Hindi News »Rajasthan »Ajitgarh» किसान नेता अमराराम के साथ 24 किसान जेल गए, जयपुर कूच जारी रखने का ऐलान, कस्बों में बाजार बंद, पुतले फूंके

किसान नेता अमराराम के साथ 24 किसान जेल गए, जयपुर कूच जारी रखने का ऐलान, कस्बों में बाजार बंद, पुतले फूंके

जयपुर जेल जाते समय बस में बैठे किसान नेता अमराराम राम ने बातचीत में कहा कि किसान सभा के सभी आंदोलन शांति पूर्ण ढंग...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 22, 2018, 04:10 AM IST

किसान नेता अमराराम के साथ 24 किसान जेल गए, जयपुर कूच जारी रखने का ऐलान, कस्बों में बाजार बंद, पुतले फूंके
जयपुर जेल जाते समय बस में बैठे किसान नेता अमराराम राम ने बातचीत में कहा कि किसान सभा के सभी आंदोलन शांति पूर्ण ढंग से चलाए गए हैं। राजस्थान के इतिहास में यह पहला अवसर है जब राज्य की भाजपा सरकार किसानों को जयपुर जाने से रोकने और उन्हें गिरफ्तार करने का कार्य कर रही है। यह लोकतंत्र की हत्या है। उन्होंने बताया कि 22 फरवरी को जयपुर कूच का कार्यक्रम जारी रहेगा।

सरकार ने हमें गिरफ्तार कर लोकतंत्र की हत्या की है

अजीतगढ़. स्थानीय उपतहसील कार्यालय के सामने मुख्यमंत्री को पूतला जलाकर विरोध करते महिला नौजवान सभा एवं मजदूर संगठनों के लोग।

कर्जमाफी सहित अनेक मांगों पर सरकार की वादा खिलाफी का विरोध

अजीतगढ़| कर्जमाफी समेत अनेक मांगों पर सरकार की वादा खिलाफी का विरोध करते हुए अखिल भारतीय किसान सभा समेत अनेक संगठनों के नेताओं की गिरफ्तारी से गुस्साएं महिला नौजवान सभा एवं मजदूरों ने बुधवार को अजीतगढ़ उपतहसील कार्यालय एवं पंचायत कार्यालय का घेराव कर प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री के नाम नायब तहसीलदार केदारनाथ सैनी को ज्ञापन सौंप कर सीएम का पुतला फूंका। कर्जमाफी समेत अनेक मांगों को लेकर गत वर्ष आन्दोलन के बाद सरकार ने कर्जमाफी के संबंध में आश्वासन दिया था, बजट भाषण में किसानों के सहकारी समितियों के 50 हजार रुपए के ऋण माफ करने तथा किसानों को उनके उपज समेत अन्य मांगों पर कोई गौर नहीं करने पर अखिल भारतीय किसान सभा समेत अनेक संगठनों ने 22 फरवरी को जयपुर कूच कर विधानसभा का घेराव करना प्रस्तावित किया। नायब तहसीलदार केदारनाथ सैनी को प्रदर्शनकारियों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप कर गिरफ्तारियों को बंद करने एवं किसानों की मांगों को शीघ्र लागू करने की मांग की। चेतावनी दी कि अगर सरकार दमनकारी नीति से बाज नहीं आई तो महिलाओं को इस आन्दोलन में कूदना पड़ेगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ajitgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×