• Home
  • Rajasthan News
  • Abu Road News
  • सनवाड़ा आर में अकीदत से मनाया अहमदशाह वली का सालाना उर्स
--Advertisement--

सनवाड़ा आर में अकीदत से मनाया अहमदशाह वली का सालाना उर्स

रोहिड़ा. कार्यक्रम में प्रस्तुति देते कलाकार तथा मौजूद अकीदतमंद। भास्कर न्यूज | रोहिड़ा समीपवर्ती सनवाड़ा...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 02:10 AM IST
रोहिड़ा. कार्यक्रम में प्रस्तुति देते कलाकार तथा मौजूद अकीदतमंद।

भास्कर न्यूज | रोहिड़ा

समीपवर्ती सनवाड़ा आर में सोमवार रात को हजरत सैयद अहमदशाह वली का सालाना उर्स अकीदत के साथ मनाया गया। इस मौके रेडियों टीवी गायक अब्दुल हबीब अजमेरी नागपुर व राहत चिश्ती रेडियों टीवी सिंगर मुम्बई में मुकाबला-ए-कव्वाली पेश कर कौमी एकता की एक से बढकर एक कव्वाली प्रस्तुत की। कव्वाली का आगाज गायक अब्दुल हबीब अजमेरी ने हजरत सैयद अहमदशाह पर सजदे में कव्वाली पेश करते हुए की गई। उन्होंने हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई की जो सुनता है, कौन भूखा है कौन प्यासा है सब का ख्याल एक ही परवर दिगार रखता है... कव्वाली पेश कर खूब वाह वाहीं लूटी। वहीं टीवी कलाकार राहत चिश्ती ने कव्वाली पेश करते हुए कहां ‘खाली है सब की झोली भरते उसे ख्वाजा... पेश कर वहां मौजूद लोगों की वाह वाही लूटी।

कार्यक्रम में ये रहे मौजूद : कार्यक्रम में कमेटी के सलीम पठान रोहिड़ा सदर, हनीफ खान मंसूरी, रफीक मंसूरी, अख्तर खान महावत, नौसाद कुरैशी, दरगाह खादीम कासीम बाबू, सिकंदर खान मकरानी, कमालुद्दीन मंसूरी, हाजी मुस्ताक अहमद नागौरी, ईकबाल खान मंसूरी, सरूपगंज सदर जवालाराम मौसला, मोबीन, रहिश खान एडवोकेट, दिलावर पठान, भूला सरपंच कन्हैयालाल अग्रवाल, विनोद दवे उपप्रधान, थानाप्रभारी नरसीराम, आबूरोड सदर थाने के साबीर सिलावट, उपसरपंच रोहिड़ा रामसिंह सिसोदिया, प्रवीण कुमार समेत काफी संख्या में लोग मौजूद थे। कार्यक्रम से पूर्व सभी अतिथियों का स्वागत किया।

कौमी एकता का दिया परिचय

कव्वाल अब्दुल हबीब अजमेरी ने कौमी एकता की मिशाल देते हुए कुरान के पाक की सत्ताईसवीं आयत के बारे में बोलते हुए कहा कि राम रहिम के चाहने वाले आपस में भाई चारा रखना सिखना है तो एक परिंदे से खिखो..., वह मस्जिद पर दाना चुगता है तथा मंदिर पर जाकर पानी पिता है, मंदिर मस्जिद तो हम बना बैठे परिंदों में नहीं है जात पात...। इसके बाद उन्होंने पवित्रता के बारे में बोलते हुए कहा कि गंगा का पानी तुम भी पियों हम भी पिए वहां न जात देखी न पात देखी...। वही सालाना उर्स पर रविवार को मिलाद शरीफ कार्यक्रम आयोजित किया गया।