--Advertisement--

Phd. पूरी कर साइकिल पर निकला ये शख्स, कर चुका 11 हजार किमी का सफर

अजमेर पहुंचे चेक रिपब्लिक के डेनियल स्मिट ने कहा-भारत अन्य देशों से ज्यादा खूबसूरत।

Danik Bhaskar | Dec 04, 2017, 08:58 AM IST
डेनियल बायो फिजिक्स में पीएचड डेनियल बायो फिजिक्स में पीएचड

अजमेर. इस साल 15 मई को पीएचडी पूरी हुई और 19 मई को साइकिल लेकर निकल गया दुनिया की सैर करने। रशिया, सेंट्रल एशिया, उज्बेकिस्तान, कजाकिस्तान होते हुए 25 नवंबर को भारत पहुंचे चेक रिपब्लिक के डेनियल स्मिट को भारत बहुत अच्छा लगता है। वे यहां की मसालेदार चाय और पनीर से बनी डिश के शौकीन हैं। अब तक करीब 11 हजार किलोमीटर साइकिल चला चुके डेनियल बायो फिजिक्स में पीएचडी और न्यूरो साइंटिस्ट हैं। साल 2012 से साइकिल पर सैर करने का प्लान बना रखा था, इस बीच फ्लाइट में इंडिया घूमकर भी चले गए। लेकिन इस साल मई में पीएचडी पूरी होने के चार दिन बाद भी साइकिल उठाई, जरूरत के सामान का बैग बांधा और निकल गए।

भारत की संस्कृति अजीब, धर्म अलग पर दिखे साथ

- डेनियल ने भारत के लोगों को देख आश्चर्य व्यक्त किया। उसने बताया कि वह भारतीय लोगों से काफी प्रभावित हैं। कुछ लोग मंदिर जाते हैं, कुछ मस्जिद, कुछ गुरुद्वारा और कुछ चर्च। सभी अलग-अलग धर्म के लोग हैं, लेकिन रहते साथ हैं।

- उसने कहा कि मुझे नहीं पता कि यहां लोगों में कितना भाईचारा है, लेकिन जब यहां लोगों को देखता हूं तो यकीन नहीं होता कि अलग-अलग धर्मों के लोगों में इतना प्रेम कैसे है? उसने बताया कि इसीलिए उसे भारत आना पसंद है, वह यहां आया हुआ है, लेकिन कुछ अलग सा महसूस नहीं हो रहा, कोई तकलीफ नहीं हो रही।

अन्य देशों से अच्छे हैं यहां के लोग
भारतीयों की तारीफ में उसने कहा कि यहां के लोग मिलनसार और मददगार हैं। रशिया में लोग अपने काम से काम रखते हैं, उनमें अपनापन नहीं है। जबकि भारत में काफी अपनापन है, यहां के लोग काफी अच्छे हैं। साइकिल चलाते वक्त रास्ते में लोगों ने मुझे रुकवाकर मेरे साथ सेल्फी ली, मुझे बहुत अच्छा लगा।

चाय का दीवाना, पनीर की डिश पसंद
राजस्थानी खाना पसंद है, लेकिन यहां पनीर से बनने वाले विभिन्न व्यंजन ज्यादा अच्छे लगते हैं। डेनियल चाय का दीवाना है, उसे यहां की मसाला चाय काफी पसंद है। उसने बताया कि रशिया, कजाकिस्तान और भी अन्य जगह वह जहां भी घूमा, अलग-अलग अंदाज में कहीं ब्लैक टी तो कहीं हर्बल टी मिली, लेकिन भारत में दूध के साथ बनी चाय और उसमें अदरक, इलाइची आदि का मसाला उसे काफी पसंद आया।

हाइवे अच्छे, पर दिल्ली के प्रदूषण ने किया बीमार

डेनियल ने बताया कि भारत के हाइवे अच्छे हैं। यहां लोग कायदे से भी चलते हैं। अन्य देशों में कई जगह सड़क पर जानवर तक आ जाते हैं, लेकिन यहां इतने दिन हो गए साइकिल चलाते, कभी भी ऐसा नहीं लगा। उसने बताया कि दिल्ली में प्रदूषण बहुत है। उससे वह बीमार भी हो गया था।


अजमेर में दोस्त के घर रुका है, अब जाएगा गुजरात
- डेनियल अजमेर में उसके फ्रेंड गणेश नगर निवासी फरहान रिजवी के घर रुका है। फरहान ने बताया कि काउच सर्फिंग डॉट कॉम से वे फ्रेंड बने। इस साइट से जुड़ा अन्य देश से कोई भी फ्रेंड यहां आता है, तो वे उन्हें अपने घर ठहराते हैं। इससे पहले तीन फ्रेंड नीदरलैंड, इटली और स्पेन से भी उनके यहां आए थे।

- डेनियल अल्माती कजाकिस्तान से फ्लाइट में दिल्ली एयरपोर्ट उतरा। वहां से जयपुर होते हुए साइकिल पर अजमेर आया। अब भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, उदयपुर हाेते हुए अन्य राज्यों में घूमेगा। एक साल बाद उसका वापस अपने देश लौटने का प्लान है। अपनी यात्रा का अंतिम देश जापान रहेगा।