--Advertisement--

मानवता की सेवा को बताया सच्ची सेवा

माउंट आबू. ब्रह्माकुमारी संस्थान में आयोजित कार्यक्रम में मंचासीन अतिथि। फोटो : भास्कर भास्कर न्यूज | आबूरोड ...

Dainik Bhaskar

May 21, 2018, 02:10 AM IST
मानवता की सेवा को बताया सच्ची सेवा
माउंट आबू. ब्रह्माकुमारी संस्थान में आयोजित कार्यक्रम में मंचासीन अतिथि। फोटो : भास्कर

भास्कर न्यूज | आबूरोड

केंद्रीय विद्यालय संगठन के कमिश्नर संतोष कुमार माल ने कहा कि मानवीय मूल्य सच्चे सेवक की शोभा हैं। मूल्यों को ताक में रखकर किए गए कार्य जीवन भर अपराधबोध का अनुभव कराते हैं। वे रविवार को प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के ज्ञान सरोवर अकादमी परिसर में राष्ट्रीय शिक्षा सम्मेलन में देश भर से आए सहभागियों को संबोधित कर रहे थे। इस मौके नई दिल्ली सेल एनएसएस इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय अध्यक्ष प्रो. बीवीआर रेड्डी ने कहा कि शिक्षा का महत्व बच्चों के स्कूल बैग के वजन से नहीं बल्कि उनके आंतरिक निर्माण से आंका जाना चाहिए। वारंगल राष्ट्रीय प्रौद्योगिक संस्थान निदेशक प्रो. एनवी रमनराव ने कहा कि मूल्यविहीन शिक्षा से बौद्धिक विकास तो होता है लेकिन संस्कारों को श्रेष्ठ बनाना, राष्ट्रहित में योगदान देने को प्रेरित करने के लिए मूल्यों से परिपूर्ण शिक्षा का होना आवश्यक है। शिक्षा प्रभाग राष्ट्रीय संयोजक हरीश शुक्ला ने कहा कि मूल्यों की गिरावट के माहौल में मनुष्य अपनी पहचान कैसे बरकरार रखे इस पर चिंतन की आवश्यकता है। आंधप्रदेश नगर आयुक्त सीएम रेड्डी ने कहा कि मूल्यों की पुनर्स्थापना के लिए नैतिक व आध्यात्मिक शिक्षा पर हर संभव बल दिया जाना आवश्यक है। कार्यक्रम में शिक्षा प्रभाग अधिशासी सदस्य, राजयोग शिक्षिका सीमा चोपड़ा, राजयोग प्रशिक्षिका नेहा व चित्रा ने भी विचार व्यक्त किए।

X
मानवता की सेवा को बताया सच्ची सेवा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..