाद चयनित अभ्यर्थियों को लॉटरी पद्धति से नियुक्ति दी जाएगी।

39229 की आबादी, कर्मचारी 104

नगर परिषद क्षेत्र के कुल 25 वार्ड में 39 हजार 229 की जनसंख्या पर अभी 104 सफाई कर्मचारी नियुक्त हैं। अब 49 सफाई कर्मचारियों की नियुक्ति को लेकर भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई है। नियुक्ति के बाद कुल 155 पदों में से 153 सफाई कर्मचारी नियुक्त होंगे। ऐसे में 256 लोगों पर एक सफाई कर्मचारी होगा। इसके बाद शेष 2 रिक्त पदों पर भी नियुक्त की प्रक्रिया शुरू होगी। सफाई के हिसाब से नगर परिषद ने शहर को चार जोन में बांटा है। जिसमें ए और डी जोन में सफाई कर्मचारी काम करते हैं, जबकि बी और सी में ठेके के कर्मचारी सफाई करते हैं।

इसलिए वाल्मीकि समाज ने नहीं की सफाई

नगर निकाय सफाई कर्मचारी भर्ती में वाल्मीकि समाज के अलावा अन्य वर्गों के आवेदन भी स्वीकार किए गए है। सफाई कर्मचारी भर्ती में आवेदनों की जांच के बाद पात्र आवेदकों का लॉटरी निकाल कर चयन किया जाएगा। जिस पर वाल्मिकी समाज को आपत्ति है। सफाई कर्मचारी भर्ती में एक साल का अनुभव मांगा गया है। वाल्मीकि समाज का कहना है कि अन्य वर्गों के लोगों के पास अनुभव प्रमाण पत्र जाली होने का अंदेशा है।


सफाई कर्मचारियों के झाड़ू डाउन का नतीजा, दूसरे दिन भी नहीं उठा कचरा, मुख्य मार्गों पर लगे गंदगी के ढेर
X
सफाई कर्मचारियों के झाड़ू डाउन का नतीजा, दूसरे दिन भी नहीं उठा कचरा, मुख्य मार्गों पर लगे गंदगी के ढेर
सफाई कर्मचारियों के झाड़ू डाउन का नतीजा, दूसरे दिन भी नहीं उठा कचरा, मुख्य मार्गों पर लगे गंदगी के ढेर
COMMENT