--Advertisement--

नागौर: डीडवाना में बस के इंतजार में खड़ेे पिता-पुत्र और चाचा को ट्राॅला ने कुचला, इधर, केराप में मामा-भांजी की वाहन की टक्कर से मौत

हादसे से आक्रोशित लोगों ने लगाया जाम

Danik Bhaskar | Aug 22, 2018, 05:42 AM IST
हादसे के बाद गुस्साए ग्रामीणो हादसे के बाद गुस्साए ग्रामीणो

डीडवाना (नागौर). नागौर जिले के डीडवाना इलाके में सालासर रोड पर खींवज की प्याऊ के पास बस का इंतजार कर रहे तीन लोगों को मंगलवार को एक ट्रोले ने कुचल दिया। इससे तीनों की मौत हो गई। मरने वालों में पिता-पुत्र और चाचा शामिल हैं। वहीं, केराप गांव में दो रामदेवरा जातरुओं को किसी वाहन ने टक्कर मार दी। हादसे में दोनों की मौत हो गई। वे दोनों मामा-भांजी थे।
पुलिस के अनुसार, सुबह करीब 9 बजे खींवज की प्याऊ के पास बस स्टैंड पर गांव ध्यावा निवासी जगदीश (38) पुत्र भगवानाराम, रामसुख (20) पुत्र जगदीश बस स्टैंड पर खड़े थे। वे बस का इंतजार कर रहे जगदीश के चाचा सुरजाराम (55) पुत्र सोनाराम से बातें कर रहे थे। इस दौरान डीडवाना से तेज गति से आ रहे ट्रोले के चालक ने लापरवाही से वाहन चलाते हुए तीनों को कुचल दिया। ट्रोले की टक्कर से तीनों उछलकर अलग-अलग दिशा में उछलकर गिर गए। सुरजाराम और रामसुख की मौके पर ही मौत हो गई। जगदीश को उपचार के लिए डीडवाना के राजकीय बांगड़ अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

इधर, धौलपुर में भी हादसा, आगरा से लौट रहे तीन दोस्तों की कार ट्रैक्टर में घुसी, दो की मौत : आगरा से सामान खरीद कर लौट रहे इनोवा सवार दो युवकों की हादसे में मौत हो गई जबकि एक घायल हो गया। सदर थाने के एएसआई छिद्धा सिंह ने बताया कि बाड़ी कस्बे के रहने वाला राम भजन पुत्र कन्हैयालाल अपने दोस्त पुष्पेंद्र पुत्र भगवान स्वरूप और रामदास पुत्र श्यामलाल के साथ आगरा गया था। वापस लौटते समय देर रात को निभी के ताल के पास कार ट्रैक्टर में घुस गई। हादसे में राम भजन और पुष्पेंद्र की मौके पर ही मौत हो गई। रामदास गंभीर रूप से घायल हो गया।