--Advertisement--

एक कचरा पात्र का मामला पहुंचा न्यायालय

अजीतगढ़| स्थानीय ग्राम पंचायत द्वारा लगाए गए एक कचरा पात्र का मामला तूल पकड़ते हुए गत दिनों श्रीमाधोपुर विकास...

Danik Bhaskar | Feb 11, 2018, 02:05 AM IST
अजीतगढ़| स्थानीय ग्राम पंचायत द्वारा लगाए गए एक कचरा पात्र का मामला तूल पकड़ते हुए गत दिनों श्रीमाधोपुर विकास अधिकारी द्वारा उसे हटाने के आदेश के विरूद्व ग्राम पंचायत ने श्रीमाधोपुर सिविल न्यायालय में वाद दायर कर दिया। शुक्रवार को न्यायालय ने वाद को पंचायतीराज अधिनियम के तहत होकर सिविल न्यायालय के क्षेत्राधिकार से बहार का बता कर खारिज कर दिया। जानकारी मुताबिक ग्राम पंचायत ने अक्टूबर 2017 में आयोजित ग्राम सभा में मुख्य बाजारों में कचरा पात्र लगाने के लिए स्थान चिन्हित करके कचरा पात्र लगाए थे। इसके एक कचरा पात्र राजकीय प्रवेशिका संस्कृत स्कूल के बाहर च्वाईस गारमेंट्स के पास लगा दिया। जिसको गलत बता कर हटाने के लिए दुकान संचालक हेमंत पारीक ने राजस्थान संपर्क पोर्टल पर शिकायत के अलावा, विकास अधिकारी, जिला कलेक्टर तक लिखित शिकायत दर्ज करवाई कि ग्राम पंचायत राजनीतिक द्वेषता रखते हुए उसकी दुकान के पास कचरा पात्र लगा दिया है।