--Advertisement--

मंत्री-विधायकों के बेलगाम बोल, उपचुनाव में BJP को उठाना पड़ सकता है नुकसान

Dainik Bhaskar

Dec 27, 2017, 07:45 AM IST

भाजपा के नेता आए दिन बेलगाम बयानों की हदें पार करते जा रहे हैं।

ज्ञानदेव ने गौतस्करी का मुद्दा गरमाया ज्ञानदेव ने गौतस्करी का मुद्दा गरमाया

जयपुर. कड़े अनुशासन का पालन करने की बातें भारतीय जनता पार्टी में हवा हो रही है। कैडरबेस पार्टी के प्रदेश नेतृत्व की ओर से हर विवाद को हल्के में लेने और अनुशासनहीनता को लगातार बर्दाश्त करने का ही नतीजा है कि भाजपा के नेता आए दिन बेलगाम बयानों की हदें पार करते जा रहे हैं। संगठन के आम पदाधिकारी की तो बात छोड़िए मंत्री-विधायक और खुद प्रदेश अध्यक्ष तक अपने बयानों की वजह से पार्टी की फजीहत करा चुके हैं।

हालात ये है कि चुनाव सिर पर है और विवादित बयान देने वालों पर संगठन स्तर पर कार्रवाई नहीं होने के कारण ये सिलसिला रुक नहीं पा रहा है। ताजा विवाद भाजपा विधायक ज्ञानदेव आहूजा और सामान्य प्रशासन विभाग के मंत्री हेमसिंह भडाना के बयानों से उभरा है। ये तब है जब अलवर, अजमेर और मांडलगढ़ में उपचुनाव होने वाले हैं और पार्टी को इन बयानों के कारण नुकसान उठाना पड़ सकता है।


कई जिलों में संगठन के स्तर पर बार-बार खींचतान

संगठन के स्तर पर पार्टी में कोटा, जोधपुर, अलवर, भरतपुर, सीकर, बाड़मेर और अजमेर में नेताओं की खींचतान आए दिन सामने आ रही है। इन जिलों में पार्टी नेताओं में चल रहे मनमुटाव को खत्म करने की दिशा में कोई एक्शन नहीं लेने का ही नतीजा है कि स्थानीय स्तर पर होने वाली बैठकों में भी नोंकझोंक की घटनाएं आम हो रही हैं।

ज्ञानदेव ने गौतस्करी का मुद्दा गरमाया
अलवर में गौतस्करी की घटनाओं पर कई हत्याएं हो चुकी हैं। आए दिन गोवंश को लेकर प्रशासन और जनता से गौतस्करों की झड़पें होती रही है। ऐसी घटनाओं को लेकर हाल ही रामगढ़ विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने कहा है कि गौतस्करी करोगे तो यूं ही मारे जाओगे। उनका यह बयान अलवर ही नहीं देशभर में गूंज रहा है।


भडाना के पुत्रों का विवाद गहराया
राज्य सरकार में सामान्य प्रशासन विभाग के मंत्री और भाजपा विधायक हेमसिंह भडाना इन दिनों मारपीट के मामले में अपने पुत्रों पर दर्ज हुई एफआईआर को लेकर विवादों में है। आरोप लग रहे हैं कि मंत्री पुत्रों पर प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा। हाल ही उनका एक वीडियो सामने आया है जिसमें वे स्थानीय भाषा में कहते सुने जा रहे हैं कि पीटेंगे नहीं तो क्या करेंगे?


खुद के पुतले फुंकवा चुके परनामी
पार्टी के नेताओं की अनुशाासनहीनता पर कार्रवाई की जिम्मेदारी जिन भाजपा अध्यक्ष अशोक परनामी पर हैं, वे खुद विवादित बयान देकर पार्टी की किरकिरी कर चुके हैं। पार्क में निर्माण को लेकर वे जनता के बीच कह चुके हैं कि हाईकोर्ट की निर्माण पर रोक है लेकिन आप काम शुरू करो हम आंखें बंद कर लेंगे। उनके इस बयान के बाद कांग्रेस उनके जगह-जगह पुतले फूंक चुकी है।

कई बार तंज कस चुके राजावत

कोटा से विधायक भवानीसिंह राजावत अपनी ही सरकार के खिलाफ कई बार गुस्सा जाहिर कर चुके हैं। नोटबंदी पर उन्होंने केंद्र सरकार पर अडानी-अंबानी जैसे उद्योगपतियों का हवाला देकर हमला बोला था। वहीं केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से लेकर राज्य के चिकित्सा मंत्री पर भी वे विवादित बयान दे चुके हैं।


राजवी, तिवाड़ी बार-बार दिखा रहे आंख

जयपुर में भाजपा के वरिष्ठ विधायक घनश्याम तिवाड़ी पिछले चार साल से न सिर्फ पार्टी की बैठकों से लगातार गैर हाजिर रहे बल्कि समानांतर संगठन दीनदयाल वाहिनी के बैनर तले पूरे प्रदेश में सरकार के खिलाफ आंदोलन छेड़े हुए हैं। अब तो वे यह भी घोषणा कर चुके हैं कि जल्द ही अलग से पार्टी खड़ी करेंगे। इसके बावजूद उन पर पार्टी की ओर से अनुशासन के नाम पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। विधायक नरपत सिंह राजवी भी जब चाहे पार्टी को आंख दिखाते रहते हैं। वे भाजपा मुख्यालय पर धरना तक दे चुके हैं।


चौधरी के बयान को पार्टी ने ही भुनाया

बायतू विधायक कैलाश चौधरी का राहुल गांधी को गोली मार देने जैसा बयान काफी विवादों में रहा। पार्टी की ओर से उनको नसीहत देने के बजाय कई जिलों में उनके कार्यक्रम आयोजित करवाकर उनके बयान को राजनीतिक रूप से भुनाया गया।


करौली में भिड़ गए थे सांसद और विधायक
करौली में कलेक्टर के चैंबर में प्रभारी मंत्री जसवंत सिंह यादव के सामने सांसद मनोज राजोरिया और विधायक राजकुमारी के बीच गाली-गलौज की घटना चर्चाओं में रही। इस घटना का वीडियो भी वायरल हो गया था।

भडाना के पुत्रों का विवाद गहराया भडाना के पुत्रों का विवाद गहराया
खुद के पुतले फुंकवा चुके परनामी खुद के पुतले फुंकवा चुके परनामी
X
ज्ञानदेव ने गौतस्करी का मुद्दा गरमायाज्ञानदेव ने गौतस्करी का मुद्दा गरमाया
भडाना के पुत्रों का विवाद गहरायाभडाना के पुत्रों का विवाद गहराया
खुद के पुतले फुंकवा चुके परनामीखुद के पुतले फुंकवा चुके परनामी
Astrology

Recommended

Click to listen..